विशेष

GST में करियर: यूं बनें प्रैक्टिशनर, ब्राइट है फ्यूचर

By: May 15th, 2024 12:06 am

जीएसटी यानी गुड्स एंड सर्विस टैक्स के लागू होने के बाद केवल बाजार का ही दृष्य नहीं बदला है, रोजगार के मौकों पर भी इसका असर है। जीएसटी ने जॉब के मौके बढ़ाए हैं। नए परिदृश्य में टैक्स और टेक्नोलॉजी से संबंधित प्रोफेशनल्स की मांग में इजाफा देखा जा रहा है। इस परिस्थिति में मार्केट में जीएसटी प्रैक्टिशनर के लिए खूब मौके हैं…

स्वतंत्रता के बाद जीएसटी सबसे बड़े कर सुधार के रूप में वर्तमान स्थिति को देखते हुए लागू किया गया था। एक राष्ट्र एक कर एक बाजार पर आधारित जीएसटी एक ऐसे कर सुधार के रूप में हमारे सामने आता है, जिसके पहले एक ही वस्तु के विभिन्न राज्यों में अलग-अलग मूल्य होते थे। जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान की है वही रोजगार के नए अवसर भी प्रदान किए हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए वस्तु एवं सेवा कर में जीएसटी प्रैक्टिशनर का प्रावधान किया गया है। जीएसटी को प्रभावी ढंग से लागू करने और जीएसटी रिटर्न फाइल करने के लिए जीएसटी प्रैक्टिशनर की आवश्यकता बढ़ती जा रही है।

जीएसटी प्रैक्टिशनर : जीएसटी प्रैक्टिशनर सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त वह व्यक्ति होता है, जिसको करदाता जीएसटी संबंधित अपने काम करने की अनुमति देते हैं। वही व्यक्ति जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए आवेदन कर सकता है जो भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानदंडों पर खरा उतरता है। जीएसटी के तहत करदाता को जीएसटी रजिस्ट्रेशन से लेकर रिटर्न दाखिल करने तक ढेरों काम करने होते है। ऐसे में ढेरों करदाता यह काम जीएसटी प्रैक्टिशनर से करवाते हैं।

योग्यता

अगर किसी के पास बीकॉम, एलएलबी, बीबीए, एमबीए, सीए और सीएस के अलावा कोई भी ग्रेजुएट डिग्री है, तो वह जीएसटी प्रेक्टिशनर बन सकता है। साधारण गे्रजुएट्स सरकार द्वारा चलाए जा रहे जीएसटी से संबंधित वोकेशनल कोर्सेज को पास करने के बाद जीएसटी प्रैक्टिशनर के रूप काम कर सकते हैं। इसके लिए जीएसटी की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। कॉमर्शियल टैक्स, केंद्रीय उत्पाद और सेवा कर के रिटायर्ड अधिकारी भी जीएसटी प्रैक्टिशनर बन सकते हैं। ये प्रैक्टिशनर कारोबारियों को रजिस्टर्ड करवाने से लेकर रिटर्न दाखिल करने तक में मदद करते हैं। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत भी जीएसटी से जुड़ा कोर्स नि:शुल्क करवाया जा रहा है। 100 घंटे के इस सर्टिफिकेट कोर्स के लिए ग्रेजुएट होना आवश्यक है। देश भर में इसके कई सेंटर हैं। अगर आप कॉमर्स से ग्रेजुएट हैं तो यह आपके लिए बेहतरीन मौका हो सकता है इसके लिए आपको अकाउंटिंग की जानकारी के साथ टैक्स लॉ की बेसिक समझ और अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर जैसे टेली की भी जानकारी होनी चाहिए।

इसके अलावा कुछ आवश्यक योग्यता भी होनी चाहिए जैसे…

व्यक्ति भारत का नागरिक होना चाहिए।
सोचने एवं कारणों का विश्लेषण करने में और समझने की क्षमता होनी चाहिए।
व्यक्ति किसी प्रकार से दिवालिया नहीं हुआ होना चाहिए।
कोर्ट द्वारा किसी अपराध के लिए दोषी न ठहराया गया हो।

