Himachal News: हिमाचल प्रदेश में मौत की बाढ़; नौ लोगों की गई जान, सात लापता

By: Jul 29th, 2021 12:08 am

 लाहुल-स्पीति में सबसे ज्यादा तबाही, दो जगह भू-स्खलन, छह जगह बाढ़, सात की मौत तीन लापता  कुल्लू के मणिकर्ण में चार बहे  चंबा में जेसीबी हेल्पर समेत दो की मौत

खेमराज शर्मा — शिमला

भारी बरसात से हिमाचल में मौतों को सिलसिला टामने का नाम नहीं ले रहा है और बुधवार को आसमानी आफत ने नौ और लोगों की जान ले ली, जबकि सात लोग लापता बताए जा रहे हैं। मंगलवार रात से जारी हुआ बारिश का कहर बुधवार को भी जारी रहा। सबसे ज्यादा तबाही लाहुल-स्पीति जिला में हुई है, जहां दो जगह पर लैंड स्लाइड और छह जगह फ्लैश फ्लड के चलते दस लोग बह गए। इनमें से सात के शव बरामद कर लिए गए हैं, वहीं लापता तीन लोगों की तलाश जारी है। लाहुल के सब-डिविजन कृतिंग गांव के पास लैंडस्लाइड होने से 60 वाहन फंस गए हैं।

जेसीबी को राहत कार्यों में लगाया गया है। उदयपुर सब-डिविजन के कुकुमसैरी गांव के पास लैंड स्लाइड होने से रोड बंद हो गया है। इसके अलावा दो नालों में पानी भर जाने से दारचा-शिंकूला रोड बंद हो गया है। मौसम साफ होने के बाद इसे बहाल करने का कार्य शुरू किया जाएगा। नेशनल हाइवे-3 भी बंद हो गया है। चंगूट और उदघोष नाला में भी फ्लैश फ्लड आने से रोड बाधित हो गया है। यहां पर एक पुल और एक ट्रैक्टर बह गया है। भागा नदी में पानी का लेवल बढ़ जाने से इसके पास बनी तीन दुकानें प्रभावित हुई हैं। नदी किनारे रहने वाले लोगों को भी यहां से निकाल दिया गया है। जिलाधीश लाहुल-स्पीति नीरज कुमार ने लेह और मनाली टैक्सी यूनियन से आग्रह है कि मनाली- लेह रोड पर बेवजह सफर करने से परहेज करें।

लोग इन मार्गों पर अनावश्यक यात्रा करने से बचें। सामान्य यातायात बहाल होते ही सूचित कर दिया जाएगा। कुल्लू में भी बरसात ने रौद्र रूप दिखाया है। मणिकर्ण की ब्रह्मगंगा में बाढ़ आने से मां-बेटे समेत चार लोग लापता हैं। यहां एक कैंपिंग साइट भी बाढ़ की भेंट चढ़ गई है। वहीं, पागल नाला में बाढ़ के कारण रास्ता बंद हो गया है। ट्रैफिक को रोक दिया गया है। उधर, चंबा जिला में भी फ्लैश फ्लड  से दो लोगों की मौत हो गई है। चंबा-पठानकोट एनएच पर चनेड़ में नाले का जलस्तर बढ़ने से जेसीबी हेल्पर सुनील कुमार पुत्र बिक्रम गांव कुड़कल चंबा  तेज बहाव में बह गया। इसका शव बरामद कर लिया गया है। दूसरी और सलूणी में चट्टान के ऊपर से गिरने से  निक्कू पुत्र जयदयाल निवासी सियूला, चंबा के रूप में हुई है। (एचडीएम)

हिमाचल पर दो दिन और भारी खतरे का ऑरेंज अलर्ट जारी

शिमला। हिमाचल में अगले दो दिन भी भारी बारिश की चेतावनी दी गई है और 29 और 30 जुलाई के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इसके अलावा 31 जुलाई और पहली अगस्त को राज्य के एक-दो स्थानों पर भारी वर्षा होगी। प्रदेश में तीन अगस्त तक मौसम खराब रहेगा।

शिमला में एक गाड़ी को नुकसान दो दिन बाधित रहेगी पेयजल व्यवस्था

राजधानी शिमला में भी बारिश ने कहर बरपाया है। यहां पर पंथाघाटी के पास अचानक ही रात के समय पहाड़ों से पत्थर गिर गए, जिससे यहां पर पार्क कार क्षतिग्रस्त हो गई। इसके अलावा तारादेवी के पास भी लैंड स्लाइड होने से मार्ग बाधित रहा है। शिमला शहर के लिए पानी की सप्लाई भी दो दिनों के लिए बाधित रहेगी।

