स्कूलों में होगी आधार की अपडेशन, आईटी विभाग यूआईडीएआई के साथ मिलकर लगाएगा कैंप

By: Aug 6th, 2022 12:07 am

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — शिमला

हिमाचल के स्कूलों में आधार के अपडेशन के लिए विशेष कैंप लगेंगे। आईटी विभाग ने यूआईडीआई के साथ मिलकर यह कैंप लगाने का फैसला किया है। इसकी वजह यह है कि बच्चों के लिए 15 साल की उम्र पूरा होने के बाद आधार अपडेट करना जरूरी होता है और इस अपडेट में बायोमीट्रिक रिकार्ड को बदला जाता है। बच्चों के फेस इंप्रेशन और फिंगर प्रिंट्स भी नए सिरे से रिकार्ड होते हैं। यदि स्कूलों में कैंप नहीं लगते, तो राज्य में मौजूद साढ़े 300 आधार सेंटर्स पर यह अपडेशन कराई जा सकती है, लेकिन स्कूलों में इस काम को करने से बच्चों के लिए अपडेशन आसान हो जाएगी। इसका शेड्यूल जल्द जारी किया जा रहा है। गौरतलब है कि हिमाचल में अब तक 80 लाख लोगों के आधार बन चुके हैं और कुल एनरोलमेंट 110 फ़ीसदी है। इस हिसाब से राज्य ऑल इंडिया में चौथे रैंक पर है। 0 से 5 साल की उम्र में 58 फ़ीसदी बच्चों का आधार बना हुआ है।

यह एनरोलमेंट हालांकि कम है, लेकिन इसमें हिमाचल का ऑल इंडिया रैंक दूसरा है। यदि किसी के आधार नंबर में एड्रेस गलत भरा गया है, तो उसकी अपडेशन एम आधार ऐप के जरिए भी की जा सकती है। यह ऐप गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद है और इसके माध्यम से यह अपडेशन संभव है, लेकिन बायोमीट्रिक अपडेशन के लिए आधार केंद्र पर ही जाना होगा या फिर स्कूलों में लगने वाले शिविरों के जरिए यह काम होगा। राज्य के प्रधान सचिव आईटी रजनीश ने बताया कि स्कूलों में क्योंकि बच्चों के लिए 15 साल के बाद आधार का बायोमीट्रिक रिकॉर्ड अपडेट करना जरूरी है, इसलिए विशेष कैंप इसके लिए स्कूलों में ही लगाए जाएंगे। इस बारे में शेड्यूल जल्द फाइनल होने वाला है।