मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का ऐलान, जनवरी से लाहुल-स्पीति की हर महिला को मिलेंगे 1500 रुपए

By: Dec 12th, 2023 12:08 am

धर्मशाला में ‘व्यवस्था परिवर्तन का एक साल’ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू का ऐलान, दूध के खरीद मूल्य में छह रुपए का इजाफा

पवन कुमार शर्मा — धर्मशाला

हिमाचल सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह ‘व्यवस्था परिवर्तन का एक साल’ में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि यह आम लोगों की सरकार है, जिसमें महिलाओं, युवाओं, किसानों और कर्मचारियों सहित हर वर्ग को सम्मान दिया जा रहा है। इस अवसर पर सीएम ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि लाहुल-स्पिति जिला की 18 वर्ष से अधिक आयु की सभी महिलाओं को जनवरी माह से 1500 रुपए की राशि दी जाएगी। सीएम ने कहा कि निकट भविष्य में प्रदेश की सभी महिलाओं के साथ किया गया वादा निभाया जाएगा। जिन महिलाओं को अभी 1100 रुपए पेंशन के रूप में मिलते हैं, उन्हें भी अगले वर्ष से बढ़ाकर 1500 रुपए प्रदान किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने अगले वित्त वर्ष से विधवा महिलाओं के बच्चों की उच्च शिक्षा का खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन करने की घोषणा भी की। उन्होंने दूध का खरीद मूल्य छह रुपए बढ़ाने की घोषणा करते हुए कहा कि राज्य सरकार जनवरी, 2024 से गोबर खरीद योजना शुरू करेगी।

यह फैसला किसानों की समृद्धि की दिशा में मील का पत्थर सिद्ध होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार युवाओं के उज्ज्वल भविष्य के दृष्टिगत अनेक महत्त्वपूर्ण फैसले ले रही है। पिछली भाजपा सरकार के कार्यकाल में जेओए (आईटी) की भर्ती रुकी रही, लेकिन हमारी सरकार ने इसकी बेहतर ढंग से पैरवी की और सुप्रीम कोर्ट से राज्य सरकार के हक में फैसला आया। जल्द ही पोस्ट कोड 817 व 939 का रिजल्ट भी घोषित कर दिया जाएगा। आगामी कुछ माह में वर्तमान राज्य सरकार सरकारी क्षेत्र में 20 हजार रोजगार के अवसर प्रदान करेगी, जिनमें वन मित्र भर्ती, पटवारी भर्ती, मल्टीटास्क वर्कर, पुलिस व शिक्षक भर्ती शामिल हैं। पिछली भाजपा सरकार के पांच वर्ष के कार्यकाल में भी इतनी नौकरियां नहीं दी गई थीं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार व्यवस्था परिवर्तन की दिशा में अनेक फैसले ले रही है।  राजस्व बढ़ोतरी के लिए कई उपाय किए गए हैं और शराब ठेकों की नीलामी से सरकार का राजस्व 500 करोड़ रुपए बढ़ा है। इस एक वर्ष में आत्मनिर्भर हिमाचल की नींव रखी गई है तथा वर्ष 2027 तक हिमाचल आत्मनिर्भर और वर्ष 2032 तक देश का सबसे समृद्धतम राज्य बनेगा। ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि उनके परिवार का कोई सदस्य राजनीति में नहीं था, लेकिन 40 वर्ष की तपस्या को देखते हुए पार्टी हाईकमान ने उन्हें प्रदेश की सेवा का मौका दिया।

मुख्यमंत्री बनने के बाद रुटीन कार्य करने के बजाए उन्होंने अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना अपना लक्ष्य बनाया। बीते एक वर्ष में आम और खास के बीच का फासला कम करने के लिए कई कदम उठाए गए। आने वाले वर्ष में सरकार की योजनाएं आम आदमी, किसानों और युवाओं से जुड़ी होंगी। उन्होंने कहा कि एक वर्ष में तीन गारंटियां पूरी कर दी गई हैं। साथ ही 680 करोड़ रुपए की राजीव गांधी स्वरोजगार स्टार्ट-अप योजना के पहले चरण के तहत ई-टैक्सी योजना शुरू की गई है। इसके तहत ई-टैक्सी की खरीद के लिए युवाओं को 50 प्रतिशत सबसिडी भी प्रदान की जा रही है तथा उन्हें निश्चित आय भी सुनिश्चित की जाएगी। अगले सत्र से सभी सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी मीडियम शुरू किया जाएगा। (एचडीएम)

