बच्चों के साथ ब्यास पुल पर आत्महत्या करने पहुंच गया पिता

घरेलू परेशानी के चलते उठाने जा रहा था खौफनाक कदम, परिजनों ने पुलिस की मदद से किया काबू

नादौन –घरेलू परेशानी के कारण एक व्यक्ति ने बुधवार सुबह नादौन ब्यास पुल से अपने तीन बच्चों सहित आत्महत्या करने का प्रयास किया, जिसे आसपास के लोगों ने बड़ी कठिनाई से काबू कर शांत किया।  इसी दौरान सूचना मिलने पर तुरंत मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी नादौन प्रवीण राणा ने हालात पर काबू पाया। पीडि़त 32 वर्षीय राजकुमार निवासी भरेड के परिजनों ने बताया कि राजकुमार की पत्नी पिछले दो सालों से अलग रह रही है। इस कारण वह दिमागी तौर पर भी परेशान रहता है। बुधवार सुबह राजकुमार अपने बच्चों दिवेश चार वर्ष, स्मृति आठ वर्ष तथा मुस्कान दस वर्ष को साथ लेकर पैदल ही करीब 16 किलोमीटर की दूरी तय कर नादौन ब्यास पुल तक पहुंचा गया, जबकि घर में उसकी मां प्यार देवी तथा भाई शिव कुमार उसे व बच्चों को ढूंढते रहे। तब उन्हें किसी ने जानकारी दी कि राजकुमार को बच्चों सहित नादौन से चार किलोमीटर दूर कटोई गांव के पास पैदल चलते हुए देखा गया। जब परिजनों ने राजकुमार से बात की, तो उसने बताया कि वह बच्चों सहित पुल से छलांग लगाने जा रहा है। इसके बाद परिजन हिंदू जागरण मंच की प्रदेश वीरांगना प्रमुख उषा धीमान व अन्य ग्रामीणों सहित ब्यास पुल तक पहुंच गए। उन्होंने जब राजकुमार व बच्चों को पकड़ने का प्रयास किया, तो वह हिंसक हो गया, परंतु सूचना मिलने पर तुरंत मौके पर पहुंचे थाना प्रभारी नादौन प्रवीण राणा ने स्थिति को संभाल लिया और मझीण पुलिस चौकी तथा ज्वालाजी थाना में इसकी सूचना दी और राजकुमार व बच्चों को उनके हवाले किया। इस घटना के कारण पुल पर काफी देर अफरा-तफरी का माहौल रहा। राजकुमार की बहन मीना ने बताया कि उसका भाई बेहद गरीब है, जिसका विवाह 11 वर्ष पूर्व करमजीत कौर के साथ हुआ था, परंतु शुरू से ही दोनों के रिश्ते खराब रहे। करमजीत पहले भी यदि कहीं जाती थी, तो वह वापस घर आ जाती थी, लेकिन पिछले दो वर्ष से वह पंजाब में रह रही है, जबकि बच्चे अपने पिता के साथ ही हैं। एक तरफ तो वह पत्नी से परेशान है, वहीं पंचायत ने उसके परिवार को बीपीएल में नहीं डाला है। इस कारण उसे घर बनाने के लिए सरकार से मदद नहीं मिल पा रही है। इस संबंध में थाना प्रभारी प्रवीण राणा ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद तुरंत मौके पर पहुंच गए थे। राजकुमार की मानसिक हालत ठीक नहीं लग रही है। घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची मझीण पुलिस के हवाले उक्त परिवार सौंप दिया गया है।

You might also like