चार महीने तक धू-धू कर जलेंगे कुल्लू के जंगल

By: Nov 29th, 2022 12:10 am

जिला में विंटर फायर सीजन की दस्तक ने वन महकमे और पर्यावरण प्रेमियों की बढ़ाई चिंता

हीरालाल ठाकुर-भुंतर
देवभूमि कुल्लू की शान यहां की बेशकीमती जंगलों की सूरत बिगाडऩे वाले चतुर्मासी विंटर फायर सीजन का आगाज जिला में हो गया है। सर्दियों के आगमन के बीच वन विभाग और पर्यावरण प्रेमियों को परेशान करने वाले फायर सीजन ने भी दस्तक दे दी है और यहां के हरे-भरे और सुंदर जंगलों व खूबसूरत पहाड़ों को काला करने के साथ संबंधित महकमे को आने वाले समय में दौड़भाग के लिए तैयार रहने का अलर्ट जारी कर दिया है।

वन विभाग के अधिकारी हालांकि जंगलों को बचाने के लिए व्यापक रणनीति के साथ उतरने के दावे कर रहे हैं, लेकिन लेकिन मिली जानकारी के अनुसार जिला के पार्वती वन मंडल और कुल्लू मंडल के जंगलों से असामाजिक तत्त्वों ने जंगलों पर अपनी काली छाया के दर्शन कराए हैं। मिली जानकारी के अनुसार बिजली महादेव की पहाडिय़ों में आगजनी की वारदात हुई है और साथ नरोगी क्षेत्र के जंगलों में हाल ही के दिनों में भी आग की घटनाएं हो चुकी हंै। वहीं आने वाले दिनों में अन्य स्थान भी असामाजिक तत्त्वों की राडार पर है। जानकारी के अनुसार नरोगी के साथ लगते इलाकों में आग की लपटें उठने के कारण वन्य संपदा आग के हवाले हुई है। उधर शमशी में स्थित पार्वती वन मंडल के मंडलाधिकारी एश्वर्य राज के अनुसार जंगलों को आग से बचाने के लिए विशेष अधिकारियों को नजर रखने के लिए जिम्मा सौंपा गया है और लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगर कोई जंगलों को नुकसान पहुंचाता पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई का भी प्रावधान है। बहरहाल कुल्लू जिला में फायर सीजन के औपचारिक आगाज ने वन महकमे के साथ पर्यावरण प्रेमियों की चिंता बढ़ा दी है। (एचडीएम)


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App