जीएसटी प्रैक्टिशनर बनाने के लिए शैक्षणिक योग्यता के बावजूद आप में कुछ अनुभव संबंधी योग्यता का होना भी जरूरी है। इससे आपको जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए काफी मदद मिलेगी, तो जानते हैं कुछ योग्यताओं के बारे में।

जिन लोगों ने कॉसर्स, लॉ या बैंकिंग में ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री किसी ऐसी यूनिवर्सिटी से हासिल की हो, जो भारत सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हो।

वह व्यक्ति जीएसटी प्रैक्टिशनर बन सकता है जो स्टेट कॉमर्शिल टेक्स डिपार्टमेंट या सेंट्रल कस्टमर से रिटायर्ड हो और कम से कम 2 साल अपने कार्यकाल में ग्रुप बी गजट्टड ऑफिसर की रैंक पर रहा हो।

वह लोग जिन्होंने सरकारी जीएसटी प्रैक्टिशनर का सर्टिफिकेट कोर्स किया हो।

जिन्होंने चार्टर्ड अकाउंटेंट की अंतिम परीक्षा उत्तीर्ण की है

भारत की कंपनी सचिव संस्थान की अंतिम परीक्षा उत्तीर्ण की हो।

कार्य

भारत में सवा करोड़ से भी ज्यादा टैक्स प्रदाता व्यापारी हैं, जिनमें से अधिकांश मध्यम एवं लघु व्यापारी है जिनके लिए चार्ट्र्ड अकाउंटिंग की महंगी फीस देना मुश्किल होता है, इसलिए वे अपने छोटे-मोटे काम जीएसटी प्रैक्टिशनर द्वारा करवा सकते हैं उन्हें कार्यों की लिस्ट नीचे बताई गई है…

– छोटी-बड़ी कंपनियों के वेंडर्स, दुकानों और कॉमर्शिल इस्टैब्लिशमेंट के बिजनेस रजिस्टर्ड कराना
– मासिक और त्रैमासिक जीएसटी रिटर्न दाखिल करना
– जीएसटी रजिस्ट्रेशन के अमेंडमेंट के लिए आवेदन फाइल करना।
– वार्षिक या अंतिम रिटर्न दाखिल करना
– जीएसटी रिफंड के लिए आवेदन करना।
– जीएसटी नेटवर्क से जुड़ी चीजें वह प्रक्रिया है, जानने समझने में मदद करना।
– आउटवर्ड और इनवर्ड सप्लाई का ब्यौरा देना।
– जीएसटी रजिस्ट्रेशन को रद्द करने जैसे कार्य जीएसटी प्रैक्टिशनर करता है।

– सर्टिफाइड जीएसटी प्रैक्टिशन बनने के लिए कैंडीडेट्स को खुद को जीएसटी पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद 2 साल के अंदर आपको जीएसटीपी का एग्जान देना होता है। एग्जाम में 50 फीसदी अंक लाना जरूरी होता है। एग्जाम में पास हो जाने के बाद आप सर्टिफाइड जीएसटी प्रैक्टिशन प्रैक्टिशनर बन जाएंंगे।

-जीएसटीपी से प्रमाण प्राप्त करके सर्टिफाइड जीएसटी प्रैक्टिशन बन कर आपको करदाता की नजर में व्यवसाई द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं के लिए विश्वसनीयता और विश्वास बढ़ाने में मदद मिलती है।