शुक्ला का हमला : आपदा पर अपने दूसरे घर को भूल गए मोदी

धर्मशाला। हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रभारी राजीव शुक्ला ने हिमाचल में आई आपदा को लेकर प्रधानमंत्री मोदी से कोई मदद न मिलने पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जब भी हिमाचल आते हैं, तो इसे अपना दूसरा घर बताते हैं लेकिन उन्होंने आपदा के समय न हिमाचल के लोगों की आर्थिक मदद की और न ही यहां आना मुनासिब समझा। प्रधानमंत्री सिर्फ अपने मतलब के लिए हिमाचल
आते हैं। देवभूमि के लोगों से किए वादों से प्रधानमंत्री को नहीं मुकरना चाहिए।

प्रतिभा सिंह का आह्वान : 2024 के लिए तैयार रहें कांग्रेस कार्यकर्ता

धर्मशाला। कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने कहा कि सरकार अपनी सारी गारंटियां जल्द पूरी करेगी। ओपीएस लागू करने के बाद महिलाओं से किया वादा भी निभाया जाएगा। सांसद प्रतिभा सिंह ने एक साल के जश्न में मौजूद सभी पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं से आगामी लोकसभा चुनावों के लिए मैदान में उतरने का आह्वान करते हुए कहा कि प्रदेश की चारों सीटों पर कांगे्रस जीतेगी। हिमाचल की जनता को केंद्र सरकार द्वारा आपदा में मदद न करने पर उनको सबक सिखाने के लिए तैयार रहना चाहिए।

अग्रिहोत्री का ऐलान: लोकसभा चुनावों में भाजपा को दिखाएंगे धरती

धर्मशाला। उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश में पहले भी भाजपा को धरती दिखाई है और अब लोकसभा चुनावों में फिर से धरती दिखाएंगे। उन्होंने कहा कि जो लोग कहते हैं कि प्रदेश में कुछ नहीं हो रहा है, वह खुद 15 साल सरकार चलाने की बात करते थे, लेकिन अब सडक़ों पर उतरकर कई तरह की साजिशें रचने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कर्मचारियों से आग्रह किया कि वे एनपीएस के नाम पर उनके साथ हुए अन्याय को न भूल जाएं और केंद्र सरकार को चुनावों में सबक सिखाएं।

धर्मशाला में मुख्यमंत्री सुक्खू का रोड शो

सिविल लाइन से पुलिस मैदान तक पैदल निकले सीएम, सडक़ किनारे खड़े समर्थकोंं ने जमकर बरसाए फूल

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — धर्मशाला

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने प्रदेश सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर सोमवार को धर्मशाला के सिविल लाइन से पुलिस मैदान तक रोड शो निकाला। इस दौरान कर्मचारियों, स्कूली छात्रों सहित पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। स्कूली छात्रों ने सीएम पर पुष्पा वर्षा करके उनका स्वागत किया, तो शिक्षकों व शिक्षा बोर्ड सहित शिक्षा विभाग व अन्य कर्मचारियों ने पुष्पगुछ देकर मुख्यमंत्री का रोड शो में स्वागत किया। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुख्खू ने भी अपने पैदल रोड शो के दौरान रास्ते में रुक-रुक कर छात्रों के साथ फोटो खिंचवाए और उनका अभिवादन स्वीकार किया। रोड शो के दौरान सीएम के स्वागत के लिए अलग-अलग स्थानों पर लोक संपर्क विभाग के कलाकारों ने नेपाली, गदियाली, कांगड़ा का झमाकड़ा और और अन्य वर्ग के लोगों ने परंपरागत पहनावे में गीतों व नृत्य के साथ सीएम का स्वागत किया। इस दौरान बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के पक्ष में नारेबाजी भी की। मुख्यमंत्री हालांकि थोड़ा देरी से पहुंचे, लेकिन छात्र-छात्राएं और कर्मचारी घंटों सडक़ पर खड़े रहे।

