तीन जेई को विद पोस्ट ही ले गई सरकार, कोरोना काल में नलकूप मंडल गगरेट के साथ खेल कर गए जलशक्ति मंत्री

By: May 29th, 2021 12:07 am

कोरोना काल में नलकूप मंडल गगरेट के साथ खेल कर गए जलशक्ति मंत्री

स्टाफ रिपोर्टर – गगरेट

कोरोना की दूसरी लहर के बीच जब लोग संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए कोरोना कफ्र्यू के दौरान घरों में कैद होने को विवश थे, ठीक उसी समय जलशक्ति मंत्री विधानसभा क्षेत्र गगरेट के साथ बड़ा खेला कर गए। कोरोना कफ्र्यू के दौरान ही प्रदेश सरकार ने जलशक्ति विभाग के गगरेट स्थित नलकूप मंडल से तीन कनिष्ठ अभियंताओं का विद पोस्ट तबादला विधानसभा क्षेत्र धर्मपुर स्थित वृत्त कार्यालय में कर दिया। इनमें से दो ने पदभार संभाल लिया है, तो एक कनिष्ठ अभियंता स्टे के लिए न्यायालय की शरण में चला गया है। बता दें कि जलशक्ति विभाग का नलकूप मंडल सरकारों की आंख में शुरू से खटकता रहा है। इससे पहले भी पूर्व भाजपा सरकार के कार्यकाल में नलकूप मंडल को यहां से स्थानांतरित करने की संभावनाएं प्रबल हो गई थीं, लेकिन ऐन मौके पर मीडिया में मामला उजागर हो जाने के चलते इसका स्थानांतरण टल गया था। इसके बाद इस नलकूप मंडल का एक उपमंडल कार्यालय बाढ़ संरक्षण मंडल में मर्ज कर दिया गया और अब तीन कनिष्ठ अभियंताओं के विद पोस्ट तबादले लोगों को हैरान कर रहे हैं। नलकूप मंडल में पहले ही नौ कनिष्ठ अभियंताओं के पद सृजित थे।

इनमें से दो कनिष्ठ अभियंता वृत्त कार्यालय ऊना के अधीन कार्यरत हैं, तो अब महज दो कनिष्ठ अभियंता ही यहां रह गए हैं। दरअसल नलकूप मंडल के पास जितनी मशीनरी है, अगर उसका पूरा प्रयोग किया जाता तो जल शक्ति विभाग को नलकूप लगाने के लिए बोरवेल लगाने का कार्य ठेके पर देने की जरूरत ही नहीं पड़ती। मौजूदा समय में इस मंडल के अधीन एक सिरमौर में व एक स्थानीय स्तर पर बोरवेल लगाने का काम किया जा रहा है। जिस प्रकार धीरे-धीरे नलकूप मंडल को कमजोर किया जा रहा है, उससे कयास लगाए जा रहे हैं कि एक न एक दिन जलशक्ति विभाग इस मंडल कार्यालय को बंद करने या यहां से स्थानांतरित करने का निर्णय ले सकता है। उधर, नलकूप मंडल के अधिशाषी अभियंता अश्वनी धीमान ने माना कि तीन कनिष्ठ अभियंताओं के विद पोस्ट यहां से वृत्त कार्यालय धर्मपुर के लिए तबादले हुए हैं। फिलहाल दो कनिष्ठ अभियंताओं के सहारे ही यहां काम चलाया जा रहा है।