ऐसे बनें जीएसटी प्रैक्टिशनर

जीएसटी प्रैक्टिशनर बनने के लिए कोई भी कैंडीडेट, फॉर्म जीएसटी जीएसटी-1 भरने के बाद इसे अधिकृत ऑफिसर के पास जमा करके रजिस्टर्ड हो सकता है। कैंडीडेट की एबिलिटी और संबंधित कागजात की जांच करने के बाद अधिकृत ऑफिसर, फॉर्म जीएसटी जीएसटी-2 में सर्टिफिकेट इशू करेगा। बतौर गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स प्रैक्टिशनर रजिस्टर होने के बाद उसे अथॉरिटी की तरफ से आयोजित परीक्षा पास करना होगी। परीक्षा पास करने के बाद आप जीएसटी प्रैक्टिशनर बन जाएंगे और रिटर्न फाइल करके कमाई कर सकेंगे। अथॉरिटीज की तरफ से आयोजित परीक्षा पास करने के लिए जरूरी है कि आपको जीएसटी की अच्छी जानकारी हो।

12वीं के बाद भी मौका

12वीं के बाद जीएसटी में करियर बनाने के बहुत सारे विकल्प होते हैं, यदि आपने 12वीं कॉमर्स स्ट्रीम से पास की है तो अब चार्टर्ड अकाउंटेंट की भी तैयारी करके जीएसटी में अपना करियर बना सकते हैं। आप चाहे तो जीएसटी का कोर्स करके भी अपना करियर बना सकते हैं या टैली कोर्स कर सकते हैं या जीएसटी बिजनेस मैनेजमेंट का भी कोर्स कर सकते हैं। 12वीं के बाद जीएसटी में करियर बनाने के कुछ महत्त्वपूर्ण विकल्प हैं, जिसमें आप एक अच्छे करियर बना सकते हैं, जैसे…

जीएसटी बिगनर कोर्स : बिगनर कोर्स को आप डिप्लोमा भी समझ सकते हैं, जिसके लिए आपको 12वीं पास करना आवश्यक होता है। इसमें आपको एक महीने की क्लास रूम ट्रेनिंग दी जाती है और तमाम जीएसटी के बेसिक्स की जानकारी दी जाती है।

जीएसटी इंटरमीडिएट कोर्स : आप चाहे तो जीएसटी इंटरमीडिएट कोर्स भी कर सकते हैं। बिगनर कोर्स के बाद यह कोर्स आपके सामने आता है और प्रैक्टिकल जानकारी आपको इसमें प्रदान की जाती है। अकाउंट्स और मैनेजर के लिए भी यह कोर्स काफी अच्छा माना जाता है और ई-लर्निंग के माध्यम से इस कोर्स को पूरा किया जा सकता है। तकरीबन दो से तीन महीने तक, इसकी ट्रेनिंग पर्याप्त होती है।

टैली ईआरपी 9 या टैली प्राइम : आप 12वीं पास करके टैली ईआरपी 9 या टैली प्राइम भी कर सकते हैं। इसमें मैथमेटिकल कम्प्यूटेशन भी शामिल होता है। कोई भी कंपनी अपनी बैलेंस शीट को अपने खर्चे और दूसरे अकाउंटिंग से जुड़े हिसाब किताब को मेंटेन करने के लिए आज के समय मेंटैली ईआरपी 9 या टैली प्राइम भी यूज करती है।

जीएसटी एक्सपर्ट लेवल कोर्स : जीएसटी एक्सपर्ट लेवल के कोर्स के लिए भी 12वीं तक की शिक्षा अनिवार्य होती है, लेकिन तकरीबन 135 घंटे की ऑनलाइन या क्लासरूम ट्रेनिंग आपको करना होता है। यदि आप इस कोर्स को किसी इंस्टिट्यूट से करते हैं, तो इस कोर्स को करने में आपको लगभग 3 महीने से 6 महीने तक लग सकता है। फिर एग्जाम देने के बाद आप जीएसटी में एक्सपर्ट लेवल के डिप्लोमा होल्डर कहला सकते हैं और जीएसटी के बहुत सारे कामों का इक्स्पीरअन्स भी मिलता है।

