Bilaspur News: बिलासपुर गोलीकांड में पूर्व विधायक के बेटे का नाम

By: Jun 22nd, 2024 12:07 am

पुलिस पूछताछ में मुख्य आरोपी लुधियाना के सन्नी गिल ने बताई सारी सच्चाई, एसपी बिलासपुर विवेक चहल का खुलासा

दिव्य हिमाचल ब्यूरो-बिलासपुर

बिलासपुर में जिला न्यायालय परिसर के समीप घटित गोलीकांड में पूर्व विधायक बंबर ठाकुर के बड़े बेटे का नाम सामने आया है। पूछताछ के दौरान मुख्य आरोपी ने सारा राज उगल दिया है। इस घटना में मुख्य आरोपी को शह देने वाले गौरव नड्डा नामक युवक को भी गिरफ्तार किया गया है। दोनों को शुक्रवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। रिमांड के दौरान पुलिस उनसे इस घटना को लेकर गहन पूछताछ करेगी। उम्मीद है कि अभी घटना से जुड़े कई सुराग पुलिस के हाथ लगेंगे। उधर, घटना के बाद से फरार पुरंजन ठाकुर की तलाश के लिए विभिन्न टीमें रवाना हो गई हैं। बिलासपुर के पुलिस अधीक्षक विवेक चहल ने प्रेस कान्फ्रेंस में यह खुलासा किया।

उन्होंने बताया कि पूर्व विधायक का बेटा गुरुवार से फरार है और उसका फोन भी बंद है। गोलीकांड के आरोपी ने पूछताछ में घटना का सारा राज उगल दिया है। बहरहाल, केस से जुड़े हर पहलू को ध्यान में रखते हुए पुलिस अपनी जांच को आगे बढ़ा रही है। उन्होंने बताया कि यह पूरा प्रकरण पूर्व निर्धारित था। जैसे ही कोर्ट में पेशी के बाद सौरभ पटियाल उर्फ फांदी अपने साथियों के साथ न्यायालय से बाहर निकलकर गंतव्य के लिए चलने लगा तो पीछे से आरोपी सन्नी गिल ने देसी कट्टे से दो राउंड फायर कर दिए। एक राउंड वहां पर खड़ी महिंद्रा जीप के शीशे को चीरते हुए निकल गया, तो दूसरा राउंड सौरभ पटियाल की पीठ पर लगा जिससे सौरभ गंभीर घायल हुआ और उसे उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया, अभी एम्स में उपचाराधीन है। वहीं, गोली दागने के फरार हुए आरोपी ने पूर्व विधायक के बेटे को फोन किया था जिसका बाकायदा पुलिस के पास पुख्ता प्रमाण है।

आरोपी को पुलिस ने अस्पताल के पास पकड़ लिया था और गिरफ्तार कर आईपीसी की धारा 307 और आम्र्स एक्ट 25 के तहत केस दर्ज किया है। आरोपी से पूछताछ जारी है। इस केस से जुड़े एक युवक गौरव नड्डा को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है और उससे भी पूछताछ हो रही है। एसपी ने बताया कि इस मामले में मुख्य आरोपी के साथ कितने पैसों का लेन देन हुआ है इसकी बारीकी से जांच की जा रही है। कुछ कैश पहले दिया गया तो कुछ बाद में देने की बात हुई है।

एक महीने से था संपर्क में

पुलिस अधीक्षक के अनुसार मुख्य आरोपी सन्नी गिल आनंदपुरसाहिब में रहता था और पूर्व विधायक के बेटे के संपर्क में आया। पिछले लगभग एक माह से वह उससे बातचीत कर रहा था और एक दो बार बिलासपुर आकर लौट गया था। पिछले एक हफ्ते से बिलासपुर में अस्पताल के समीप गौरव नड्डा के सरकारी आवास में रह रहा था। यह सरकारी आवास गौरव नड्डा के पिता के नाम पर अलॉट है। गौरव पुरंजन का परिचित था। ऐसे में मुख्य आरोपी को शह देने के लिए गौरव को गिरफ्तार किया है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App