रोड शो में न प्रियंका गांधी आईं, न आए मल्लिकार्जुन खडग़े

धर्मशाला में प्रदेश सरकार के ‘व्यवस्था परिवर्तन का एक साल’ कार्यक्रम में न ही प्रियंका गांधी पंहुचीं और न ही पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मालिकार्जुन खडग़े पंहुचे। हालांकि प्रियंका गांधी शिमला में ही हैं, बावजूद इसके वह सुक्खू सरकार के कार्यक्रम में नहीं आई। वहीं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष खडग़े भी कार्यक्रम का हिस्सा नहीं बन पाए। कार्यक्रम में दिल्ली से सिर्फ हिमाचल प्रभारी राजीव शुक्ला और उपप्रभारी तजेंद्र बिट्टू ही बड़े नेता के रूप में धर्मशाला पंहुचे। हालांकि पार्टी के किसी भी बड़े नेता के इस कार्यक्रम में न पहुंचने से पार्टी कार्यकर्ताओं में बेशक मायूसी दिखी, लेकिन बावजूद इसके रैली में बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई, जिससे मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू व मंत्री उत्साहित दिखे।

कांगड़ा एयरपोर्ट को शुरू होगा भूमि अधिग्रहण

धर्मशाला — प्रदेश सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला में आयोजित कार्यक्रम के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री सुखविंद्र सिंह ने कहा कि कांगड़ा एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लिए एक माह में आरआर की रिपोर्ट आ जाएगी और उसके बाद भूमि अधिग्रहण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि हवाई अड्डा बनाने के साथ ही प्रशासन राहत एवं पुनर्वास का प्लान भी तैयार करता है। उसी आधार पर आगामी कार्यवाही चलती है।

रोजगार के अवसर बढ़ाने पर रहेगा जोर

मुख्यमुंत्री ने कहा कि रोजगार के अवसर बढ़ाने और स्कलों में बेहतर शिक्षा व्यवस्था बनाने के लिए जल्द ही एक नई पॅालिसी तैयार की जाएगी। इसमें जेबीटी शिक्षकों को गेस्ट लेक्चर बेस्ड रोजगार दिया जाएगा। इसके लिए पूरी योजना बनाई जा रही है। केंद्रीय विवि के धर्मशाला कैंपस मामले में सीएम ने केंद्र सरकार पर मामला डालते हुए कहा कि भू वैज्ञानिकों की रिपार्ट आने के बाद ही केंद्रीय विवि के धर्मशाला कैंपस के लिए आगामी कार्यवाही की जाएगी।

त्रियूंड जाने पर हिमाचलियों से शुल्क नहीं

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने एक सवाल के जवाव में कहा कि त्रियूंड ट्रैकिंग स्थल पर जाने के लिए हिमाचल के लोगों से कोई टैक्स नहीं लिया जाएगा। वन विभाग की अधिसूचना को अमेंड किया जाएगा। यह केवल पर्यटकों के लिए लागू होगा। गौरतलब है कि ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ ने त्रियंूड जाने वाले लोगों से शुल्क लेने का मामला प्रमुखता से उठाया था और अब सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने इसमें बदलाव करने का ऐलान किया है। इससे प्रदेश के लोगों को राहत मिलेगी।

प्रदेश सरकार के ‘365 दिन-365 फैसले’ पुस्तिका का विमोचन

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू की सरकार ने एक साल का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला में जश्रा मनाया। इस अवसर पर सीएम सुक्खू ने वर्तमान प्रदेश सरकार की एक वर्ष की उपलब्धियों पर आधारित सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा तैयार एक कॉफी टेबलबुक, ‘365 दिन, 365 फैसले ’ पुस्तिका, ई-बुक तथा पत्रिका का विमोचन भी किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने आपदा से प्रभावित कांगड़ा जिला के 581 प्रभावित परिवारों को 13.58 करोड़ रुपए की राशि पहली किस्त के रूप में दी।

प्रदेश से किए वादों से न मुकरें मोदी

धर्मशाला — हिमाचल प्रदेश कांग्रेस प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद राजीव शुक्ला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हिमाचल में आई आपदा को लेकर जमकर हमला बोला। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार पर हिमाचल में आई आपदा के दौरान प्रभावितों की मदद नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि ऐसे तो प्रधानमंत्री जब भी हिमाचल आते हैं, तो इसे अपना दूसरा घर बताते हैं, लेकिन उनके दूसरे घर में आई भयंकर आपदा के दौरान न ही उन्होंने हिमाचल के लोगों की आर्थिक मदद की और न ही हिमाचल आना मुनासिब समझा। श्री शुक्ला ने कहा कि देवभूमि के लोगों से किए वायदों से प्रधानमंत्री को नहीं मुकरना चाहिए। कांगड़ा जिला के मुख्यालय धर्मशाला में सोमवार को प्रदेश सरकार के ‘व्यवस्था परिवर्तन का एक साल’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए हिमाचल कांग्रेस प्रभारी ने यह बात कही।

