18 महीने कैद, फिर सजा-ए-मौत और अब रिहाई, कतर से वतन लौटे 8 पूर्व भारतीय नौसेना कर्मी

By: Feb 12th, 2024 10:44 am

नई दिल्ली। कतर की जेल में 18 महीने की कैद भुगतने के बाद सजा-ए-मौत का फैसला और अब रिहाई। कतर एक कंपनी में काम करने वाले भारतीय नौसेना के आठ पूर्व कर्मियों को रिहा कर दिया गया है और इनमें से सात लोग बीती रात स्वदेश लौट आए हैं। विदेश मंत्रालय ने सोमवार को यहां एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत सरकार कतर में हिरासत में लिए गए दहरा ग्लोबल कंपनी के लिए काम करने वाले आठ भारतीय नागरिकों की रिहाई का स्वागत करती है। इन आठ में से सात लोग भारत लौट आए हैं। हम इन नागरिकों की रिहाई और घर वापसी को सक्षम करने के लिए कतर राज्य के अमीर के फैसले की सराहना करते हैं। स्वदेश लौटने पर एक कर्मी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उनकी रिहाई से वे बहुत खुश हैं और यह कठिन काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्यक्तिगत हस्तक्षेप के बिना संभव नहीं था। कतर में आठवें भारतीय के बारे में विदेश मंत्रालय ने अभी कुछ नहीं कहा है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App