लटकी प्रोमोशन से जल्द हटेगी रोक, शिक्षा विभाग में लंबित पदों पर मिलेगी पदोन्नति, टीजीटी शिक्षकों का मांगा डाटा

By: Jan 22nd, 2023 12:06 am

स्टाफ रिपोर्टर-शिमला

प्रदेश के स्कूलों में लंबे समय से अटकी प्रोमोशन की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। दरअसल प्रदेश सरकार के पास लगातार शिक्षक संघ प्रोमोशन से जुड़े मामले लेकर पहुंच रहे हैं। ऐसे में अब शिक्षा विभाग ने टीजीटी से लेक्चरर न्यू के पदों पर प्रोमोट होने वाले शिक्षकों का डाटा मांगा है। इसमें पूछा गया है कि कितने ऐसे टीजीटी है जो स्कूल लेक्चरर न्यू के पदों पर प्रोमोट होने हैं। उनकी पूरी डिटेल भेजनी होगी। इसके साथ ही शिक्षा विभाग में 31 मार्च तक तीन साल का कार्यकाल पूरा करने वाले जेओए आईटी और क्लर्क का भी डाटा मांगा है। प्रदेश में करीब एक लाख युवाओं को रोजगार देने का जिक्र कांग्रेस सरकार ने अपने मेनिफेस्टो में भी किया है ऐसे में विभिन्न विभाग से खाली पदों और प्रोमोट होने वाले कर्मचारियों का आंकड़ा जुटाया जा रहा है

जिसमें सीनियोरिटी लिस्ट को भी देखा जाएगा। राज्य के सरकारी स्कूलों में 15 विषयों में लेक्चरर न्यू के पदों को पदोन्नति से भरे जाएंगे। शिक्षा विभाग ने इसके लिए प्रक्रिया शुरू कर दी है। टीजीटी से लेक्चरर न्यू पद पर शिक्षकों को पद्दोन्नत किया जाएगा। इन में अंग्रेजी, हिंदी, इतिहास, राजनीतिक शास्त्र, अर्थशास्त्र, बायोलॉजी, फिजिक्स, कैमिस्ट्री, कामर्स, जियोग्राफी, संगीत, संस्कृत, होमसाइंस सोशियोलॉजी और गणित विषय शामिल हैं। प्रारंभिक शिक्षा निदेशक घनश्याम चंद की ओर से इसको लेकर सभी जिलों के उपनिदेशकों को सर्कुलर जारी कर शिक्षकों का डाटा 23 मार्च तक निदेशालय भेजने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा जूनियर ऑफिस असिस्टेंट आईटी व लिपिक के पदों पर कार्यरत कर्मचारियों को भी पद्दोन्नत किया जाएगा।

इनकी वरिष्ठता सूची तैयार करने के निर्देश दिए हैं। पूरे प्रदेश से इसका डाटा तैयार कर 20 फरवरी तक शिक्षा निदेशालय भेजने के निर्देश दिए हैं। पूरा रिकार्ड आने के बाद इसकी वरिष्ठता सूची तैयार की जाएगी। विभागीय पदोन्नति समिति की बैठक में इसे रखा जाएगा। डीपीसी की बैठक के बाद पदोन्नति के आदेश जारी किए जाएंगे।