विशेष

भाजपा के इन नेताओं का गढ़ रहा धर्मशाला

By: Apr 2nd, 2024 12:08 am

35 साल काबिज रहे किशन कपूर, मेजर बृजलाल-विशाल नैहरिया ने भी पाई सफलता

स्टाफ रिपोर्टर — धर्मशाला

प्रदेश के सबसे बड़े जिला कांगड़ा के महत्त्वपूर्ण विधानसभा क्षेत्र धर्मशाला में विधानसभा चुनावों में अब तक के इतिहास में वर्ष 2019 से पहले कभी भी उपचुनाव नहीं हुए, लेकिन अब लगातार दो टर्म से धर्मशाला में उपचुनाव हो रहे हैं। धर्मशाला में भाजपा की बढ़त रही है। धर्मशाला में पहली बार 2019 में हुए उपचुनाव में भी जीत दर्ज करने का रिकार्ड भाजपा के ही नाम रहा है। ऐसे में धर्मशाला में भाजपा ने अब तक आठ जीत का रिकार्ड बनाया है, जबकि दूसरे नंबर पर कांग्रेस अब तक छह बार धर्मशाला में जीत दर्ज कर चुकी हैं। धर्मशाला के इतिहास में कभी भी आजाद प्रत्याशी अब तक जीत दर्ज नहीं कर पाए हैं। आठ बार गद्दी समुदाय से संबंधित नेताओं ने ही धर्मशाला की गद्दी भी संभाली रखी, जिसमें 35 वर्ष तक भाजपा प्रत्याशी किशन कपूर रहे।

पंजाब से अलग हिमाचल के धर्मशाला के चुनाव

साल 1967 :- कांग्रेस नेता आरके चंद ने 4351 वोट हासिल किए और भारतीय जन संघ के नेता एन सिंह ने 4162 मत हासिल किए।

वर्ष 1972:- कांग्रेस नेता चंद्र वर्कर ने जीत हासिल की। वर्कर को 3032 और आजाद उम्मीदवार बृज लाल ने 2842 मत हासिल किए।

साल 1977 :- धर्मशाला में पहली बार जनता दल ने जीत का तिलक अपने माथे पर लगाया। जनता दल के नेता बृजलाल को 8576 और दूसरे नंबर पर रहे चं्रद वर्कर को 5649 मत मिले।

साल 1982 :- भाजपा ने धर्मशाला क्षेत्र में रिपीट किया। इस चुनाव में भाजपा नेता बृज लाल ने कांग्रेसी नेता मूल राज पाधा को हराया।

साल 1985 :- कांग्रेस नेता मूल राज पाधा को टिकट थमाया। भाजपा नेता किशन कपूर को टिकट दिया, इस दौरान भाजपा को सफलता हाथ नहीं लगी।

साल 1990 :- किशन कपूर ने 13663 मतों से बड़ी जीत हासिल की, और धर्मशाला से विधायक बने। इसके बाद कपूर ने लगातार 1993 और 1998 में जीत हासिल कर हैट्रिक लगाई।

साल 2003 :- किशन कपूर के खिलाफ एक बार फिर चंद्रेश कुमारी को कांग्रेस ने मैदान में उतारा। इस बार चंद्रेश कुमारी कपूर के जीत के कारवां को तोडऩे में सफल हुई।

वर्ष 2007 :- भाजपा नेता किशन कपूर ने चंद्रेश कुमारी को हराकर एक बार फिर धर्मशाला क्षेत्र की जनता का विश्वास जीता ।

साल 2012 :- कांग्रेस नेता सुधीर शर्मा ने 21241 वोट लिए, जबकि भाजपा के प्रत्याशी किशन कपूर 16241 वोट ही हासिल कर सके।

वर्ष 2017:- भाजपा नेता किशन कपूर ने 26050 मत हासिल किए, जबकि सुधीर शर्मा को 23053 मत प्राप्त हुए।

वर्ष 2019 :- धर्मशाला में पहली बार उपचुनाव हुआ, जिसमें भाजपा प्रत्याशी विशाल नैहरिया ने 23397, आजाद राकेश चौधरी 16724 और कांगे्रस ने 8189 मत प्राप्त किए।

वर्ष 2022 :- के चुनावों में कांग्रेस के सुधीर शर्मा ने 26689 मत प्राप्त कर भाजपा के राकेश चौधरी से 3126 मतों से जीत दर्ज की।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App