आपातकाल की बरसी पर मनाया जताया आक्रोश, भाजपा की काले अध्याय से सीख लेने की अपील

By: Jun 26th, 2022 12:04 am

कांग्रेस ने देश को आपातकाल में झोंक पहुंचाई थी चोट

निजी संवाददाता — होशियारपुर
जिला भाजपा इकाई की ओर से जिलाध्यक्ष निपुण शर्मा की अध्यक्षता में 25 जून, 1975 में तत्कालीन इंदिरा गांधी द्वारा देश में लगाई गई एमर्जेंसी की बरसी पर रोष स्वरूप काला दिवस कार्यक्रम मनाया गया। इस मौके पर पूर्व मंत्री तीक्ष्ण सूद ने आरोप लगाया कि कांग्रेस में आज भी आपातकाल की मानसिकता विद्यमान है और एक परिवार के हित राष्ट्रीय हितों पर हावी हो गए। सूद ने कहा कि तत्कालीन इंदिरा गांधी ने जो कलंक देश के माथे पर लगाया है, उसे कांग्रेस कभी धो नहीं सकती। उन्होंने कहा कि गरीबी हटाओ का नारा देने वाली कांग्रेस ने आपातकाल लागू कर गरीबों के मुंह का निवाला छीनने का घनघोर पाप किया था और उस दौरान सच्चाई के लिए उठने वाली हर आवाज पर जुल्म ढाए गए थे।

हिमाचल प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने कहा कि देश में आपातकाल के लिए कांग्रेस के निहायत अलोकतांत्रिक रवैये को जिम्मेदार ठहराते हुए नई पीढ़ी से अपील की कि वे लोकतंत्र के इस काले अध्याय से उचित सीख लें। भाजपा नेता महिंद्र कौर जोश ने कहा कि वर्ष 1975 में आज ही के दिन कांग्रेस ने सत्ता के स्वार्थ व अहंकार में देश पर आपातकाल थोपकर विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की हत्या कर दी थी। उन्होंने कहा कि असंख्य सत्याग्रहियों को रातोंरात जेल की कालकोठरी में कैद कर प्रेस पर ताले जड़ दिए। नागरिकों के मौलिक अधिकार छीनकर संसद व न्यायालय को मूकदर्शक बना दिया। उ इस मौके पर कमल चौधरी, विनोद परमार, अर्चना जैन, रजनी, सुरिंद्र कौर सैनी, सुनीता, संतोष, गुरमिंद्र कौर, एडवोकेट प्रिया, पार्षद सुरिंद्र, भारत भूषण वर्मा, जिंदू सैनी, राकेश सूरी, अश्वनी ओहरी, यशपाल शर्मा, ओंकार नाथ शर्मा, बलवीर, ईश सरदाना, अंकित नैयर, निर्मल सिंह, यशपाल, जीवन, अंशुल जैन व राजकुमार कोहली आदि उपस्थित थे।