कांग्रेस प्रभारी ने कहा कि प्रधानमंत्री जहां भी जाते हैं, वहां का पहनावा पहनकर उसे ही अपना दूसरा घर बताते हैं, लेकिन इस तरह की आपदा में वह भेदभाव की राजनीति करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी सिर्फ उन्हीं राज्यों में जाते हैं, जहां चुनाव होने होते हैं और वहीं उनका घर बन जाता है। उन्होंने कहा कि आपदा की घड़ी में मोदी सरकार ने हिमाचल की कोई मदद नहीं की, जबकि दूसरी ओर सुक्खू सरकार ने रात का जाग-जाग कर प्रभावितों को सुरक्षित ठिकानों तक पंहुचाया। मुख्यमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री सहित केंद्रीय मंत्रियों से मिलने के बावजूद हिमाचल को कोई केंद्र से कोई आर्थिक मदद नही मिली।

अब 2024 के लिए तैयार रहें कार्यकर्ता

धर्मशाला — कांग्रेस पार्टी की प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह ने सरकार के एक साला जश्र में कहा कि सरकार अपनी अगली गारंटियां भी जल्द पूरी करेगी। ओपीएस लागू करने के बाद महिलाओं से किए वादे को भी निभाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आई आपदा के कारण गारंटियां लागू करने में कुछ समय लगा है, लेकिन आने वाले समय में सभी गारंटियां लागू की जाएंगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल को अपना घर बताते हैं, लेकिन महंगाई, रोजगार और भ्रष्टाचार समाप्त करने के मामले में उन्होंने कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि आपदा के समय में वह प्रधानमंत्री से मिलीं और प्रदेश की सहायता का पक्ष रखा, लेकिन उस दिशा में कुछ नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि इस मसले पर भाजपा समर्थित सांसदों से भी कई बार बात की गई, लेकिन उन्होंने भी गंभीरता नहीं दिखाई। सांसद प्रतिभा सिंह ने एक साल के जश्र में मौजूद सभी पार्टी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं से आगामी लोकसभा चुनावों के लिए मैदान में उतरने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की चारों सीटों पर कांगे्रस जीतेगी। प्रतिभा सिंह ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाने साधे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आई आपदा पर उन्होंने प्रधानमंत्री के समक्ष राहत देने की बात रखी थी, लेकिन पीएम ने मेरी बात को हंस कर टालते हुए कहा कि मदद कर रहा हूं और करूंगा। प्रतिभा सिंह ने कहा कि पीएम ने आपदा में राहत की बात को नजरअंदाज किया।

चुनावों में भाजपा को जमीन दिखाएंगे

धर्मशाला — उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि एक साल पूर्व सत्ता से बाहर हुई भाजपा के नेताओं को अभी भी विश्वास नहीं है कि वे सत्ता से बाहर हो चुके हैं। श्री अग्रिहोत्री ने कहा कि प्रदेश में पहले भी भाजपा को धरती दिखाई है, अब लोकसभा चुनावों में फिर से धरती दिखाएंगे। उन्होंने कहा जो लोग कहते हैं कि कुछ नहीं हो रहा है, वे खुद 15 साल सरकार चलाने की बात करते थे, रिवाज बदलने को कहते थे, लेकिन आज भी सडक़ों पर उतर कर कई तरह की साजिशें रचने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार पूरी तरह से स्थिर, स्थायी और टिकाऊ है। कोई भी हमारी सरकार को अस्थिर नहीं कर सकता, सरकार पूरे पांच साल चलेगी। उन्होंने कहा कि जनता के साथ मिलकर बेहतरीन कार्य के संकल्प के साथ कांगे्रस सत्ता में आई है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जब पूर्व भाजपा सरकार सत्ता से गई, तो प्रदेश पर 92 हजार करोड़ का कर्जा और देनदारियां छोड़ गई। इन देनदारियों में 12 हजार करोड़ कर्मचारियों का है, जबकि 5000 करोड़ की आखिरी साल में की गई घोषणाओं का बनता है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने उस दौरान सरकार बचाने को आखिरी साल में 16 हजार करोड़ का कर्ज लिया। सत्ता छोडऩे से पहले उन्होंने प्रदेश का खजाना खाली कर दिया था। पूर्व सरकार के समय फिजूलखर्ची और क्रिप्टोकरंसी सहित घोटाले हुए।

