फ्यूचर एंड ऑप्शन ट्रेडिंग में बेलगाम तेजी से निवेश का खतरा

By: May 15th, 2024 10:02 pm

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मलास सीतामरण ने शेयर बाजार में पैसा लगाने वालों को किया सावधान

एजेंसियां—मुंबई

आप यदि शेयर बाजार में ट्रेडिंग करते हैं या दिलचस्पी रखते हैं, तो एफ एंड ओ ट्रेडिंग को जरूर जानते होंगो। जी हांए आप सही समझे। हम फ्यूचल एंड ऑप्शन ट्रेडिंग की बात कर रहे हैं। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रिटेल निवेशकों के जोखिम भरे फ्यूचर एंड ऑप्शन ट्रेडिंग को लेकर चेताया है। उन्होंने कहा कि इसमें ‘बेलगाम तेजी’ भविष्य में परिवारों की जमा पूंजी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकती है। सीतारमण बांबे स्टॉक एक्सचेंज द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थीं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एफ एंड ओ ट्रेडिंग में आई बेलगाम तेजी को बाजार की स्थिरता और पारिवारिक बचत के लिए संभावित चुनौती बताया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पारिवारिक बचत ने एक जनरेशनल शिफ्ट किया है। हम उनकी सुरक्षा करना चाहते हैं। उन्हें एफ एंड ओ के खतरों से अवगत करना जरूरी है। वित्त मंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब रिटेल निवेशकों का रुझान एफ एंड ओ ट्रेडिंग की ओर बढ़ रहा है। एफ एंड ओ ट्रेडिंग का एक ऐसा तरीका है, जिसमें निवेशक को सहूलियत मिलती है कि वे कम पूंजी के साथ किसी स्टॉक, कमोडिटी, करेंसी में बड़ी पोजिशन ले सकते हैं।

इस तरह की ट्रेडिंग में हाई रिस्क होता है। ज्यादातर निवेशक अपना सबकुछ डुबो देते हैं। सेबी की ओर से की गई एक स्टडी से पता चला है कि दस में से नौ रिटेल निवेशको को एफ एंड ओ मार्केट में अपने लगाए दांव पर नुकसान होता है। वित्त मंत्री ने एक सवाल पर बताया कि दो बैंकों और एक जनरल इंश्योरेंस कंपनी सहित सरकार की विनिवेश की योजना में कोई बदलाव नहीं है। ऐसे फैसले कैबिनेट द्वारा अपू्रव्ड हैं, इसलिए इन्हें वापस नहीं लिया जा सकता। सरकार यह जरूर देखेगी कि इन्हें बाजार में लाना कब अनुकूल होगा।

विदेशी निवेशकों के दबदबे को खत्म किया

सीतारमण ने कहा कि घरेलू रिटेल निवेशकों ने अपने पारिवारिक बचत को शेयर बाजार में लगाया। इसके आने से बाजार इतना मजबूत हुआ है कि अब वह विदेशी निवेशकों की बिकवाली तक को काउंटर बैलेंसिंग करने लगा है। ऐसे में बेहद जरूरी है कि छोटे और रिटेल निवेशकों द्वारा शेयर बाजार में दिखाए जा रहे भरोसे को बनाए रखा जाए। एफएम ने कहा कि विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों एफपीआई द्वारा की जा रही बिकवाली के बावजूद अब बाजार में ज्यादा उतार चढ़ाव नहीं होता, क्योंकि छोटे और रिटेल निवेशकों से आने वाली बचत बाजार के लिए शॉक ऑब्जर्वर की भूमिका में आ चुकी है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App