दिव्यांगजनों का सशक्तिकरण करेगी सरकार

By: Dec 4th, 2023 12:16 am

बद्दी में जिला स्तरीय अंतरराष्ट्रीय दिव्यांगजन समारोह में स्वास्थ्य मंत्री डा. शांडिल ने की शिरकत

विपिन शर्मा-बीबीएन
स्वास्थ्य मंत्री कर्नल डा. धनीराम शांडिल ने कहा कि प्रदेश सरकार दिव्यांगजनों के सशक्तिकरण एवं इन तक विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभ समय पर पहुंचाने के लिए कृतसंकल्प है। डा. शांडिल रविवार को बद्दी में आयोजित जिला स्तरीय अंतरराष्ट्रीय दिव्यंागता दिवस समारोह की अध्यक्षता कर रहे थे। स्वास्थ्य मंत्री तथा मुख्य संसदीय सचिव चौधरी राम कुमार ने इस अवसर पर 64 व्हील चेयर, 05 बैसाखी, 02 छड़ी, 01 कैलिवर, 14 श्रवण यंत्र, 03 विजूय़ल ऐड तथा 01 वॉकर वितरित किए। डा. शांडिल ने कहा कि दिव्यांग का अर्थ यह नहीं कि वे किसी से कमजोर हैं बल्कि दिव्यांगजन में आम लोगों की तुलना अधिक आत्मबल और इच्छा शक्ति होती है। कोई भी दिव्यांग अपने आप को दिव्यांग न समझे बल्कि अपने आत्मबल के माध्यम से जीवन में सदैव ऊंचा उठने का प्रयास करें। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने दिव्यांगजनों के लिए अवसर सृजित करने के लिए कई कदम उठाए हैं ताकि वह आगे बढ़ सकें। उन्होंने कहा कि सभी के साथ अच्छा व्यवहार आवश्यक है। दिव्यांगजनों को आत्मविश्वास और आत्मबल प्रदान करने में अच्छा व्यवहार जरूरी है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग व्यक्ति का जीवन साधारण होता हैं हमें उनका मार्गदर्शन करना चाहिए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा जिला सोलन में दिव्यांग राहत भत्ता (पेंशन) के तहत 4537 पात्र दिव्यांगजनों को लगभग 3.65 करोड़ रुपए की राशि प्रदान की गई हैं।

उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी अपंग राहत भत्ता के 119 लाभार्थियों को लगभग 12.09 लाख रुपए की राशि तथा 79 दिव्यांग छात्रों को लगभग 07.74 लाख रुपए की राशि प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा दिव्यांगों को सरकारी नौकरी में 04 प्रतिशत आरक्षण दिया जा रहा है ताकि इनका जीवन बेहतर बन सके। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सरकार के गठन के तुरंत बाद अपने पहले निर्णय में समाज के संवेदनशील आश्रित वर्ग का सहारा बनने का संकल्प लेते हुए मुख्यमंत्री सुखाश्रय योजना आरंभ की। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार 27 वर्ष तक के अनाथ बच्चों को 4,000 रुपए मासिक जेब खर्च, कोचिंग के लिए एक लाख, तीन बिस्वा भूमि और मकान निर्माण के लिए 03 लाख रुपए, विवाह के लिए दो लाख रुपए का अनुदान और सूक्ष्म व लघु उद्योग लगाने के लिए दो लाख रुपए का अनुदान प्रदान कर रही है। सुखाश्रय योजना के तहत मुख्यमंत्री सुखाश्रय कोष का भी गठन भी किया गया है जिसमें लगभग 04 हजार से अधिक बेसहारा बच्चों को चिल्ड्रन ऑफ द स्टेट के रूप में अपनाया गया है। इस अवसर पर दिव्यांग बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया। एचडीएम

अविनाश कौंडल को किया सम्मानित
डा. शांडिल ने इस अवसर पर बर्लिन (जर्मनी) में आयोजित स्पेशल ओलंपिक वर्ड समर गेम्ज में वास्केटबॉल की टीम प्रतिस्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल करने वाले खिलाड़ी अविनाश कौंडल को सम्मानित किया।

कार्यक्रम में ये रहे मौजूद
नगर परिषद बददी के अध्यक्ष तरसेम चौधरी, खंड कांग्रेस समिति दून के अध्यक्ष कुल्तार सिंह, ग्राम पंचायत भटोली कलां के उप प्रधान बिल्लू खान, पार्षदगण, जिला कांग्रेस समिति के उपाध्यक्ष अच्छर पाल कौशल, अतिरिक्त उपायुक्त सोलन अजय कुमार यादव, उपमंडलाधिकारी नालागढ़ दिव्यांशु सिंगल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी सोलन डा. राजन उप्पल, जिला कल्याण आधिकारी सोलन गावा सिंह नेगी, जिला कार्यक्रम अधिकारी विनोद कुमार, कल्याण संयुक्त निदेशक उद्योग (सिंगल विंडो) योगेश गुप्ता, उप पुलिस अधीक्षक बददी प्रियंक गुप्ता, तहसील कल्याण अधिकारी सोलन सुरेंद्र सिंह, गणपति एजुकेशन सोसाइटी कुनिहार के सदस्य, बददी-बरोटीवाला-नालागढ़ उद्योग संघ के प्रतिनिधियों सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App