पहली को रिजल्ट निकालो नहीं तो करेंगे भूख हड़ताल

By: Jun 25th, 2022 12:01 am

दिव्य हिमाचल टीम— शिमला, कांगड़ा

जेओए आईटी के 817 पदों पर लिखित परीक्षा को हुए एक साल हो गया है, लेकिन अभी तक हमीरपुर चयन आयोग की ओर से लिखित परीक्षा का परिणाम घोषित नहीं किया गया है। अभ्यर्थियों का लगातार इसमें विरोध सामने आ रहा है। गौर रहे कि हमीरपुर चयन आयोग की ओर से बीते साल पहली जुलाई को लिखित परीक्षा करवाई गई थी। इसके लिए टाइपिंग परीक्षा हो चुकी थी, जिसका परिणाम घोषित नहीं हो रहा। लिखित परीक्षा में चयनित 19 हजार अभ्यर्थी लगातार भर्ती पूरे होने की मांग पिछले एक साल से कर रहे हैं। अब इन 19 हजार अभ्यर्थियों और उनके अभिभावकों ने मुख्यमंत्री से मांग की है कि जल्द इनका परिणाम घोषित किया जाए। इसके साथ ही अभ्यर्थियों ने चेतावनी दी है कि पहली जुलाई से पहले यदि टाइपिंग परीक्षा का परिणाम घोषित नहीं हुआ, तो यह अपने अभिभावकों सहित भूख हड़ताल पर बैठेंगे। वे तब तक वहां बैठे रहेंगे, जब तक रिजल्ट नहीं दिया जाता। इन अभ्यर्थियों का कहना है कि एक तरफ जहां सरकार इस भर्ती को नजरअंदाज कर रही है, वहीं दूसरी ओर कर्मचारी चयन आयोग का ढुलमुल रवैया भी परेशानी का सबब बना हुआ है। भर्ती पूरी होने के बारे में हर दूसरे दिन आयोग से पूछा जाता है, तो हर बार आयोग अलग-अलग बयान देता है। आयोग ने कहा है कि इस प्रक्रिया पूरी करने के लिए उसके पास आवश्यक डाटा नहीं है, फाइल वापस सरकार को भेजी है। अभी इस भर्ती की मूल्यांकन परीक्षा बाकी है, जिसे दो महीने का समय लगेगा। ऐसे में अब जल्द से जल्द परीक्षा परिणाम जारी करने की मांग की जा रही है।