अमरीकी कंपनी इंट्यूटिव मशीन्स ने रचा इतिहास, चंद्रमा के साउथ पोल पर उतरा पहला प्राइवेट स्पेसक्राफ्ट

By: Feb 23rd, 2024 11:00 pm

 भारत के चंद्रयान-3 के बाद ऐसा करने वाला दूसरा देश

एजेंसियां — वाशिंगटन
अमरीका की ह्यूस्टन बेस्ड प्राइवेट कंपनी इंट्यूटिव मशीन्स का लैंडर ओडिसियस चंद्रमा के साउथ पोल पर सफलतापूर्वक लैंड हो गया है। इसे 15 फरवरी 2024 को लांच किया गया था। भारतीय समय के मुताबिक शुक्रवार तडक़े चार बजकर 53 मिनट पर स्पेसक्राफ्ट की लैंडिंग हुई। इसी के साथ ओडिसियस मून लैंडिंग करने वाला किसी प्राइवेट कंपनी का पहला स्पेसक्राफ्ट बन गया है।

वहीं, अमरीका दूसरा देश है, जो चंद्रमा के साउथ पोल पर उतरा। इससे पहले 23 अगस्त, 2023 को भारत के चंद्रयान-3 की साउथ पोल पर सफल लैंडिंग हुई थी। लैंडिंग से पहले ओडिसियस के नेविगेशन सिस्टम में कुछ खराबी आई थी। हालांकि इसके बावजूद लैंडिंग कराई गई। मिशन के डायरेक्टर टिम क्रेन ने कहा कि हम बिना किसी संदेह के कह सकते हैं कि ओडिसियस चांद की सतह पर मौजूद है।

चांद पर मौजूद धूल की स्टडी करेगा

ओडिसियस मून मिशन का मकसद चांद पर मौजूद धूल की स्टडी करना है। दरअसल, अपोलो मिशन पूरा करके लौटे अंतरिक्ष यात्रियों ने बताया था कि धूल की वजह से उनके इक्विपमेंट्स खराब हुए थे, इसलिए अब साइंटिस्ट समझाना चाहते हैं कि स्पेसक्राफ्ट के लैंड होने से उडऩे वाली धूल कैसे हवा में रहती है और फिर मून सरफेस पर बैठ जाती है।

जहां लैंडिंग हुई, वहां भेजे जाएंगे इनसान

लैंडर ओडिसियस जिस जगह पर लैंड हुआ है, उसे मालापर्ट के नाम से जाना जाता है। यहां सूरज की रोशनी नहीं पहुंचती। यह इलाका उन जगहों की शॉर्टलिस्ट में है, जहां अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा आर्टिमिस मिशन के तहत अंतरिक्ष यात्रियों को भेजने पर विचार कर रहा है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App