धर्मशाला पहुंचीं 950 बसें

प्रदेश कांग्रेस सरकार को एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला में महारैली का आयोजन किया गया। रैली में भाग लेने के लिए प्रदेशभर से कार्यकर्ता और लोगों की भारी संख्या सोमवार को एचआरटीसी की 950 सरकारी बसों से धर्मशाला पहुंची। इसके चलते प्रदेशभर के सैकड़ों बस रूट प्रभावित हुए।

विधवाओं के बच्चों को पढ़ाएंगे सीएम सुक्खू

कमजोर वर्गों के लिए सुखाश्रय योजना के बाद प्रदेश सरकार के दूसरे कार्यक्रम की घोषणा

राजेश मंढोत्रा — शिमला

धर्मशाला में कांग्रेस सरकार के एक साल पूरा होने पर हुई रैली में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने समाज के कमजोर और बेसहारा वर्गों के लिए एक नई घोषणा की है। राज्य में अनाथ बच्चों के लिए सुखाश्रय स्कीम लागू करने के बाद यह दूसरी ऐसी योजना होगी। मुख्यमंत्री ने ऐलान किया है कि राज्य में विधवाओं के बच्चों को पढ़ाने का खर्चा सरकार उठाएगी। नए बजट से इस योजना को लागू किया जा रहा है। हालांकि मुख्यमंत्री संबंधित विभाग के साथ करीब दो महीने से इस स्कीम पर चर्चा कर रहे हैं। इसीलिए इस योजना का डाटा भी तैयार हो गया है। हिमाचल में 114000 के करीब विधवाएं अभी सरकारी रिकॉर्ड में हैं। इनके लिए पेंशन की व्यवस्था एम्पावरमेंट ऑफ एससी, ओबीसी, माइनॉरिटी और स्पेशली एबल्ड डिपार्टमेंट करता है। इसे ई-सोमसा भी कहते हैं, लेकिन यदि विधवाओं के बच्चों को पढ़ाने का खर्चा उठाना है, तो यह सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के माध्यम से होगा।

इस विभाग द्वारा की गई गणना के अनुसार ऐसे 16000 बच्चे हैं, जिनकी उम्र 18 साल से नीचे है। हालांकि सुखाश्रय के लिए राज्य सरकार ने 27 साल तक स्क्रीम को लागू किया है। इसलिए विधवाओं के बच्चों को पढ़ाने के लिए क्या उम्र सरकार तय करेगी, यह उस पर निर्भर करेगा। सुखाश्रय में अनाथ बच्चों को सरकार हर साल 48000 रुपए पॉकेट मनी ही देगी। फेस्टिवल अलाउंस, कपड़ों के लिए भत्ता और घूमने के लिए अलग से पैसे दिए जा रहे हैं। ऐसे में विधवाओं के बच्चों के लिए क्या योजना होगी, इसके लिए इंतजार करना पड़ेगा।

बजट में आएंगी कांग्रेस की तीन गारंटियां

धर्मशाला की रैली में राज्य की मुश्किल आर्थिक परिस्थितियों के बावजूद मुख्यमंत्री ने जहां महिलाओं को 1500 रुपए देने की स्कीम को लाहुल स्पीति से लागू किया, वहीं कांग्रेस की तीन गारंटीयों को अगले बजट में लाने की घोषणा की है। ओल्ड पेंशन, राजीव गांधी स्टार्टअप योजना और इंग्लिश मीडियम स्कूलों की गारंटी पूरी हो चुकी है। राज्य के लोगों के लिए सोलर पावर में भी एक योजना सरकार लाने वाली है, जिसमें तीन बीघा जमीन पर प्लांट लगाने पर सरकार हर महीने 20000 रुपए जमीन के मालिक को देगी, लेकिन इससे भी बड़ी एक स्कीम बजट में आ सकती है और यह सिर्फ किसानों के लिए होगी। प्री बजट बैठकों में इसकी तैयारी चल रही है।