जीएसटी बिजनेस मैनेजमेंट : 12वीं पास वाले विद्यार्थी जीएसटी बिजनेस मैनेजमेंट भी कर सकते हैं, यह कोर्स लगभग दो से तीन महीने की होता है और यदि आप ऑनलाइन क्लास कर रहे हैं तो लगभग 60 घंटे की होती है।

रेलवे में 10वीं पास को मौका

नॉर्दर्न रेलवे, रेलवे रिक्रूटमेंट सेल (आरआरसी) ने ग्रुप डी के 38 पदों पर भर्ती निकाली है। यह भर्ती स्पोर्ट्स कोटे के तहत की जा रही है। इसमें एससी, एसटी और ओबीसी वर्ग के लिए कोई पद आरक्षित नहीं किया गया है। स्पोट्र्स ट्रायल में सफल अभ्यर्थियों को ही भर्ती की आगे की प्रक्रिया में बुलाया जाएगा। ह्म्ह्म्ष्ठ्ठह्म्.शह्म्द्द पर इस भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 16 मई, 2024 है। भर्ती के स्पोट्र्स ट्रायल 16 जून, 2024 से शुरू हो सकते हैं। फुटबॉल पुरुष, वेट लिफ्टिंग पुरुष, एथलेक्टिस पुरुष, बॉक्सिंग पुरुष व महिला, स्विमिंग पुरुष , टेबल टेनिस पुरुष , हॉकी पुरुष व महिला , बैडमिंटन, कबड्डी पुरुष व महिला, रेसलिंग पुरुष व महिला, चेस पुरुष की प्रतिष्ठित प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने वाले प्रतिभाशाली खिलाड़ी इस भर्ती में आवेदन कर सकते हैं।

आयु सीमा : 18 साल से 25 वर्ष। आयु की गणना 1 जुलाई 2024 से होगी। आरक्षित वर्ग को आयु में कोई छूट नहीं मिलेगी।

शैक्षणिक योग्यता : ग्रुप डी के लिए – 10वीं पास।

वेतनमान : लेवल-1 , ग्रेड पे – 1800/- छठा सीपीसी

अभ्यर्थी ने किस लेवल पर खेला हो : किसी भी कैटेगरी सी चैंपियनशिप/ इवेंट में देश का प्रतिनिधित्व किया हो। या फेडरेशन कप चैंपियनशिप में कम से कम तीसरे स्थान पर रहे हों (सीनियर कैटेगरी)। या एक राज्य या समकक्ष यूनिट का प्रतिनिधित्व किया हो (मैराथन या क्रोस कंट्री छोडक़र)। सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में कम से कम 8वें पायदान पर आए हों।

आवेदन फीस : 500 रुपए
एससी, एसटी, दिव्यांग – 250 रुपए

चयन प्रक्रिया

चरण 1 : स्क्रीनिंग व आवेदन की स्क्रूटिनी
चरण 2 : डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन
चरण 3 : स्पोट्र्स ट्रायल
चरण 4 : स्पोट्र्स ट्रायल में फिट पाए गए अभ्यर्थियों को अगले चरण में लिया जाएगा। इसमें खेल उपलब्धियां व शैक्षणिक योग्यताएं देखी जाएगी। इसके 60 माक्र्स होंगे। फाइनल मेरिट लिस्ट ट्रायल कमिटी व रिक्रूटमेंट कमेटी द्वारा दिए गए कुल माक्र्स के आधार पर बनेगी। चयनित अभ्यर्थियों को दो साल तक प्राबेशन पीरियड पर रहना होगा।

आईसीएमआर-एनआईएन में नौकरी, जल्द करें अप्लाई

सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए खुशखबरी है। बता दें कि आईसीएमआर (भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद)-राष्ट्रीय पोषण संस्थान (एनआईएन) में जूनियर मेडिकल ऑफिसर, सीनियर टेक्निकल असिस्टेंट, प्रोजेक्ट असिस्टेंट, फील्ड वर्कर सहित अन्य 26 पदों पर भर्ती निकाली है। राष्ट्रीय पोषण संस्थान में आवेदन के लिए इच्छुक उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन 16-17 मई 2024 तक कर सकते हैं।

