दीये की रोशनी में कट रही बर्फीली रातें

By: Jan 26th, 2023 12:45 am

भारी बर्फबारी के कारण तारें टूटने से अढ़ाई सौ गांवों में अंधेरा छा जाने से ब्लैक आउट की बनी स्थिति

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-चंबा
जिला के पांगी उपमंडल सहित तीसा, चंबा, सलूणी व भरमौर उपमंडल के दूरस्थ गांवों सहित कई हिस्सों में भारी बर्फबारी के कारण तारें टूटने से करीब अढ़ाई सौ गांवों में अंधेरा छा जाने से ब्लैक आउट की स्थिति बनकर रह गई है। बिजली व्यवस्था ठप होने से ग्रामीणों को बर्फीली रातें दीये की रोशनी में काटनी पड़ रही है। बर्फबारी से बिजली बोर्ड को जिला में लाखों रुपए का नुकसान अलग से उठाना पड़ा है। बर्फबारी के कारण बिजली बोर्ड को पांगी व तीसा उपमंडल में बिजली बोर्ड को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। बर्फबारी के कारण पेडों के उखडक़र तारों पर आ गिरने से उपमंडल की अधिकतर पंचायतें अंधेरे में डूब गई है। हालात यह है कि तीसा की झज्जाकोठी, मंगली, बैरागढ़, देवीकोठी, टेपा, चांजू, चरडा व देहरा पंचायतों में बिजली आपूर्ति ठप होकर रह गई है। इन क्षेत्रों में बर्फबारी ने बिजली की तारों को खासा नुकसान पहुंचाया है।

जनजातीय उपमंडल भरमौर में भी बर्फबारी के कारण बिजली की तारें टूटने से कुगति, बडग्रां, न्याग्रां व बजोल आदि पंचायतें अंधेरे में डूब गई है। सलूणी उपमंडल के लंगेरा, प्रिंयुगल आदि क्षेत्र अंधेरे में डूब गए हैं। पांगी घाटी में भारी बर्फबारी के कारण पूरा उपमंडल अंधेरे में है। बर्फबारी के लगातार जारी रहने से बोर्ड के फील्ड स्टाफ को व्यवस्था बहाली में दिक्कतें आ रही हैं। उधर, बिजली बोर्ड डलहौजी सर्किल के एसई राजीव ठाकुर ने बताया कि भारी बर्फबारी के कारण पांगी तीसा, सलूणी व भरमौर उपमंडल की दूरस्थ पंचायतों में विद्युत आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है। उन्होंने बताया कि अभी तक अढ़ाई सौ के करीब ट्रांसफार्मर बंद पड़े हुए हैं। उन्होंने बताया कि फील्ड स्टाफ बर्फबारी के कारण टूटी लाइनों व खंभों को ठीक कर बिजली बहाली को लेकर काम छेड़े हुए है।