मतदान करने जाना है तो बसों के भरोसे न रहें, वोटर खुद करें प्रबंध

By: Jun 1st, 2024 12:55 am

चुनाव ड्यूटी और छुट्टी होने के कारण बस सेवाएं रहेंगी प्रभावित
स्टाफ रिपोर्टर-भुंतर
देश की नई लोकसभा के लिए शनिवार को होने वाले मतदान के लिए बसों के जरिए दूर दराज से आने वाले वोटरों को अपने इंतजाम कर वोट डालने के लिए आना पड़ेगा। चुनाव प्रक्रिया को निपटाने के लिए जिला भर की 50 से अधिक एचआरटीसी की बसों को ड्यूटी पर लगाया है। जिन रूटों पर ये बसें आम दिनों में चलती हैं वे रूट प्रभावित होने तय है और ऐसे में इनके सहारे रहने वाले वोटरों को परेशानी हो सकती है। लोकसभा चुनाव के लिए शनिवार को होने वाले चुनावों के लिए निर्वाचन विभाग की टीमों ने जिला की रूपी-पार्वती घाटी के सभी पोलिंग स्टेशनों पर दस्तक दे दी है। शुक्रवार को पोलिंग बूथों को तैयार करने में कर्मचारी डटे रहे।

इसके अलावा चुनाव के लिए तैयारियों को जांचने के लिए विभाग की निरीक्षण टीमें भी दिन भर सभी पोलिंग स्टेशनों में जाकर जायजा लेती रही। बता दें कि रूपी-पार्वती घाटी के अलावा सैंज, बजांर, आनी, लगघाटी, मनाली के कई ग्रामीण ईलाके ऐसे हैं जहां वोटरों को कई किलोमीटर का सफर करने की नौबत आती है या फिर वोटर मतदान के लिए घरों से बाहर होने के कारण रविवार को पहुंचेगे। ऐसे वोटरों को बसों की कमी परेशान हो सकती है। बताया जा रहा है कि कुल्लू में एचआरटीसी की बसों को चुनाव की ड्यूटी पर लगाया गया है जो करीब 70 से अधिक ग्रामीण रूटों पर नियमित तौर पर दौड़ती है। लेकिन चुनाव के कारण इन रूटों पर ये बसें नहीं चल पाएगी।

पिछले चुनावों में भी हुई थी दिक्कत
पिछले विधानसभा और 2019 के लोकसभा चुनावों के दौरान भी बसों के इंतजार के चलते कई स्थानों पर वोटर तय समय पर मतदान के लिए नहीं पहुंच पाए थे। वहीं इस बार भी इसी प्रकार की दिक्कत हो सकती है। हालांकि राजनैतिक दलों के समर्थक वोटिंग के दिन सुविधा के लिए अपने स्तर पर वोटरों को मतदान केंद्रों तक पहुंचाने में जरूर भूमिका निभाते रहे हैं जो राहत देने वाला हो सकता है। कुल्लू की जिला निर्वाचन अधिकारी तोरूल एस रविश के अनुसार एचआरटीसी की बसें पोलिंग पार्टियों व ईवीएम को ले जाने के लिए ड्यूटी पर है। हालांकि उनके अनुसार केवल उन्ही बसों को ड्यूटी पर लगाया गया है जिससे कम रूट प्रभावित होते हैं। बहरहाल, वोटरों को मतदान केंद्रों तक पहुंचने के लिए बसों के भरोसे नहीं रहना होगा।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App