भरली कालेज में छात्रों का हल्ला बोल

नए भवन में कक्षाएं शुरू न करवाने पर  किया प्रदर्शन-नारेबाजी, एक हफ्ते का अल्टीमेट्म

पांवटा साहिब –उपमंडल पांवटा साहिब के गिरिपार क्षेत्र में स्थित राजकीय महाविद्यालय आंजभौज भरली के छात्रों ने प्रदेश की भाजपा सरकार के खिलाफ रोष रैली निकाल कर जमकर नारेबाजी की। छात्रों का कहना है कि महाविद्यालय की कक्षाएं पिछले पांच वर्षों से नघेता स्कूल के प्रांगण में मात्र तीन कमरों में चल रही हंै, जबकि नवनिर्मित महाविद्यालय परिसर अब तैयार हो चुका है। इस बाबत छात्रों ने प्रदेश सरकार के खिलाफ  रोष प्रकट करते हुए मांग की है कि यदि एक हफ्ते के अंदर महाविद्यालय को नए भवन में शिफ्ट नहीं किया गया तो अगले सप्ताह से छात्र भूख-हड़ताल पर बैठ जाएंगे और सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे, जिसकी जिम्मेदारी स्वयं सरकार की ही होगी। इसके साथ ही छात्रों ने मांग रखी है कि महाविद्यालय में अंग्रेजी विषय के प्राध्यापक नियमित रूप से नहीं रखे गए हैं, जिस बाबत पहले भी कई बार सरकार को अवगत करवाया गया है, परंतु अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है। तय कार्यक्रम के मुताबिक कालेज के छात्र नघेता से रोष रैली निकालते हुए भरली चौक पर एकत्रित हुए और सरकार के प्रति रोष रैली निकालते हुए नारेबाजी की। गौर हो कि महाविद्यालय की नींव वर्ष 2015 में रखी गई थी, लेकिन कछुआ गति से भवन निर्माण का कार्य चलाए जाने से अभी तक भी उसका कार्य पूर्ण नहीं हुआ है, जिसकी वजह से विद्यार्थी काफी दिक्कतें झेल रहे हैं। इस रोष प्रदर्शन में भाग लेने वाले रोहित चौहान, सपना चौहान, राकेश चौहान, हरीश चौहान, शुभम चौहान, ज्योति चौहान, पूजा धीमान, अंकित चौहान, शालू शर्मा, काजल पुंडीर, सिमरन शर्मा, शुभम भंडारी, रजत पुंडीर आदि ने बताया कि, जहां पांवटा साहिब और नाहन में करीब छह माह के अंदर भवन तैयार कर दिए जाते हैं, वहीं गिरिपार के आंजभौज क्षेत्र के इस कालेज के भवन को पूरा करने में वर्षों लगा दिए गए हैं। छात्रों ने कहा कि उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ करने की इस नीति के पीछे सरकार के क्या मंसूबे हैं यह  साफ  किया जाए, वरना आंदोलन तेज होगा।

 

You might also like