नादौन के नितिन पटियाल ने आगे बढ़ाई परिवार की परंपरा, भारतीय वायुसेना में बने फ्लाइंग अफसर

By: Dec 11th, 2023 10:01 pm

कार्यालय संवाददाता— हमीरपुर

नादौन उपमंडल के बटरान पंचायत के टिल्ला गांव के नितिन पटियाल एयरफोर्स टेक्निकल कॉलेज बंगलुरु से हाल ही में पासआउट हुए हैं। नितिन पटियाल ने कड़ी मेहनत और लगन से यह मुकाम हासिल किया है। उनकी प्रारंभिक शिक्षा केंद्रीय विद्यालय पुष्प विहार नई दिल्ली एवं इंजीनियरिंग मानव रचना इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी फरीदाबाद से हुई है। उन्होंने इंडियन एयरफोर्स ज्वाइन कर परिवार द्वारा पीढ़ी दर पीढ़ी देश सेवा करने की परंपरा को बरकरार रखा, क्योंकि उनके दादा स्वर्गीय जयराम पटियाल भारतीय सेना (सीएमपी) में सेवारत थे और पिता नागेश सिंह केंद्रीय पुलिस बल (सीआईएसएफ) में निरीक्षक पद पर तैनात हैं।

नितिन पटियाल इससे पहले बंगलुरु की एक प्रतिष्ठित आईटी कंपनी एंड नोएडा के रिप्यूटेड एजुकेशनल संस्थान में आईटी/टेक्निकल ऑफिसर के रूप में करीब दो वर्ष कार्य कर चुके हैं। नितिन पटियाल ने इस गौरवशाली पल में अपनी सफलता का श्रेय दादी कमला देवी और माता सुजाता सहित परिवार के सभी सदस्यों, टीचर्स, मौसा हॉनरी लेफ्टिनेंट विजय ढटवाल, एडमिंस्ट्रेटर ऑलिव ग्रीन इंस्टीट्यूट चंडीगढ़ को दिया है।

सैन्य अफसर बने डीडीएम के मोहित चाहर-अंकित

संदीप सर दून डिफेंस एकेडमी के निदेशक संदीप गुप्ता ने दी बधाई

निजी संवाददाता—देहरादून

संदीप सर दून डिफेंस एकेडमी के छात्र मोहित चाहर और अंकित सिंह आईएमए से पासआउट होकर सेना में अफसर बन गए। डीडीए के निदेशक संदीप गुप्ता ने दोनों छात्रों को बधाई दी और उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि उनका सीना तब गर्व से चौड़ा हो गया, जब 372 कैडेट्स के साथ मोहित चाहर और अंकित ने कदमताल करते हुए अंतिम पग को पार किया और भारतीय सेना में अफसर बन गए। उन्होंने कहा कि जब मैं अपने छात्रों को कामयाब होते देखता हूं, तो यही मेरी असली गुरुदक्षिणा होती है। पासिंग आउट परेड के बाद मोहित और अंकित ने डीडीएम में आकर छात्रों को मोटिवेट किया और सफलता के मूलमंत्र दिए। दूसरी ओर डीडीए के निदेशक संदीप गुप्ता ने बताया कि एनडीए, सीडीएस के एडमिशन के साथ ही फाउंडेशन कोर्स प्रथम पग में एडमिशन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ओपन हैं। फाउंडेशन कोर्स में सीटों की संख्या सीमित हैं। 11वीं में गल्र्स के 40 तथा ब्वॉयज के लिए 8वीं व 9वीं में 40 व 11वीं में 60 सीटें ही हैं।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App