बैकडेट से नियमितीकरण लाभ; बदलेंगी टीजीटी कैडर की वरिष्ठता सूचियां, विभाग ने जारी की लिस्ट

By: Nov 19th, 2022 10:56 am

स्टाफ रिपोर्टर — शिमला

शिमला। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में आठ साल अनुबंध सेवाकाल पूरा करने वाले टीजीटी को बैकडेट से नियमितीकरण के सभी लाभ मिलेंगे। प्रदेश हाई कोर्ट से मंजूरी मिलने के बाद शिक्षा विभाग ने भी 50 कर्मचारियों की लिस्ट जारी की है, जिन्हें यह लाभ मिलेगा। इस फैसले के बाद अब कुल 50 शिक्षकों को 20 दिसंबर, 2008 के बजाय अब पहली जनवरी, 2007 से नियमित किया जाएगा।

इससे पूर्व भी शिक्षा विभाग ने सैकड़ों शिक्षकों को यह लाभ दे दिया है, मगर अब वरिष्ठता सूचियां नए सिरे से अपडेट करनी होंगी। यही नहीं, लाभ मिलने के बाद टीजीटी कैडर की वरिष्ठता भी नए सिरे से निर्धारित करनी होगी, क्योंकि बैकडेट से नियमितीकरण होने से वरिष्ठता भी बैकडेट से ही मिलेगी। वर्ष 1995 से 1999 के बीच प्रदेश के स्कूलों में ये नियुक्तियां हुई थीं। उस समय प्रदेश में अनुबंध भर्ती की कोई नीति नहीं थी।

इन कर्मचारियों द्वारा नियमितीकरण की गुहार लगाई जाने लगी और नौ जून, 2005 को सरकार ने आठ साल सेवाकाल पूरा करने उन अनुबंध कर्मचारियों को नियमित कर दिया, जिनकी आठ साल सेवाएं 31 दिसंबर, 2005 तक पूर्ण हो रही थीं। जिन कर्मचारियों का नियमितीकरण नौ वर्ष या अधिक अनुबंध सेवाकाल में हुआ, उन्होंने हाई कोर्ट में लंबी लड़ाई लड़ी और विभिन्न याचिकाओं में उनको आठ साल सेवाकाल पूर्ण करने की तिथि से ही नियमितीकरण लाभ देने के आदेश हाई कोर्ट ने दिए। इस फैसले के चलते जिन शिक्षकों को बैकडेट से नियमित किया गया है, उनकी टीजीटी कैडर की वरिष्ठता भी नए सिरे से निर्धारित करनी होगी।