मुख्याध्यापक के भरोसे चल रहा कूहघाट स्कूल

By: Aug 12th, 2022 12:10 am

प्रतिनिधिमंडल ने डीसी को सौंपा ज्ञापन, जल्द खाली पदों को भरने की उठाई मांग

दिव्य हिमाचल ब्यूरो- बिलासपुर
कुहमझवाड़ पंचायत के उपप्रधान रतन सिंह ठाकुर की अगवाई में पंचायत का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधीश बिलासपुर पंकज राय से मिला। इस मौके पर जिला बिलासपुर युवा कांग्रेस अध्यक्ष आशीष ठाकुर मुख्य रूप से उपस्थित रहे। आशीष ठाकुर ने बताया कि कूहघाट प्राथमिक विद्यालय में शिक्षकों के रिक्त पद पिछले कई वर्षोंं से चल रहे है। उन्होंने कहा कि कूहघाट प्राथमिक विद्यालय मुख्याध्यापक के भरोसे चल रहा है। सरकार बड़ी-बड़ी बातें शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने की करती है पर धरातल की स्थिति बिलकुल उनके वादों के विपरीत है। उन्होंने कहा कि इस स्कूल के लिए दो जेबीटी के पद स्वीकृत हैं मगर एक भी अध्यापक यंहां अपनी सेवाएं नहीं दे रहा है।

इस प्राथमिक विद्यालय में छात्रों की कुल संख्या 33 है जो अन्य प्राथमिक विद्यालयों से काफी ज्यादा है। अगर इस विद्यालय में शिक्षकों की नियुक्ति हो जाती है तो संख्या और ज्यादा यहां बढ़ सकती है। इस मौके पर उपप्रधान रतन सिंह की अगवाई में ज्ञापन जिलाधीश के माध्यम से शिक्षा मंत्री को प्रेषित किया गया। ज्ञापन के माध्यम से उपप्रधान व अन्य प्रतिनिधिमंडल ने शिक्षा मंत्री से मांग रखी है कि जल्द से जल्द रिक्त पदों पर नियुक्तियां की जाएं। रतन सिंह ने बताया कि कूहघाट के साथ-साथ पलेला व मंझवाड़ प्राथमिक विद्यालय की हालत भी खस्ता है। वहां भी शिक्षकों का टोटा है। उन्होंने प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन के समक्ष मांग रखी है कि जल्द से जल्द तीन प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षकों की कमी को पूरा किया जाए ताकि अच्छी शिक्षा छात्रों को मुहैया हो सके। इस मौके पर रविंद्र कुमार, अमर सिंह, जोगिंद्र कुमार, संजय कुमार, संजीव कुमार, दिला राम, राजवीर, राजू, बिमला देवी, अंजु देवी, सपना देवी, रिशु, राजेंद्र कुमार व अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।