तीन महीने में कितने कम हुए सडक़ हादसे, जानिए

By: Apr 3rd, 2024 12:07 am

प्रदेश में पिछले साल के मुकाबले मृत्यु दर में 27 और घायलों में 18 फीसदी गिरावट

स्टाफ रिपोर्टर-शिमला

हिमाचल प्रदेश में वर्ष 2023 की तुलना में वर्ष 2024 के दौरान पहली जनवरी से 31 मार्च तक प्रदेश में दुर्घटनाओं में 14 प्रतिशत कमी दर्ज की गई है। हिमाचल प्रदेश पुलिस ने राज्य भर में सडक़ दुर्घटनाओं और मृत्यु दर को कम करने के लिए एक व्यापक रणनीति तैयार की है। एक उल्लेखनीय उपलब्धि में हिमाचल प्रदेश ने सडक़ दुर्घटनाओं और मृत्यु दर में पर्याप्त कमी देखी है, जो जमीनी स्तर पर मोटर वाहन नियमों और कानूनों को लागू करने की प्रभावशीलता को उजागर करती है।

पहली जनवरी से 31 मार्च, 2023 की अवधि के आंकड़ों की तुलना 2024 की इसी अवधि से करने पर सडक़ दुर्घटनाओं में उल्लेखनीय गिरावट का पता चलता है। डीजीपी संजय कुंडू ने बताया कि हमने वर्ष 2023 की तुलना में वर्ष 2024 के दौरान राज्य में दुर्घटनाओं में 14 प्रतिशत, मृत्यु दर में 27 प्रतिशत और चोटों में 18 प्रतिशत की कमी लाने में सफलता प्राप्त की है। हिमाचल प्रदेश के पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू ने लाइव सडक़ दुर्घटना डाटा का प्रभावी ढंग से विश्लेषण करने में यातायात, पर्यटक और रेलवे विंग के मेहनती प्रयासों की सराहना की है।

शिमला जिला में सबसे कम हादसे

शिमला पुलिस की वन मिनट ट्रैफिक प्लान से सडक़ हादसों में कमी आई है, वहीं सडक़ हादसों में होने वाली मौत का आंकड़ा भी कम हुआ है। शिमला में पिछले साल के मुकाबले इस साल में तीन माह में मार्च महीने तक गाडिय़ों की आवाजाही बढऩे के बावजूद शहर की सडक़ों में जाम की समस्या कम हुई है। वहीं, सडक़ हादसों में मौत का आंकड़ा भी कम हुआ है। पिछले साल वर्ष 2023 में मार्च महीने तक 85 सडक़ हादसों में 39 लोगों की मौत हुई थी और 144 लोग घायल हुए थे, लेकिन इस साल में मार्च तक 25 सडक़ हादसे और तीन मौतें और घायलों की संख्या 61 कम हुई है। इस वर्ष 2024 में मार्च महीने तक शिमला में 60 सडक़ हादसों में 36 लोगों ने जान गवाई है और 83 लोग घायल हुए हैं।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App