सात समंदर पार बचाई पंजाब के युवक की जान

By: Jun 7th, 2024 9:03 pm

ऑस्टे्रलिया में गगरेट के अंबोटा के लक्ष्य ने आग की लपटों से घिरे छात्र को सुरक्षित घर से बाहर निकाला

स्टाफ रिपोर्टर-गगरेट

भारतीय दुनिया के किसी भी कोने में रहें लेकिन अपनी सभ्यता व मुसीबत में फंसे व्यक्ति की मदद करने के व्यवहार से पहचाने ही जाते हैं। विधानसभा क्षेत्र गगरेट के अंबोटा गांव के ऑस्ट्रेलिया में रह रहे एक युवक ने पड़ोस में रह रहे पंजाबी युवक को अकेले अपने दम पर लाक्षागृह बने उसके घर से जिंदा बाहर निकाल कर न सिर्फ उसकी जान बचा ली बल्कि उसकी बहादुरी का किस्सा सिडनी में जिसने भी सुना उसने ही दांतों तले अंगुली दबा ली। उसकी इसी बहादुरी के चलते अंबोटा गांव का लक्ष्य सिडनी के वेव पोर्टल पर हीरो बना हुआ है। अंबोटा गांव का लक्ष्य अगस्त 2023 में बिजनेस मैनेजमेंट करने के लिए ऑस्ट्रेलिया गया था। जहां वह रह रहा है वहां पर पंजाब का प्रभ नाम का एक छात्र भी उसके पड़ोस में रह रहा है। बेशक लक्ष्य उसे जानता नहीं था लेकिन 28 मई को अपने घर में बैठे लक्ष्य ने एक जोरदार आवाज सुनी और उस आवाज को सुनकर जब वह घर से बाहर आया तो उसने देखा कि उसके पड़ोस का घर आग की लपटों से घिर चुका है। हालांकि यह घटना देखने के लिए कई लोग जलते घर के बाहर जमा थे लेकिन कोई भी उस घर में फंसे प्रभ को बाहर निकालने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था।

ऐसे में लक्ष्य ने भारतीय होने का फर्ज अदा किया और जैसे ही घर का मुख्य दरवाजा खोलने का प्रयास किया तो वह भी अंदर से बंद हो चुका था। लक्ष्य ने मदद के लिए लोगों को बुलाना चाहा लेकिन दहशत व डर से सहमे हुए लोग उसकी मदद को आगे नहीं आए। ऐसे में भी लक्ष्य ने हिम्मत नहीं हारी और अकेले ही किसी तरह से दरवाजा तोडक़र आग से घिरे घर के अंदर प्रवेश हुआ तो देखा कि प्रभ बेहोशी की हालत में फर्श पर गिरा पड़ा था। किसी तरह से घसीट कर वह प्रभ को घर से बाहर लाया। लक्ष्य ने फायर ब्रिगेड के साथ एंबुलेंस सेवा को भी सूचित किया। घायल को सिडनी के एक अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करवाया गया है। सिडनी फायर ब्रिगेड का मानना है कि आग खाना बनाते हुए दुर्घटनावश लगी होगी। प्रभ की हालत में अब सुधार है। लक्ष्य की इस बहादुरी के चलते वह इन दिनों सिडनी के वेव पोर्टल पर हीरो की तरह छाया हुआ है। लक्ष्य के पिता कंस्ट्रक्शन कांट्रेक्टर रमन कुमार व मां आंगनबाड़ी पर्यवेक्षक तृप्ता मिन्हास ने बताया कि उन्हें अपने बेटे पर नाज है, जो सात समंदर पार भी अपनी सभ्यता को नहीं भूला है।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App