लोकसभा चुनाव: बिहार महागठबंधन में सीटों पर घमासान

By: Apr 3rd, 2024 12:07 am

आरजेडी के पूर्व सांसद ने बढ़ाई लालू की टेंशन, कांग्रेस की कटिहार सीट पर ठोंका दावा

एजेंसियां — पटना

बिहार में महागठबंधन की ओर से सीट शेयरिंग का ऐलान भले की कर दिया गया है, लेकिन राजद और कांग्रेस के बीच इसे लेकर घमासान मचा हुआ है। अभी पूर्णिया को लेकर टकराव शांत भी नहीं हुआ था कि अब कटिहार सीट को लेकर किचकिच शुरू हो गई है। कांग्रेस को मिली कटिहार सीट को लेकर बवाल बढ़ता दिख रहा है। इस सीट से कांग्रेस ने तारिक अनवर को मैदान में उतारा है। वहीं राजद के पूर्व राज्यसभा सांसद अशफाक करीम ने भी इस सीट से निर्दलीय चुनाव लडऩे का ऐलान किया है। अब कटिहार को लेकर आरजेडी चीफ लालू यादव क्या फैसला लेते हैं, यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा। राजद महासचिव समरेंद्र कुणाल ने बताया कि मैंने कांग्रेस की सूची देखी है, लेकिन हमें यकीन है कि असफाक करीम चार अप्रैल को लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के नामांकन के आखिरी दिन अपना पर्चा दाखिल करेंगे। उन्होंने कहा कि अभी तक आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं किया गया है और राजद इस सीट से लडऩे के लिए तैयार है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि कटिहार सीट से अशफाक करीम भारी अंतर से जीतेंगे।

वहीं एक अन्य राजद नेता ने नाम न छापने की शर्त पर कहा है कि तारिक अनवर की उम्र अधिक हो गई है और कटिहार की जनता अब अशफाक करीम की ओर देख रही है। उन्होंने कहा कि वह हारने के लिए लड़ेंगे और हम जीतने के लिए लड़ेंगे। दूसरी ओर, कांग्रेस की ओर से कटिहार सीट से तारिक अनवर के नाम का ऐलान होने के बाद भी स्थानीय पार्टी ऑफिस में सन्नाटा पसरा हुआ है। इस संबंध में कोई भी कांग्रेस नेता कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं है। एक कांग्रेस नेता ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा है कि कुछ दस्तावेजों की कमी के कारण नामांकन दाखिल करने का कार्यक्रम टाल दिया। यह पूछे जाने पर कि क्या राजद इस सीट से चुनाव लड़ेगा, तो उन्होंने कहा कि राजनीति में कुछ भी हो सकता है और इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि पूर्णिया में जो खेला हुआ है वो यहां दोहराया जाएगा। उन्होंने कहा कि पप्पू यादव में पूर्णिया सीट जीतने की क्षमता है, लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया।

पूर्णिया सीट से ही चुनाव लड़ेंगे पप्पू यादव; बोले, राजद मुझे बांधना चाहती है, राजनीति बहुत गंदी हो गई है

बिहार के महागठबंधन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। पूर्णिया सीट पर अब भी तस्वीर साफ नहीं है। हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए पप्पू यादव पूर्णिया से चुनाव लडऩा चाहते हैं। वह अपनी जिद पर कायम हैं। पप्पू यादव ने मंगलवार को कहा कि वह मर जाएंगे, मगर पूर्णिया नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वह किसी भी कीमत पर पूर्णिया से चुनाव लड़ेंगे। पप्पू यादव ने कहा कि पूर्णिया सीट पर हमेशा से कांग्रेस की ही दावेदारी रही है और कांग्रेसी यहां से हमेशा चुनाव लड़ती रही है। आरजेडी कभी पूर्णिया से चुनाव नहीं लड़ी। उन्होंने कहा कि राजद मुझे बांधना चाहती है। अब राजनीति बहुत गंदी हो गई है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App