द्रोण मंदिर का मास्टर प्लान तैयार

By: Dec 3rd, 2021 12:45 am

अंबोटा के वास्तुकार विभाग से मिलकर ट्रस्ट ने बनाया मसौदा, महादेव मंदिर की सुंदरता को लगेगे चार चांद

स्टाफ रिपोर्टर- गगरेट
परिस्थितियां अनुकूल रहीं तो आने वाले दिनों में द्रोण महादेव शिव मंदिर शिवबाड़ी की सुंदरता को चार चांद लगेंगे। द्रोण महादेव शिव मंदिर ट्रस्ट ने डा. भीम राव अंबेडकर बहुतकनीकी संस्थान अंबोटा के वास्तुकार विभाग से मिलकर इस मंदिर को और भव्य व अध्यात्म की दृष्टि से सुदंर बनाने के लिए जो मास्टर प्लान तैयार किया है। अगर वह लागू हुआ तो लाखों लोगों की अगाध आस्था के केंद्र इस मंदिर की न सिर्फ तस्वीर बदलेगी बल्कि यहां आने वाले श्रद्धालुओं को भी और अधिक सुविधाएं मिलने के साथ अध्यात्मिक सुख का एहसास होगा। गुरुवार को बहुतकनीकी संस्थान के वास्तुकार विभाग ने मंदिर ट्रस्ट के सदस्यों के साथ इसका ब्लू प्रिंट सांझा किया। दरअसल मंदिर ट्रस्ट इस प्राचीन शिव मंदिर के कायाकल्प को लेकर गंभीर दिख रहा है। इसी के चलते पहले किसी एजेंसी की मदद से मंदिर में विकास कार्य करवाने के लिए मास्टर प्लान तैयार करने की योजना थी, लेकिन इस पर खर्चा अधिक आने के चलते बहुतकनीकी संस्थान के वास्तुकार विभाग से बात की गई तो बहुतकनीकी संस्थान के प्रधानाचार्य अशोक पाठक व वास्तुकार विभाग के प्रवक्ताओं ने इस प्रोजेक्ट को हाथ में लेने की दिलचस्पी दिखाई और हाथों-हाथ मास्टर प्लान तैयार भी कर दिया। ट्रस्ट की योजना मंदिर परिसर के समीप श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए एक पार्किंग स्थल विकसित करने के साथ, यहां शौचालयों का निर्माण करवाने के साथ मंदिर को जाने वाले रास्ते को और सुंदर बनाने की योजना है।

हालांकि इसके लिए यह विशेष ध्यान रखा गया है कि मंदिर के आसपास के पेड़ नष्ट न करने पड़ें। इसके साथ ही मंदिर परिसर के साथ एक कीतर्न हाल, हवन-कुंड विकसित करने के साथ एक मेडीटेशन हाल का निर्माण करने का भी प्रोपोजल है। इस पर करीब एक करोड़ रुपए का बजट खर्च होने का अनुमान है। यही नहीं बल्कि मंदिर परिसर में भगवान शिव की मंत्रमुग्ध करने वाली मूर्तियां स्थापित करने की भी योजना है तो मंदिर परिसर के साथ बरामदे को भी श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए खुला करने का विचार है। हालांकि प्राथमिक तौर पर महाशिवरात्रि से पहले मंदिर परिसर को आने वाले रास्ते को खुला करने, फेंसिंग व शौचालय निर्माण किया जाएगा। गुरुवार को मंदिर ट्रस्ट के सह-आयुक्त एसडीएम विनय मोदी की अगवाई में ट्रस्ट की हुई बैठक में बहुतकनीकी संस्थान के वास्तुकार विभाग ने मास्टर प्लान का ब्लू प्रिंट प्रस्तुत किया। जिसे खूब सराहा गया। द्रोण महादेव शिवमंदिर ट्रस्ट के सदस्य सचिव तहसीलदार रोहित कंवर ने बताया कि ट्रस्ट की योजना मंदिर को भव्य बनाने के साथ यहां आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सुविधाएं बढ़ाना है और इस काम में बहुतकनीकी संस्थान अंबोटा द्वारा जो नि:शुल्क सेवाएं प्रदान की गई हैं वह अति सराहनीय हैं। बैठक में बहुतकनीकी संस्थान के प्रिंसीपल अशोक पाठक, वास्तुकार विभाग के अरुण राणा, विपिन कटोच सहित ट्रस्ट के सदस्य मौजूद रहे।