80 करोड़ लोगों को 3 रुपए किलो चावल

नई दिल्ली – देश में बढ़़ते कोरोना के प्रकोप के बीच बुधवार को केंद्र की मोदी सरकार ने लोगों के राशन को लेकर बड़ा ऐलान किया। बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के 80 करोड़ लोगों को सस्ती दर पर अनाज देने का फैसला किया गया। कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस कान्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि देश के 80 करोड़ लोगों सस्ते दर पर राशन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश के 80 करोड़ लोगों को महीने में सात किलो प्रति व्यक्ति राशन देगी और वो भी तीन महीने के लिए एडवांस। प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार ने 80 करोड़ लोगों को 27 रुपए प्रति किलो वाला गेहूं मात्र दो रुपए प्रति किलोग्राम में और 37 रुपए किलोग्राम वाला चावल तीन रुपए प्रति किलोग्राम में देने का फैसला किया है। इस पर एक लाख 80 हजार करोड़ रुपए खर्च हो रहे हैं। यह तीन महीने के लिए राज्यों को एडवांस में दिया जाएगा। कोरोना वायरस पर प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कोरोना के सक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाकर रखें। किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें और हेल्थ मिनिस्ट्री की वेबसाइट पर सारी जानकारी लेते रहें। उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस की महामारी के मद्देनजर बुधवार को अपने सहयोगियों से दूरी अपनाते हुए मंत्रिमंडल की बैठक की। मंगलवार की मध्यरात्रि से पूरे देश में 21 दिनों के ‘लॉकडाउन’ के बाद मंत्रिमंडल की यह पहली बैठक थी। बैठक के दौरान प्रधानमंत्री समेत सभी मंत्री एक-एक मीटर की दूरी पर बैठे थे।

पत्रकार-डॉक्टरों को सताना सही नहीं

सरकार ने डॉक्टरों और पत्रकारों को लॉकडाउन के दौरान काम पर जाने के कारण संक्रमण के दायरे में आने के भय से घर खाली कराने की घटनाओं पर चिंता जाहिर करते हुए लोगों से इस तरह का व्यवहार नहीं करने का आग्रह किया है।

 

You might also like