सरकारी सीमेंट भी बेचते थे सरिया चोर

150 रुपए में खरीद कर आगे इसे 190 रुपए में बेचते थे शातिर; पुलिस कार्रवाई से चोर गिरोह में मचा हड़कंप, छानबीन में जुटी खाकी

गगरेट-उपमंडल गगरेट के दियोली गांव में लोक निर्माण विभाग के निर्माणाधीन रेन शेल्टर के लिए एक ठेकेदार द्वारा रखे गए सरिया को चुराने के बाद पुलिस की सक्रियता से चोर गिरोह में हड़कंप मच गया है। पुलिस सूत्रों की मानें तो इस मामले में अभी और गिरफ्तारियां भी हो सकती हैं। इसी बीच खबर यह भी है कि पुलिस गिरफ्तारी से बचने के लिए चोर गिरोह के कई सदस्य अग्रिम जमानत हासिल करने की फिराक में हैं। वहीं, पुलिस द्वारा सरिए के साथ बरामद किए गए सीमेंट के मामले में भी अहम खुलासे हुए हैं। पता चला है कि चोर गिरोह के सदस्य एक व्यक्ति से सरकारी सीमेंट 150 रुपए में खरीद कर आगे इसे 190 रुपए में बेच दिया करते थे। सरिया चोरी के इस मामले में पुलिस द्वारा आरोपियों को बुधवार को न्यायालय में पेश कर इनका पांच दिन का पुलिस रिमांड भी मांगा गया है। सरिया चोरी मामले में पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपियों में एक आरोपी नाबालिग निकला और उसने यह खुलासा भी किया है कि जल शक्ति विभाग में कार्यरत जिस आरोपी को बचाने का प्रयास किया जा रहा है वह भी चोरी की इस वारदात में शामिल है। चोर गिरोह के सदस्यों ने सरिया चोरी कर जिस व्यक्ति को बेचा था पुलिस ने उसे भी चोरी का माल खरीदने की एवं में गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले भी चोर गिरोह के सदस्यों ने एक व्यक्ति से सरकारी सीमेंट 150 रुपए में खरीद कर इसी व्यक्ति को 190 रुपए प्रति बैग के हिसाब से बेचा था। पुलिस ने सरकारी सीमेंट की पलटी करके रखी गई छह बैग भी बरामद कर लिए हैं और जिस व्यक्ति ने सरकारी सीमेंट खरीदा था उसे भी पुलिस ने थाने तलब किया है। पुलिस को उम्मीद है कि चोर गिरोह से गहन पूछताछ करने पर क्षेत्र में हुई चोरी की कई अन्य घटनाओं से भी पर्दा उठ सकता है। इस मामले में पुलिस को तीन अन्य आरोपियों की भी तलाश है। इनमें से एक आरोपी जल शक्ति विभाग में कार्यरत है। पुलिस का दावा है कि वहीं, इस गिरोह का सरगना है। चोरी के इस मामले में पकड़े गए नाबालिग आरोपी को जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया जा रहा है। जबकि चोरी का माल खरीदने वाले विवेक कुमार निवासी घनारी, सरिया चोरी करने के आरोपी रविकांत निवासी घनारी व कुलविंद्र सिंह निवासी दियोली को बुधवार को न्यायालय में पेश कर इनका पांच दिन का पुलिस रिमांड पुलिस द्वारा मांगा गया है। वहीं, उपमंडल गगरेट के बड़ोह गांव में एक घर से सामान चुराने के आरोपी पुनीत व मोहित को भी बुधवार को न्यायालय में पेश कर पुलिस ने पांच दिन के पुलिस रिमांड की मांग की है। पुनीत पर इससे पहले भी चोरी के आठ मामले दर्ज हैं और पुलिस अब इसे हिस्ट्री शीटर बनाने जा रही है। पुलिस को उम्मीद है कि इनसे भी गहन पूछताछ करने पर चोरी के कई अन्य मामलों का पटाक्षेप हो सकता है।

डीएसपी बोले, जल्द उठेगा पर्दा

डीएसपी मनोज जम्वाल का कहना है कि चोरी के आरोपियों का पुलिस रिमांड हासिल करने के बाद इनसे गहन पूछताछ की जाएगी,  ताकि क्षेत्र में हुई अन्य चोरी की घटनाओं से पर्दा उठ सके।

You might also like