पतंजलि योगपीठ में मनाया योग दिवस

By: Jun 21st, 2024 10:00 pm

दिव्य हिमाचल ब्यूरो — हरिद्वार

योग ऋषि स्वामी रामदेव तथा आचार्य बालकृष्ण के दिशानिर्देशन में पतंजलि वैलनेस, पतंजलि योगपीठ-2 स्थित योग भवन सभागार में 10वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस ‘स्वयं और समाज के साथ यूनिवर्स के लिए योग’ विषय के साथ मनाया गया। इस अवसर पर स्वामी रामदेव ने कहा कि योग व योगमूलक इंटीग्रेटिड ट्रीटमेंट सिस्टम से साध्य-असाध्य रोगों को रिवर्स किया जा सकता है। योग फॉर सेल्फ व सोसायटी ही नहीं, योग फॉर यूनिवर्स अर्थात युग के लिए योग है। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व का मॉडर्न मेडिकल सिस्टम व संसार की सरकारें जो नहीं कर पाईं, वे सनातन धर्म मूलक योग से एक संन्यासी ने पतंजलि के माध्यम से करके दिखा दिया है। योग व योगमूलक इंटीग्रेटिड ट्रीटमेंट सिस्टम से असाध्य माने जाने वाले लिवर, किडनी, लंग्स, हार्ट आदि के रोगों को भी रिवर्स किया जा सकता है अर्थात रोगों को जड़ से खत्म किया जा सकता है। इस अवसर पर स्वामी रामदेव ने यौगिक जॉगिंग, सूर्य नमस्कार के साथ अनुलोम-विलोम, भस्त्रिका, भ्रामरी, कपालभाति, भुजंगासन, वृक्षासन, ताड़ासन, मंडुकासन, शलभासन, गौमुखासन, वज्रासन, ध्यान आदि का अभ्यास कराया।

कार्यक्रम में पतंजलि योग समिति हरिद्वार व रुडक़ी के तत्वावधान में आसपास के लगभग 200 गांवों के लोगों ने योगसत्र में भाग लिया। इस अवसर पर पतंजलि वैलनेस के थैरेपिस्टों ने पंचकर्म, षट््कर्म तथा प्राकृतिक चिकित्सा की विविध थेरेपियों तथा पतंजलि गुरुकुलम व आचार्यकुलम के छात्र-छात्राओं ने योग की विभिन्न मुद्राओं, मलखम्ब योग, रस्सी योग, ताइक्वांडो आदि का प्रदर्शन किया।कार्यक्रम में पतंजलि महिला योग समिति की मुख्य केंद्रीय प्रभारी साध्वी देवप्रिया, मुख्य केंद्रीय प्रभारी भाई राकेश ‘भारत’ व स्वामी परमार्थदेव, क्रय समिति अध्यक्षा बहन अंशुल, संप्रेषण विभाग प्रमुख बहन पारूल, पीआरआई के प्रमुख वैज्ञानिक डा. अनुराग वाष्र्णेय, मुख्य महाप्रबंधक (ट्रस्ट) ब्रिगेडियर टीसी मल्होत्रा, मानव संसाधन प्रमुख तरुण राजपूत, पतंजलि आयुर्वेद कालेज के प्राचार्य प्रो. अनिल यादव, पतंजलि आयुर्वेद हॉस्पिटल के उपाधीक्षक डा. अरुण पांडेय, स्वामी बजरंगदेव, स्वामी आर्षदेव, स्वामी ईशदेव सहित पंतजलि योगपीठ से संबद्ध समस्त इकाईयों के इकाई प्रमुख, अधिकारी, कर्मचारी व पतंजलि संन्यासाश्रम के सभी संन्यासी भाई व संन्यासिनी बहनें उपस्थित थीं।


Keep watching our YouTube Channel ‘Divya Himachal TV’. Also,  Download our Android App