योग्यता : आईसीएमआर-एनआईएन में आवेदन के लिए शैक्षणिक योग्यता की बात करे तो उम्मीदवार के पास पद अनुसार मान्यता प्राप्त संस्थान से 12वीं पास या फिर संबंधित फील्ड में ग्रेजुएट पास होना चाहिए।

आयु सीमा : आईसीएमआर-एनआईएन में न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष रखी गई है, अधिकतम आयु सीमा 35 वर्ष रखी गई है। वही इसमें सीएस, एसटी वर्ग के उम्मीदवार को 3 साल और ओबीसी को 5 साल की छूट दी जाएगी।

सैलरी : आईसीएमआर -एनआईएन में सैलरी का देखे तो इसमें सैलरी पद अनुसार 28 हजार से लेकर 75 हजार रुपए प्रतिमाह तक दी जाएंगी।

चयन : आईसीएमआर (एनआईएन) में उम्मीदवारों का चयन रिटन एग्जाम, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन और मेडिकल टेस्ट के आधार पर होंगा और इंटरव्यू इस पते सामुदायिक चिकित्सा विभाग सिक्किम मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस 5वां माइल ताडोंग, गंगटोक, सिक्किम -737102 पर देना होगा।

ऐसे करे आवेदन

आईसीएमआर-एनआईएन आवेदन के लिए पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट main.icmr.nic.in पर जाएं।

यहा ICMR NIN Recruitment 2024 के विकल्प पर क्लिक करें।

सारी जानकारी भरे सभी दस्तावेजों को अपलोड करें।

उसके बाद फॉर्म को सबमिट कर दे।

फॉर्म का प्रिंट आउट जरूर निकालें।

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया में अवसर

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ( एएआई) में नौकरी पाने का सपना हर किसी का होता है। अगर आप भी इस सपने को देख रहे हैं, तो एएआई ने कंसल्टेंट, जूनियर कंसल्टेंट और एसोसिएट कंसल्टेंट के पदों के लिए भर्तियां निकाली है. जो भी इन पदों पर आवेदन करने के इच्छुक एवं योग्य हैं, वे आधिकारिक वेबसाइट aai.aero के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं( इन पदों के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। यह पद डिपार्टमेंट ऑफ सर्वे और कैटेगरी सेक्शन, एटीएम निदेशालय में भरे जाएंगे। जो भी उम्मीदवार एएआई के इस भर्ती के लिए आवेदन कर रहे हैं, वे 20 मई तक या उससे पहले अप्लाई कर सकते हैं। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया के इस भर्ती अभियान के माध्यम से कुल 6 पदों पर बहाली की जाने वाली है। एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया में कंसल्टेंट, जूनियर कंसल्टेंट और एसोसिएट कंसल्टेंट के पदों पर बहाली की जाने वाली है। जो भी इन पदों के लिए अप्लाई करने के बारे में सोच रहे हैं, उनकी आयुसीमा 65 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।

एचयूआरएल में 80 वैकेंसी

हिंदुस्तान उर्वरक और रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल ) में कई पदों पर भर्ती निकली है। दरअसल एचयूआरएल ने मैनेजर, इंजीनियर, ऑफिसर आदि पदों पर 80 वैकेंसी निकाली हंै। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट U hurl.net.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। आवेदन प्रक्रिया 20 मई, 2024 तक चलेगी। मैनेजर, इंजीनियर और अधिकारी समेत कुल 80 रिक्तियों को भरा जाना है, जिनमें से 70 वैकेंसी रेग्यूलर हैं और 10 भर्तियां तीन साल के कॉन्ट्रैक्ट बेसिस पर की जाएगी। मैनेजर के 20 पद, इंजीनियर के 34 पद, अधिकारी के 17 पद, असिस्टेंट मैनेजर के 7 पद और मुख्य प्रबंधक के 2 पद भरे जाएंगे।

