भाजपा-कांग्रेस के कवरिंग कैंडिडेटों सहित 19 के नामांकन रद्द

By: May 15th, 2024 7:42 pm

लोकसभा चुनाव में दाखिल 11 तो विधानसभा उपचुनाव के आठ नामांकन में मिली खामियां

कवरिंग कैंडिडेट के हैं ज्यादातर रद्द हुए नामांकन

कल नाम वापसी के बाद निर्दलीय उम्मीदारों को मिलेंगे चुनाव चिह्न

विशेष संवाददाता-शिमला

हिमाचल में लोकसभा और विधानसभा उपचुनाव में मुकाबला और रोमांचक हो गया है। छंटनी प्रक्रिया में 19 उम्मीदवार दौड़ से बाहर हो गए हैं। दौड़ से बाहर होने वालों में भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों के उम्मीदवार शामिल हैं। हालंकि इनमें से ज्यादातर उम्मीदवारों ने कवरिंग कैंडिडेट के तौर पर अपना नामांकन दाखिल किया था। बुधवार को छंटनी प्रक्रिया के दौरान नामांकन में खामियां पाए जाने के बाद इनके नामांकन को रद्द कर दिया गया। सबसे ज्यादा 11 नामांकन लोकसभा चुनाव में रद्द हुए हैं। जबकि विधानसभा उपचुनाव में दाखिल आठ नामांकन रद्द किए गए हैं। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के लिए 51 उम्मीदवारों ने अपने नामांकन दाखिल किए थे। इनमें दोनों ही राजनीतिक दलों के चार-चार उम्मीदवारों के साथ उनके कवरिंग कैंडिडेट के तौर पर आठ नामांकन दाखिल किए गए थे। नामांकन की छंटनी होने के बाद अब लोकसभा में 40 उम्मीदवार मैदान में रह गए हैं।

इन सभी के नाम अब 17 मई को होने वाली नाम वापसी के लिए प्रस्तावित किए गए हैं। निर्वाचन विभाग ने नाम वापसी के लिए दो दिन तय किए हैं। इनमें गुरुवार और शुक्रवार को नामांकन वापस होंगे और शुक्रवार को चुनाव चिह्न आबंटित किए जाएंगे। इसके साथ ही प्रदेश भर में 30 मई तक प्रचार अभियान भी शुरू हो जाएगा। दूसरी ओर विधानसभा उपचुनाव में आठ नामांकन रद्द हुए हैं। छह सीटों पर हो रहे उपचुनाव के लिए 33 उम्मीदवारों ने अपने-अपने नामांकन दाखिल किए थे। अब 25 उम्मीदवार ही मैदान में बचे हैं। विधानसभा उपचुनाव के लिए भी आगामी प्रक्रिया 17 मई को पूरी होगी। इस दौरान निर्दलीय उम्मीदवारों को चुनाव चिह्न आबंटित किए जाएंगे।

शिमला में रीना कश्यप का नोमिनेशन कैंसल
शिमला संसदीय सीट पर विधायक रीना कश्यप का नामांकन रद्द हुआ है। रीना कश्यप ने सुरेश कश्यप के कवरिंग कैंडिडेट के तौर पर नामांकन दाखिल किया था। शिमला में आठ उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किए थे। इनमें से सात का नामांकन सही पाया गया है। जो नामांकन सही पाए गए हैं इनमें कांगे्रस के उम्मीदवार विनोद सुल्तानपुरी, भाजपा के सुरेश कश्यप, अखिल भारतीय परिवार पार्टी के मदन लाल, जनता कांग्रेस के रोबट कुमार, राष्ट्रीय देवभूमि पार्टी के सुरेश कुमार और निर्दलीय उम्मीदवार कुंदन लाल कश्यप मैदान में बचे हैं। 17 मई के बाद यहां स्थिति पूरी तरह से साफ हो पाएगी।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App