IIT Mandi : भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी एचएसटी स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज को 20 तक करें आवेदन

By: Aug 10th, 2023 12:07 am

हिमालयन स्टार्टअप में स्टार्टअप्स को मिलेगा छह लाख का नकद पुरस्कार

दिव्य हिमाचल ब्यूरो— मंडी

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी की टेक्नोलॉजी व्यावसायिक इन्क्यूबेटर कैटलिस्ट द्वारा हिमालयन स्टार्टअप ट्रेक एचएसटी के सातवें संस्करण का वार्षिक फ्लैगशिप इवेंट 29 सितंबर से पहली अक्तूबर 2023 तक आयोजित किया जा रहा है। इस आयोजन में स्टार्टअप्स, नवाचारकों और महत्त्वाकांक्षी उद्यमियों के लिए एक ग्रैंड चैलेंज पेश किया जाएगा, जिसमें 6 लाख रुपए का नकद पुरस्कार रखा गया है। वहीं शीर्ष स्टार्टअप्स को 50 लाख रुपए तक का अनुदान प्राप्त करने का भी अवसर मिलेगा। इस आयोजन में आवेदन करने की आखिरी तारीख 20 अगस्त, 2023 है। सातवें संस्करण के एचएसटी स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज स्टार्टअप पिच प्रतियोगिता के तीन विषयों पर आयोजित होगी, जिसमें द न्यू एज अलायंस- ह्यूमन-कम्प्यूटर इंटरएक्शन एचसीआई को शामिल किया जाएगा। इस विषय क्षेत्र के चुनौतीपूर्ण क्षेत्रों को आईआईटी मंडी के आईहब और एचसीआई फाउंडेशन के साथ परामर्श के बाद चुना गया है। वहीं इस विषय क्षेत्र के लिए पुरस्कार स्वरूप दिए जाने वाले धन का प्रबंध आईहब द्वारा किया है।

इसके अलावा दूसरे विषय में फु टहिल इनोवेटर्स चैलेंज- हिमालय के लिए निर्माण। इस विषय क्षेत्र के चुनौतीपूर्ण क्षेत्रों को राज्य के उद्योग विभाग, एचपी सेंटर फ ॉर एंटरप्रेन्योरशिप डिवेलपमेंट, आईटी विभाग और श्रम आयुक्त कार्यालय एचपी के साथ निकट बातचीत के बाद चुना गया है। इसके अलावा द हैबिटेबल वल्र्ड चैलेंज पर्यावरण और स्थायित्व। इस क्षेत्र के लिए चुनौतियों के चयन को पीक वेंचर्स, अलसीसर इम्पैक्ट, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड हिमाचल प्रदेश और नैशनल हेल्थ मिशन हिमाचल प्रदेश के साथ तैयार किया गया है। हर विषय से संबंधित क्षेत्र के लिए 2 लाख रुपए तक की पुरस्कार राशि निर्धारित की गई है। जिसको शीर्ष 3 स्टार्टअप के बीच वितरित किया जाएगा। शीर्ष स्टार्ट.अप को प्रोटोटाइपिंग के साथ-साथ 50 लाख रुपए तक के उत्पादों के विकास के लिए इन्क्यूबेशन सहायता और फं डिंग योजनाओं तक पहुंच की सुविधा भी प्रदान की जाएगी। वहीं इन स्टार्टअप्स को राज्य में पायलटिंग के अवसर भी प्रदान किए जाएंगे। आईआईटी मंडी के निदेशक प्रोफेसर लक्ष्मीधर बेहरा ने हिमाचल प्रदेश क्षेत्र के उद्यमियों और नवाचारकों से आग्रह किया है कि वे एचएसटी स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज 2023 के इस चरण में प्रतिभाग लेकर अपने नवाचार और विचारों को प्रदर्शित कर सकते हैं।

आईआईटी मंडी कैटलिस्ट के इनक्यूबेशन निदेशक एवं फैकल्टी इंचार्ज डा. पूरन सिंह ने कहा कि मुझे खुशी है कि मैं एचएसटी के अविश्वसनीय विकास और सफलता को देख और महसूस कर रहा हूं। एचएसटी हमें एक समुदाय के रूप में एकजुट करता है। साथ ही यहां स्टार्टअप्स को प्रौद्योगिकी आधारित उपायों के साथ महत्वपूर्ण चुनौतियों का सामना करने के लिए अटूट सहयोग प्रदान किया जाता है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App