सिरमौर में मिड-डे-मिल के सैंपल भरे जाएंगे

By: Feb 13th, 2024 12:16 am

उपायुक्त सुमित खिमटा ने दिए निर्देश, आंगनबाड़ी के राशन की भी होगी सैंपलिंग

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-नाहन
उपायुक्त सिरमौर सुमित खिमटा ने कहा कि सिरमौर जिला में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 (एनएफएसए) के तहत विभिन्न सरकारी विद्यालयों में चलाई जा रही मिड-डे-मिल योजना के अंतर्गत स्कूलों को दिए जाने वाले राशन की गुणवत्ता की जांच के लिए निर्धारित समय पर सैंपलिंग की जाए। इसी प्रकार आंगनबाड़ी केंद्रों में दिए जाने वाले राशन की भी समय-समय पर जांच करने के लिए कहा। उपायुक्त सुमित खिमटा सोमवार को जिला मुख्यालय नाहन में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के अंतर्गत गठित जिला स्तरीय सतर्कता समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

सुमित खिमटा ने बताया कि एनएफएसए के तहत सिरमौर जिला के ग्रामीण क्षेत्र में 2,66,965 जनसंख्या को अधिनियम के तहत योजना का लाभ पहुंचाने के लिए चयनित किया गया है, जबकि शहरी क्षेत्र में 14138 लोगों का चयन हुआ है। उन्होंने कहा कि अधिनियम के तहत सभी लक्षित पात्र लोगों को योजना का लाभ मिले इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति तथा पंचायती राज एवं ग्रामीण विकास विभाग को संयुक्त रूप से प्रयास करने चाहिए। सुमित खिमटा ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर आयोजित होने वाली ग्राम सभाओं में स्थानीय निवासियों को इस योजना का लाभ लेने के लिए प्रेरित किया जाना चाहिए। इसी प्रकार शहरी क्षेत्र में भी लोगों को प्रेरित करना होगा। उन्होंने जिला के समस्त खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए कि एनएफएसए के सफल कार्यान्वयन के लिए सभी पंचायतों में होने वाली ग्राम सभाओं में इसका व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाना चाहिए।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App