डाक्टरों को जल्द मिलेगा नॉन प्रैक्टिस अलाउंस, प्रोग्राम आफिसर लगाए जाएंगे MBBS डाक्टर

By: Feb 13th, 2024 4:14 pm

विशेष संवाददाता-शिमला

प्रदेश सरकार डाक्टरों का नॉन प्रेक्टिस अलाउंस (एनपीए) जल्द बहाल करेगी। इसके अलावा एमबीबीएस डाक्टरों को प्रोग्राम आफिसर लगाने पर भी मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने सहमति जता दी है। मेडिकल आफिसर एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने मंगलवार को सचिवालय में मुख्यमंत्री से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने कहा कि डाक्टरों की मांगों को लेकर जल्द ही कदम उठाए जाएंगे। राज्य सरकार आगामी दिनों में फैसला लेगी। इस मौके पर मेडिकल आफिसर एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष डा. राजेश राणा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उनकी मांगों को मानने का आश्वासन दिया है, लेकिन एसोसिएशन के पदाधिकारी अब दोबारा बैठक करेंगे।

उन्होंने कहा कि इस मुलाकात के दौरान जो चर्चा हुई है, उसके मिनट्स का इंतजार किया जाएगा। मौखिक तौर पर ही अभी तक आश्वासन मिला है। डाक्टरों के विरोध को जारी रखने या रोकने पर आगामी फैसला एसोसिएशन की बैठक के बाद लिया जाएगा। गौरतलब है कि डाक्टरों ने एनपीए समेत चार प्रमुख मांगों को लेकर प्रदेश भर में आंदोलन शुरू किया है। आंदोलन के तहत डाक्टर काले बिल्ले लगाकर अस्पतालों में मरीजों का उपचार कर रहे हैं। इस प्रदर्शन को देखते हुए मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने एसोसिएशन को वार्ता का न्योता दिया था। मुख्यमंत्री के पहले दिल्ली में और उसके बाद उपमुख्यमंत्री की धर्मपत्नी के निधन में व्यस्त रहने की वजह से मुलाकात बुधवार को तय हुई थी।

एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने इस दौरान प्रदेश में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया करवाने पर भी चर्चा की है। इस दौरान डाक्टरों ने जो प्रमुख मांगें सामने रखी हैं उनमें एनपीए के अलावा डाक्टरों के लिए प्रमोशन चैनल तय करने और प्रोग्राम आफिसर के तौर पर एमबीबीएस डाक्टरों को जिम्मेदारी सौंपने की बात कही है। मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि डाक्टरों की सभी मांगों को जल्द ही पूरा किया जाएगा। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को आदेश दिए जाएंगे। हालांकि मुख्यमंत्री के इस आश्वासन के बाद भी अब एसोसिएशन ने बैठक के मिनट्स का इंतजार करने और एसोसिएशन की दोबारा बैठक बुलाकर भविष्य की रणनीति तय करने की बात कही है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App