योग्यता : अधिकांश पदों के लिए इंजीनियरिंग डिग्री मांगी गई है। इसके अलावा दो साल से 12 साल का अनुभव भी मांगा गया है।

चयन प्रक्रिया : कम्प्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी)

– ट्रेड टेस्ट
– दस्तावेज सत्यापन
– मेडिकल परीक्षा

शैक्षणिक योग्यता :

– इन विभिन्न पदों केलिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के पास संबंधित विषयों में कम से कम 60 फीसदी अंकों के साथ एआईसीटीई/यूजीसी या एएमआईई द्वारा अनुमोदित फुल टाइम इंजीनियरिंग डिग्री होनी चाहिए।

– कुछ पदों के लिए सर्टिफिकेट या विशेष डिग्री जैसे औद्योगिक सुरक्षा में डिप्लोमा या पेशेवर लेखा निकायों में सदस्यता की जरूरत हो सकती है।

– इसके अलावा उम्मीदवारों को प्रक्रिया ऑपरेशन, मैटीरियल मैनेजमेंट, मार्केटिंग, सिक्योरिटी और फाइनांस तक फैले अपने संबंधित पदों की मांगों के मुताबिक 2-12 साल का कार्यकारी कार्य अनुभव होना चाहिए। एचयूआरएल में ऑफिसर/सिक्योरिटी, ऑफिसर/ मार्केटिंग, ऑफिसर/ कॉन्ट्रैक्ट एवं मटेरियल और ऑफिसर/फाइनेंस जैसे पदों के लिए अनुभव की जरूरत नहीं है।
आयु सीमा : इन पदों के लिए आवेदन करने वाले कैंडीडेट्स को पद के आधार पर आयु सीमा 30 से 47 के बीच होनी चाहिए।

पदों का ब्यौरा (कुल वैकेंसी – 80)

मैनेजर/ (एल2) कॉन्ट्रेक्ट और मैटीरियल 3
मैनेजर/ (एल2) केमिकल (ओ एंड यू) 2
मैनेजर/ (एल2) केमिकल (अमोनिया) 2
मैनेजर/ (एल2) केमिकल (यूरिया) 3
मैनेजर/ (एल2) केमिकल (प्रोसेस सपोर्ट) 2
मैनेजर/ (एल2) मार्केटिंग 6
इंजीनियर/ (एल-1) केमिकल (यूरिया) 8
इंजीनियर/ (एल-1) केमिकल (अमोनिया) 8
इंजीनियर/ (एल-1) रासायनिक (ओ एंड यू) 8
इंजीनियर/ (एल-1) इंस्ट्रूमेंटेशन 10
ऑफिसर/(एल-1) सिक्योरिट 2
ऑफिसर/(एल-1) मार्केटिंग 5
ऑफिसर/(एल-1) कॉन्ट्रेक्चुअल और मैटिरियल्स 4
ऑफिसर/(एल-1) फाइनांस 3
मैनेजर(एल-2) फाइनांस 2
मुख्य मैनेजर- (एल3) फाइनांस 2
कॉन्ट्रेक्चुअल आधार
सहायक मैनेजर/ (एल1) एफटीसी 1
सहायक मैनेजर/ (एल1) एफटीसी 1
सहायक मैनेजर/ (एल1) एफटीसी 5
अधिकारी/ (एल1) एफटीसी 3

इतनी मिलेगी सैलरी

चयनित कैंडीडेट्स को पद के मुताबिक आकर्षक सैलरी दी जाएगी…

मुख्य प्रबंधक – 24 लाख रुपए सीटीसी
मैनेजर – 16 लाख रुपए सीटीसी
ऑफिसर/इंजीनियर – 7 लाख रुपए सीटीसी
असिस्टेंट मैनेजर – 11 लाख रुपए सीटीसी
ऑफिसर (एफटीसी) – 7 लाख सीटीसी