रोड शो में दिखी हिमाचली-तिब्बती संस्कृति की झलक

धर्मशाला — प्रदेश कांग्रेस सरकार के एक साल के कार्यकाल के पूरा होने के उपलक्ष्य पर धर्मशाला में आयोजित होने वाले कार्यकम से पहले हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग जिलों की पारंपरिक वेषभूषा पहने विभिन्न सांस्कृतिक समूहों के सदस्यों ने रोड शो के दौरान मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के स्वागत में अपने वाद्य यंत्रों के साथ प्रस्तुति दी। रोड शो में तिब्बती लोगों ने पारंपरिक नृत्य पेश कर उनका स्वागत किया। चंबा और कांगड़ा के लोगों ने भी पारंपरिक नृत्य पेश कर हिमाचल प्रदेश की संस्कृति की झलक मुख्यमंत्री के सामने पेश की। कुल्लू, किनौर, शिमला, सोलन, सरमौर सहित अन्य जिलों से आए कलाकारों ने शहनाई, नरसिंगे व ढोलक की थाप से मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्री विधायक का स्वागत किया। प्रदेश कांग्रेस सरकार के एक साल के कार्यकाल के पूरा होने के उपलक्ष पर धर्मशाला में आयोजित होने वाले कार्यकम में मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के रोड शो में गुलाब की पंखुडिय़ों से स्वागत किया गया।

जश्न के बहाने सीएम का शक्ति प्रदर्शन

रैली में नहीं आए बड़े नेता, रोड शो से लेकर होर्डिंग तक हर जगह छाए रहे मुख्यमंत्री सुक्खू

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — धर्मशाला

मुख्यमंत्री सुखविंदर ने सुक्खू ने सरकार के एक साल के कार्यक्रम के बहाने कांगड़ा में मेगा शो करके भविष्य के लिए कई सियासी संदेश दिए हैं। प्रियंका गांधी और मलिका अर्जुन खडग़े सरीखे बड़े नेताओं के न आने के बावजूद सुक्खू ने कुशल राजनीतिज्ञ का परिचय देते हुए अपनी धमक दिखाने का प्रयास किया। रोड शो में भी पार्टी प्रभारी या उपमुख्यमंत्री के बिना ही सुक्खू अकेले पैदल मार्च कर अपना शो करते दिखाई दिए। इतना ही नहीं, शहर में लगे होर्डिंग्स में भी सीएम ही चेहरा बने रहे। पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पूरे शो में कहीं नहीं दिखे, न ही उन्हें याद किया गया। कांगड़ा जिला के लोगों को भी उम्मीदों के अनुसार कुछ नहीं मिल पाया। धर्मशाला में रैली होने से कांगड़ा व चंबा के लोगों को कई उम्मीदें थीं, लेकिन उनके हाथ फिलहाल निराशा ही लगी है।

कांगेे्रस ने धर्मशाला में राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन कर लोकसभा चुनाव का शंखनाद भी कर दिया है। धर्मशाला में आयोजित समारोह के दौरान सीएम के अलावा अन्य कांग्रेस नेताओं ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर हमले किए। सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू, प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह, प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला व मुकेश अग्रिहोत्री सहित सभी वक्ताओं ने आपदा राहत के मुदद्े पर केंद्र सरकार व भाजपा को जमकर घेरा। धर्मशाला के पुलिस मैदान में हुए मुख्यमंत्री सुक्खू के मेगा शो में ओपीएस लेने वाले कर्मचारियों ने उनका साथ निभाते हुए संख्या बढ़ाने में पूरा सहयोग किया।

अपनी टीम को दी थी जिम्मेदारी

शो को सफल बनाने के लिए भी मुख्यमंत्री ने कांगड़ा के किसी वरिष्ठ नेता या मंत्री पर भरोसा करने के बजाय मंत्री जगत सिंह नेगी और अपनी टीम को मैदान में उतारा था। इससे कांगड़ा के नेताओं में भले ही निराशा हुई हो, लेकिन सीएम ने अपने बूते भीड़ जुटाने सहित तमाम इंतजाम करके भी दूसरे खेमे को बड़ा सियासी संदेश देने का प्रयास किया है। पुलिस ग्राउंड में जुटी भीड़ और व्यवस्थाओं को देख कर प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला भी सीएम की पीठ थपथपा गए। मंच से सभी वक्ताओं ने सीएम के प्रयासों को सराहते हुए उनके साथ खड़े रहने का ऐलान कर उन्हें मजबूत किया।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App