खुले आसमान के नीचे हो रही छात्रों की पढ़ाई

By: Sep 24th, 2022 12:45 am

बीणू स्कूल में विद्यार्थियों को बैठने के लिए कमरे नहीं, स्कूल प्रबंध ने खुद किया इंतजाम

अमित वर्मा-कंडाघाट
राजकीय उच्च विद्यालय बीणू वर्ष 2015 में जब राजकीय माध्यमिक विद्यालय से राजकीय उच्च विद्यालय में पदोन्नत हुआ तब से विद्यालय के पास मात्र चार कमरे उपलब्ध है। जिसमें से एक कमरा कार्यालय एवं विद्यालय स्टाफ के लिए तथा एक कमरा विद्यालय की सामग्री भंडारण के लिए उपयोग हो रहा है। बाकी बचे दो कमरों में पांच कक्षाओं के छात्रों की पढ़ाई करवाई जाती है। जबकि मजबूरन तीन कक्षाओं को खुले आसमान में ही पढ़ाया जा रहा है। इस समस्या को देखते हुए मुख्य अध्यापक बंसी लाल नेगी, एसएमसी प्रभारी नरेश कुमार भाषा अध्यापक, समस्त एसएमसी एवं समस्त अध्यापक- अध्यापिकाओं ने चंदा एकत्रित कर विकास में जन सहयोग के माध्यम से कमरे बनाने का निर्णय लिया।

इसके लिए मुख्य अध्यापक बंसीलाल नेगी ने पचास हजार रुपए तथा भाषा अध्यापक नरेश कुमार सहित सभी अध्यापक अध्यापिकाओं ने भी चार-चार, पांच -पांच हजार रुपए विद्यालय के लिए दान के रूप में दिए तथा साथ ही विद्यालय प्रबंध समिति के सहयोग से गांव- गांव में जाकर चंदा एकत्रित किया। जिससें कुल मिलाकर 150000 की राशि एकत्रित की गई। इसके अतिरिक्त कृष्णा नेगी कला स्नातक ने लगभग 7 क्विंटल सरिया स्कूल के लिए दान किया है। इस डेढ़ लाख की राशि को विकास में जन सहयोग में जमा करके अब उससे प्राप्त राशि से विद्यालय के लिए कमरे बनाए जाएंगे। (एचडीएम)