एनआईटी हमीरपुर के मेधावी नवाजे 

By: Jan 19th, 2021 12:02 am

राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला बना पहला संस्थान

नीलकांत भारद्वाज— हमीरपुर

राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) हमीरपुर का 11वां दीक्षांत समारोह सोमवार को ऑनलाइन आयोजित किया गया। इस अवसर पर शिक्षा मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक बतौर मुख्यातिथि एवं वित्त और कॉर्पोरेट कार्य राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर वशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। दीक्षांत समारोह में वर्ष 2020 में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को 1026 उपाधियां प्रदान की गईं। दीक्षांत समारोह, शैक्षणिक शोभायात्रा के आगमन एवं वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ सुबह 11 बजे प्रारंभ हुआ। शिक्षा मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक ने उपाधि प्राप्त करने वाले सभी छात्रों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि एनआईटी हमीरपुर ने शिक्षा, अनुसंधान और विकास के मोर्चे पर अच्छा काम किया है। उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 पर राष्ट्रीय स्तर के वेबिनार के आयोजन और संस्थान में न्यू एजुकेशन पॉलिसी 2020 के प्रावधानों को लागू करने के लिए देश का पहला संस्थान बनने के लिए संस्थान के निदेशक प्रो. ललित अवस्थी के प्रयासों की प्रशंसा की। राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी-2020) के महत्त्व पर जोर देते हुए मुख्यातिथि ने सभा को सूचित किया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति हमारे देश को स्वच्छ, स्वस्थ, सशक्त, आत्मनिर्भर और एक श्रेष्ठ भारत बनाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने जा रही है। एनईपी- 2020 के तहत स्कूलों में व्यावसायिक शिक्षा कक्षा छठी से प्रारंभ होगी और कृत्रिम बुद्धिमता जैसे विषयों को विद्यालय स्तर पर शामिल किया जाएगा। भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के एडीजी मदन मोहन एवं प्रशासनिक परिषद के अध्यक्ष प्रो. चंद्र शेखर ने समारोह की अध्यक्षता की। समारोह के विशिष्ट अतिथि सांसद अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि यह संस्थान मेरे जन्म स्थान के बहुत करीब होने के कारण सदैव ही मुझे आकर्षित करता रहा है।

मैंने हमेशा इस संस्थान के उत्थान हेतु प्रार्थना एवं प्रयास किए हैं। यह मेरे लिए अत्यंत हर्ष का विषय है कि आज यह संस्थान, अपनी उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, अनुसंधान एवं परामर्श के लिए सबसे प्रतिष्ठित संस्थानों में से एक है। यह संस्थान अपनी इस प्रतिबद्धता को अपने छात्रों में भी प्रत्यारोपित करने में सफल रहा है। एनआईटी के निदेशक प्रो. ललित कुमार अवस्थी ने संस्थान के बारे में निदेशक की रिपोर्ट प्रस्तुत की। उन्होंने बताया कि वर्तमान में, संस्थान में विभिन्न स्नातक एवं परास्नातक पाठ्यक्रमों में लगभग 4000 छात्र नामांकित हैं। उन्होंने नई शिक्षा नीति के बारे में भी अपने विचार रखे एवं बताया कि हाल ही में सात जनवरी, 2021 को एनआईटी हमीरपुर की सिनेट ने न्यू एजुकेशन पॉलिसी-2020 नीति को सर्वसम्मति से मंजूरी दी। सीनेट की सिफारिशों की कुछ मुख्य विशेषताएं नई शिक्षा नीति के अंतर्गत एकाधिक निकास नीति/एकाधिक प्रवेश नीति और छात्रों के लिए अकादमिक बैंक ऑफ क्रेडिट की स्थापना हैं।  इस दौरान डा. पोखरियाल ने छात्रों को पैकेज के पीछे नहीं अपितु पेटेंट के पीछे जाने की सलाह दी। उन्होंने ‘नेशन फर्स्ट, कैरेक्टर मस्ट’ की नीति का पालन करने का आह्वान किया। इसके अलावा नौ छात्रों को रजत पदक से नवाजा गया। इनमें सिविल इंजीनियरिंग में अनीश कुमार सोनी, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में अमित शर्मा, मैकेनिकल इंजीनियरिंग में एम इमरान, इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में सार्थक जैन, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग (दोहरी डिग्री) में अपूर्व झा, कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में अनन्याश्री, कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग (दोहरी डिग्री) में साक्षी पुष्कर, केमिकल इंजीनियरिंग में निशांत गुप्ता और आर्किटेक्चर में नीरज चौधरी शामिल हैं।    — एचडीएम

कृष्ण मेहरा को निदेशक पदक

संस्थान के मेधावी छात्रों को उनकी शैक्षणिक एवं अन्य गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए के लिए सम्मानित किया गया। इस प्रक्रिया में कृष्ण मेहरा, जो कि कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग विभाग में बीटेक के छात्र हैं, को वर्ष 2020 के लिए सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर छात्र के रूप में उनकी उपलब्धियों के लिए ‘निदेशक पदक’ से सम्मानित किया गया। साथ ही अभियांत्रिकी के विभिन्न विषयों में प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को उनकी उपलब्धियों के लिए क्रमशः स्वर्ण एंड रजत पदक से सम्मानित किया गया।

इंजीनियरिंग में नौ स्वर्ण पदक

सिविल इंजीनियरिंग में साजिद मन्नान, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में वैभव द्विवेदी, मैकेनिकल इंजीनियरिंग में गर्वित गुप्ता, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग में आस्था अग्रवाल, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार इंजीनियरिंग (दोहरी डिग्री) में अनिमेष, कम्प्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में कृष्ण मेहरा, कम्प्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग (दोहरी डिग्री) में निमित भारद्वाज, केमिकल इंजीनियरिंग में रविंद्र सिंह और आर्किटेक्चर में नलिनी शर्मा को स्वर्ण पदक से नवाजा गया। इनके अतिरिक्त, पोस्ट ग्रेजुएट स्तर पर इंजीनियरिंग के विभिन्न विषयों में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले 24 छात्रों को भी उनकी उपलब्धियों के लिए स्वर्ण पदक प्रदान किए गए।

Himachal List

Free Classified Advertisements

Property

Land
Buy Land | Sell Land

House | Apartment
Buy / Rent | Sell / Rent

Shop | Office | Factory
Buy / Rent | Sell / Rent

Vehicles

Car | SUV
Buy | Sell

Truck | Bus
Buy | Sell

Two Wheeler
Buy | Sell

Polls

क्या हिमाचल प्रदेश का बजट क्रांतिकारी है?

View Results

Loading ... Loading ...

Miss Himachal Himachal ki Awaz Dance Himachal Dance Mr. Himachal Epaper Mrs. Himachal Competition Review Astha Divya Himachal TV