गुरु की नगरी में धूमधाम से मनाया साहिबजादा अजीत सिंह का प्रकाशोत्सव

By: Feb 13th, 2024 12:17 am

श्री पांवटा साहिब में सजा भव्य कीर्तन पाठ, हजारों की संगत ने नवाया शीश

कार्यालय संवाददाता-पांवटा साहिब
गुरु की नगरी पांवटा साहिब में श्री गुरु गोविंद सिंह जी के प्रथम पुत्र साहिबजादा अजीत सिंह का प्रकाश उत्सव धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर गुरुद्वारा श्री पांवटा साहिब में कीर्तन पाठ का आयोजन किया गया, जिसमें रागी जत्थों द्वारा कीर्तन पाठ किया गया। इस दौरान दीवान साहिब भी सजाया गया। साहिबजादा अजीत सिंह के प्रकाश उत्सव पर हजारों की संख्या में संगतें अलग-अलग राज्यों से पांवटा साहिब गुरुद्वारे पहुंचे और दरबार साहिब में अरदास की। इस दौरान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मैनेजर जागीर सिंह ने कहा कि साहिबजादा अजीत सिंह के प्रकाश उत्सव पर हजारों संगतों ने शीश नवाजा। इस दौरान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा कलेंडर भी जारी किया। इस दौरान जागीर सिंह ने बताया कि संगतों के रहने और खाने का पूरा प्रबंध किया गया था। बता दें कि शनिवार को साहिबजादा अजीत सिंह के प्रकाश उत्सव पर श्री भंगानी साहिब से पांवटा साहिब तक फतेह मार्च का आयोजन किया गया था।

नगर कीर्तन भंगानी गुरुद्वारे से 20 किलोमीटर का सफर तय करके पांवटा साहिब गुरुद्वारे में पहुंचा था। भंगानी साहिब में दशम पातशाह श्री गुरु गोविंद सिंह जी ने इस दिन गोरखा राजा के खिलाफ पहला धर्म युद्ध लड़ा था। इस यु़द्ध में उन्हें जीत मिली थी और इसी दिन पांवटा साहिब में उनके पहले बेटे साहिबजादा अजीत सिंह का जन्म भी हुआ था। गुरु गोविंद सिंह द्वारा प्रथम धर्म युद्ध की जीत व उनके बड़े पुत्र बाबा अजीत सिंह प्रकाशोत्सव के अवसर पर पांवटा साहिब के भंगानी साहिब से गुरुद्वारा पांवटा साहिब के लिए फतेह मार्च निकाला गया था।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App