रामपुर के युवाओं ने जानी यूपीएससी

भारत विकास परिषद ने लगाया जागरूकता शिविर, कार्यक्रम में 40 छात्रों ने लिया भाग

रामपुर बुशहर –रामपुर के सत्यनारायण मंदिर परिसर में रविवार को भारत विकास परिषद शाखा रामपुर द्वारा संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित प्रतियोगी परिक्षाओं (आईएएस) के विषय बोध कार्यक्रम का आयोजन गया। इस कार्यक्रम में करीब चालीस छात्रों ने भाग लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ संकल्प संस्था दिल्ली के डा. सुरेंद्र घोनकरोत्रा व सेवानिवृत्त आईएएस ने सुबह 11 बजे दीप प्रज्जवलित कर किया गया। उनके साथ भारत विकास परिषद हिमाचल पूर्व अध्यक्ष सत्यावत्र भारद्धाज व चंद्रकांत पराशर भी मौजूद रहे। संस्था के अध्यक्ष पुनीत गुप्ता द्वारा सुरेंद्र को टोपी व शॉल देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के दौरान छात्रों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाब भी दिए गए और छात्रों ने इस कार्यक्रम में काफी रूचि ली। सुरेंद्र ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्ष 1984 में संकल्प संस्था का गठन किया गया था और तब से अब तक संस्था में हजारों छात्रों को संबंधित कोर्स करने के बारे में जानकारियां दी जा चुकी हैं। उन्होंने बताया कि हिमाचल में भी संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित प्रतियोगी परिक्षाओं को तैयारी करने के बारे में शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोई  भी छात्र सिविल सर्विस के लिए तैयारी कर सकता है और इसके लिए किसी छात्रों के ज्यादा नंबर होना भी जरूरी नहीं है। उन्होंने बताया कि सिविल सर्विस से समाज सेवा भी हो जाती है। क्योंकि सिविल सर्विस में आने के बाद सरकार की योजनाओं को सरकार के पैसे से आम जनता को लाभ दिया जा सकता है। सिविल सर्विस में आकर लोगों के व्यक्तित्व को जानने और उसका उद्देश्य जानने का मौका मिलता है। इस दौरान भारत विकास परिषद रामपुर शाखा अध्यक्ष पुनीत गुप्ता, पूर्व अध्यक्ष विनय शर्मा, राहुल देव शर्मा, जयंत अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, नितिश भारती, दीपक बंसल, दिनेश अग्रवाल, ललित भारती के अलावा अन्य सदस्य भी मौजूद रहे।

 

You might also like