लाहुल का तोजिंग नाला बना काल

अचानक आई बाढ़ में दस बहे; सात शव बरामद, तीन की तलाश जारी

मोहर सिंह पुजारी — कुल्लू

लाहुल-स्पीति में मंगलवार देर रात से जारी तबाही में दस लोग बाढ़ में बह गए, जिनमें से सात के शव बरामद कर लिए गए हैं, जबकि लापता तीन लोगों की तलाश जारी है। मौके पर बरामद किए गए शवों को पुलिस ने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए केलांग आरएच लाया गया है। एसपी लाहुल-स्पीति मानव वर्मा ने बताया कि मृतकों में से पांच की पहचान भमसोई टकोली, जिला मंडी के 62 वर्षीय शेर सिंह पुत्र गोला राम, 41 वर्षीय रूम सिंह पुत्र कृष्ण कुमार, 50 वर्षीय मेहर चंद पुत्र लुहारू राम, 42 वर्षीय नीरथ राम पुत्र तुआरसु राम के अलावा मोहम्मद निवासी रियासी जम्मू के रूप में हुई है, जबकि दो की पहचान की जा रही है।  जानकारी के अनुसार ये लोग मंगलवार देर रात वाहन से पांगी की तरफ जा रहे थे और वाहन तोजिंग नाले में फंस गया और अचानक आई बाढ़ की भेंट चढ़ गया।

रातभर प्रशासन और बीआरओ ने सर्च आपरेशन जारी रखा। इस दौरान दो वाहन और एक जेसीबी भी बाढ़ की भेंट चढ़ गए, जबकि दो मजदूरों के टेंट भी बह गए। जिला प्रशासन ने लापता लोगों की तलाश के लिए एनडीआरएफ की टीम बुलाई है। बाढ़ से लाहुल-स्पीति में वाहनों का आवागमन भी ठप पड़ गया है। जानकारी है कि लाहुल में जगह-जगह पर्यटक भी फंसे हो सकते हैं, लेकिन मोबाईल नेटवर्क न होने के कारण प्रशासन को भी जिला की सही स्थिति का पता नहीं चल पा रहा है। एनएच-03 और एसएच दोनों 24 घंटे के लिए प्रशासन ने बंद कर दिए हैं। जनजातीय जिला लाहुल-स्पीति में भारी बारिश ने जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है।

मणिकर्ण की ब्रह्मगंगा में आई बाढ़, मां-बेटे सहित चार बहे

कार्यालय संवाददाता — कुल्लू

मणिकर्ण के साथ सटे ब्रह्मगंगा नाले में बुधवार सुबह आई बाढ़ में मां-बेटे समेत चार लोग बह गए। इसके अलावा बाढ़ ने कैंपिंग साइट को भी तहस-नहस कर दिया है। एसपी कुल्लू गुरदेव शर्मा ने बताया कि ब्रह्मगंगा में सुबह छह बजे आई बाढ़ में 26 वर्षीय पूनम पत्नी रोहित निवासी मणिकर्ण और उनका चार वर्षीय बेटा निकुंज बह गए हैं। वहीं, गाजियाबाद की 25 वर्षीय महिला पर्यटक विनीता पुत्री विनोद कुमार कैंप में ठहरी हुई थी, जो बाढ़ के बाद लापता है। वहीं, शांगणा निवासी वीरेंद्र पुत्र तीर्थराम भी लापता है। प्रशासन, स्थानीय रेस्क्यू दल के साथ-साथ परिजनों ने भी मणिकर्ण से लेकर सरसाड़ी तथा अन्य जगहों और पार्वती नदी में रेस्क्यू किया, लेकिन देर शाम तक बाढ़ में बहे चारों लोगों का कोई अता-पता नहीं चल पाया था। सूचना मिलते ही तहसीलदार भुंतर मौके पर पहुंचे और बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन किया।

कुल्लू सदर के विधायक भी मौके पर पहुंचे थे और जायजा लेने के साथ-साथ पीडि़त परिवार से भी मिले।  प्रशासनिक जानकारी के अनुसार दो मकानों में मलबा घुसने से सारा सामान खराब हो गया है। ब्रह्मगंगा के साथ लगती निजी भूमि पर कैंपिंग साइट थी। उनमें 12 टैंट हाउस थे, जो बाढ़ की भेंट चढ़ गए हैं। इसके साथ ही सेब के पौधे भी बाढ़ की भेंट चढ़ गए हैं। उपायुक्त कुल्लू आशुतोष गर्ग ने कहा कि सूचना मिलते ही ब्रह्मगंगा के लिए तहसीलदार भुंतर को भेजा गया था। उन्होंने कहा कि घटना का जायजा लिया गया। यहां पर बाढ़ में बहे लोगों की तलाश के लिए रेस्क्यू अभियान अगले दिन भी जारी रहेगा।

Himachal List

Free Classified Advertisements

Property

Land
Buy Land | Sell Land

House | Apartment
Buy / Rent | Sell / Rent

Shop | Office | Factory
Buy / Rent | Sell / Rent

Vehicles

Car | SUV
Buy | Sell

Truck | Bus
Buy | Sell

Two Wheeler
Buy | Sell

Polls

क्या समाज अधिकांश पत्रकारों को ब्लैकमेलर मान रहा है?

View Results

Loading ... Loading ...

Miss Himachal Himachal ki Awaz Dance Himachal Dance Mr. Himachal Epaper Mrs. Himachal Competition Review Astha Divya Himachal TV