ब्लॉग

हिमाचल में बीते दिनों चार नगर निगमों के चुनावों के जो परिणाम आए हैं, उनसे 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के बारे में लोगों के मन का अंदाजा लगाया जा सकता है। चार नगर निगमों में जहां दो नगर निगम एक पार्टी ने जीते, जबकि मुख्यमंत्री के अपने गृह जिले में ही सत्ताधारी पार्टी

कैप्टन अमरेंद्र का विरोध भी समझ में आता है। आखिर किसान का जो पैसा आढ़ती के पास आता है, वह उसे अकेले थोड़ा पचा पाता होगा। हो सकता है उसमें अकेले पचा पाने की क्षमता भी हो, लेकिन आसपास की जुंडली भला उसे अकेले पचाने देगी। इसलिए कैप्टन साहिब का विरोध देख कर भी आश्चर्य

शुरू से लेकर अंत तक किशोरावस्था अगले 6 से 7 वर्ष तक चलती है। किशोरावस्था में शारीरिक क्षमताओं व सलीके में पुनर्गठन होता है। मानव वृद्धि व विकास को समझना जरूरी है… पिछले एक वर्ष से भी अधिक समय से पूरा विश्व कोरोना महामारी के कारण अस्त-व्यस्त चल रहा है कि अब इस वर्ष भी

कोविड वैक्सीन का पहला डोज़ लेने के बाद शुरू के 15 दिन बहुत सावधानी के दिन हैं क्योंकि तब हमारा इम्यून सिस्टम बहुत कमज़ोर होता है और जरा सी असावधानी से हम कोविड या किसी अन्य वायरस के शिकार हो सकते हैं। इस दौरान बार-बार पानी पीना, हाथ धोना, भीड़ से बचना आदि सावधानियां आवश्यक

महिला प्रत्याशी के विजय होने पर लोग उस महिला को कम, उसके पति, पुत्र, पिता, ससुर को अधिक मुबारकबाद देते हैं। चौराहों पर चर्चा होती है कि फलां की घरवाली जीत गई। आखिर कब हम महिला के अस्तित्व, सामर्थ्य, अस्मिता व गरिमा को सम्मान देंगे? स्पष्ट है कि जब महिला जीत कर या मनोनीत होकर

उनके पिता रामोजी राव एक हवलदार थे। घर की माली हालत ठीक नहीं थी। मां जीजाबाई की मौत के बाद चार भाई-बहनों में सबसे छोटे रजनीकांत ने परिवार को सहारा देने के लिए ‘कुली’ का भी काम किया। इसके बाद वह बेंगलुरू ट्रांसपोर्ट सर्विसेज में कंडक्टर बन गए। फिर उन्होंने अभिनय में डिप्लोमा किया… मेहनत

दैनिक जीवन के तनाव और खराब जीवनशैली ने सबसे ज्यादा हमारी नींद को प्रभावित किया है। आलम यह हो गया है कि दिनभर की थकान के बाद भी बिस्तर में जाने के बाद लंबे समय तक नींद नहीं आती है। नींद पूरी न हो पाने का असर हमारे अगले दिन के कामकाज पर पड़ता है

मैं समझता हूं कि कपड़े और कागज जैसी आवश्यक एवं उपयोगी वस्तुओं के स्थान पर तेल पर अधिक टैक्स वसूल करना ही उचित होगा। विशेषकर इसलिए कि तेल पर टैक्स वसूल करने का बोझ आम आदमी पर कम और समृद्ध वर्ग पर ज्यादा पड़ेगा। तेल के ऊंचे मूल्य सही हों तो भी सरकार की आलोचना

प्रदेश स्तर पर एक बहुत ही मजबूत सांस्कृतिक नीति की आवश्यकता है जिसमें कला एवं संस्कृति के विकास तथा उत्थान के साथ सभी कलाओं के कलाकारों को आर्थिक रूप से समृद्ध एवं सबल बनाने की जरूरत है… लगभग एक वर्ष से कोरोना समाप्ति की प्रतीक्षा करते हिमाचली कलाकारों की आशाओं पर एक बार फिर से