पांवटा साहिब में ऊर्जा मंत्री के खिलाफ नारेबाजी

By: Sep 24th, 2022 12:55 am

प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष किरनेश जंग चौधरी ने लगाया घोटाले का आरोप, कार्यकर्ताओं ने पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में एकत्रित होकर निकाली रैली

धीरज चोपड़ा – पांवटा साहिब
पांवटा साहिब में प्रदेश के ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी के खिलाफ 396 करोड़ के घोटाले के आरोपों के बाद पांवटा साहिब में कांग्रेस ने जोरदार प्रदर्शन कर नारेबाजी की। इस मौके पर कांग्रेस के कार्यकर्ता मंडल अध्यक्ष अश्वनी शर्मा के नेतृत्त्व में पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाउस में एकत्रित हुए और ऊर्जा मंत्री के खिलाफ नारेबाजी करते हुए रैली निकाली। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष किरनेश जंग चौधरी और कांग्रेस मंडल अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा कि ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने लगभग 396 करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार किया है। मामले में नैतिकता के नाते ऊर्जा मंत्री को पद से तुरंत इस्तीफा देना चाहिए ताकि निष्पक्ष जांच हो पाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में घटिया क्वालिटी की विद्युत सामग्री खरीदी गई है जिसमें करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार किया गया है। उन्होंने कहा कि जिला सिरमौर में 2796 रुपए में विद्युत मीटर बदलने के लिए दिए गए, जबकि हमीरपुर में यही मीटर केवल 65 रुपए में बदल दिए गए हैं। इस दौरान सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सुखराम चौधरी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। (एचडीएम)

अलका लांबा की सुखराम चौधरी को चेतावनी

कार्यालय संवाददाता-पांवटा साहिब
पांवटा साहिब में ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने 396 करोड़ के घोटाले के झूठे आरोपों को लेकर कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता अपने वक्तव्य के लिए तत्त्काल प्रभाव से माफी मांगें या कार्रवाई के लिए तैयार रहें। ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी ने पांवटा साहिब में पत्रकार वार्ता के दौरान सवालों के जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस नेत्री अलका लांबा ने देवभूमि में आकर जो झूठा प्रोपेगेंडा फैलाने का काम किया है वह निंदनीय है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि या तो वह अपने आरोपों से संबंधित दस्तावेज प्रस्तुत करें या फिर माफी मांगें अन्यथा उनके खिलाफ मानहानि और मामला दर्ज करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास उनके खिलाफ बोलने के लिए कुछ नहीं है इसलिए वह इस तरह की अनाप-शनाप बयानबाजी कर चरित्र हनन की राजनीति कर रही हैं, लेकिन प्रदेश की जनता सब जानती है और कांग्रेस को इसका करारा जवाब देगी। उन्होंने पत्रकारों द्वारा मंडल अध्यक्ष अरविंद गुप्ता के उपर लगे झूठे एग्रीकल्चर सर्टिफिकेट मामले बारे पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि यह सभी आरोप निराधार हैं। उन्होंने कहा कि अगर मनीष तोमर के पास कोई सबूत हैं तो उसे पेश करें। उन्होंने कहा कि उन्होंने पांवटा में भरपूर विकास किया है और आगे भी विकास करेंगे।