बारिश होने से धान की फसल को मिली राहत, किसानों के खिले चेहरे

By: Jun 21st, 2024 12:18 am

धीरज चौपड़ा-पांवटा साहिब
पांवटा साहिब में क्षेत्र में हुई बारिश ने आम लोगों को जहां तेज गर्मी से खासी राहत पहुंचाई। वहीं धान की खेती करने वाले किसानों के लिए भी राहत बनकर बरसी है। इसके चलते किसानों के चेहरे खुशी से खिल उठे हैं। किसानों की खुशी स्वभाविक भी है, क्योंकि धान की फसल को पानी की ज्यादा जरूरत होती है। ऐसे में किसानों का मानना है कि धान की फसल के लिए बारिश भी जरूरी होती है। इस बारिश से धान की फसल को फायदा पहुंचा है। किसानों को गर्मी और बिना बारिश के जहां अपनी धान की फसल के लिए पानी की समस्या आए दिन हो रही थी। वहीं इस बारिश में किसानों को काफी लाभ हुआ है। किसानों ने बताया कि इन दिनों उन्हें बिजली मुश्किल से तीन से चार घंटे ही मिल पा रही थी। इस बारिश से धान किसानों को सिंचाई से फिलहाल छुटकारा मिला है। बता दे कि पांवटा साहिब में मानसून के आगमन किसानों ने धान की बुआई शुरू कर दी है। बता दें कि पांवटा साहिब में अभी धान की बुआई चल रही है, किसानों को खेतों में पानी के लिए ट्यूब्वेल चलाकर सिंचाई करने पड़ती है, ऐसे में बारिश से उन्हें काफी फायदा हुआ है। एचडीएम

मक्की-गन्ने की फसल को मिलेगा लाभ
पांवटा साहिब के किसान भजन चौधरी, सुनील चौधरी ने कहा कि धान की फसल के लिए बारिश अच्छी होती है क्योंकि इसके लिए पानी बहुत जरूरत होती है। इस बारिश ने आवश्यक सिंचाई पूरी कर दी है, किसान सुनील ने कहा की यह बारिश मक्की और गन्ने की फसल के लिए भी अच्छी है।

बता दें कि बारिश से धान की फसल के लिए मदद मिलेगी। और धान की फसल में अगर पत्ता लपेट यानी लीफ फोल्डर जैसी बीमारी का प्रकोप भी दूर हो जाएगा। बीते दिनों में धान की फसल के लिए बारिश भी जरूरी थी। क्योंकि अभी किसानों के खेतों में धान की फसल फ्लोरिंग स्टेज पर है। लगभग दस से 12 दिनों में किसानों के खेतों में धान के पौधों की मिल्की स्टेज शुरू हो जाएगी।
पंकज मित्तल, कृषि अधिकारी धौलाकुआं


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App