एचएएल में बंपर भर्ती, बिना परीक्षा चयन

अगर आप भी नौकरी की तलाश कर रहे हैं तो आपके लिए जरूरी खबर है। एचएएल की तरफ से कई पदों पर भर्तियां की जा रही हैं, जिसके लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गई है। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड, हैदराबाद (एचएएल) ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर एक नोटिफिकेशन जारी किया है, जिसके तहत 124 ग्रेजुएट/डिप्लोमा अपरेंटिस की भर्तियां की जाएंगी। भर्ती के जरिए कुल 124 पदों में से 64 ग्रेजुएट अपरेंटिस के लिए हैं, जबकि 35 डिप्लोमा अपरेंटिस और 25 जनरल अपरेंटिस के लिए हैं। इच्छुक और योग्य अभ्यर्थी 23-24 मई, 2024 को निर्धारित वॉक-इन-इंटरव्यू के लिए उपस्थित हो सकते हैं। इंटरव्यू के दौरान स्टूडेंट्स सभी दस्तावेज लेकर उपस्थित होना होगा, क्योंकि इंटरव्यू कमेटी की तरफ से अभ्यर्थियों का डॉक्यूमेंट्स भी वेरिफिकेशन किया जाएगा।

शैक्षणिक योग्यता : एचएलएल 2024 भर्ती के लिए शैक्षणिक योग्यता अलग-अलग पदों के लिए अलग-अलग है। नोटिफिकेशन के मुताबिक ग्रेजुएट अपरेंटिस के लिए अभ्यर्थियों के पास इंजीनियरिंग की डिग्री होनी चाहिए। जबकि डिप्लोमा अपरेंटिस के लिए डिप्लोमा होना चाहिए। एचएएल भर्ती 2024 के लिए चयनित अभ्यर्थियों का नियुक्तियां हैदराबाद सहित देश के अन्य स्थानों पर होगी। चयनित अभ्यर्थियों को सैलरी सहित अन्य भत्ते अपरेंटिस एक्ट के तहत दिए जाएंगे। अधिक जानकारी इच्छुक और योग्य अभ्यर्थी नोटिफिकेशन में जाकर चेक कर सकते हैं।

इंटरव्यू शेड्यूल

इच्छुक और योग्य उम्मीदवारों को अधिसूचना में दिए गए सभी दस्तावेजों के साथ 23-24 मई, 2024 को इंटरव्यू के लिए उपस्थित होना होगा। वॉक-इन-इंटरव्यू राउंड के लिए रिपोर्टिंग समय सुबह 09.00 बजे है। भर्ती के लिए अभ्यर्थियों की कोई लिखित परीक्षा नहीं होगी। फाइनल चयन इंटरव्यू और डॉक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन के बाद ही किया जाएगा।

एम्स में 99 पद खाली

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (एम्स), देवघर ने सीनियर रेजिडेंट के 99 पदों पर भर्ती के लिए योग्य और इच्छुक अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। एम्स देवघर की यह भर्ती कंट्रैक्ट बेस पर एक साल के लिए होगी। सेवा संतोषजनक रहने पर आगे एक साल के लिए कंट्रैक्ट और बढ़ाया जा सकता है। एम्स देवघर की इस भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया जनवरी में शुरू की गई थी और अभ्यर्थियों को आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जनवरी, 2024 तक निर्धारित थी, लेकिन संस्थान ने एक बार फिर ऑनलाइन आवेदन की डेट 15 दिन के लिए बढ़ाई है। भर्ती का नया नोटफिकेशन चार मई को जारी हुआ था। यानी अब अभ्यर्थी 19 मई, 2024 तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। एम्स देवघर की इस भर्ती में चयनित अभ्यर्थियों को एक निर्धारित पद के लिए लेवल-11 के तहत वेतनमान दिया जाएगा जो कि 67700 रुपए प्रतिमाह के हिसाब से होगा।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App