सत्य का ज्ञान

ओशो ज्ञान एक ऐसा शब्द है, जिसके भेद एक दूसरे से अलग है। एक ज्ञान है केवल जानना, जानकारी, बौद्धिक समझ। दूसरा ज्ञान है, अनुभूति, प्रज्ञा, जीवंत प्रतीति। एक मृत तथ्यों का संग्रह है, एक जीवित सत्य का बोध है। दोनों में बहुत अंतर है। भूमि और…

तंत्र साधना का इतिहास बहुत प्राचीन है

तंत्र साधना का इतिहास बहुत प्राचीन है। वैदिक काल से भी पहले जो आदिम जातियां इस भूभाग पर रहती थीं, उनमें लिंग और योनि की पूजा प्रचलित थी। जब उन लोगों ने देखा कि मनुष्यों के प्रजनन में इन इंद्रियों का प्रमुख हाथ है, तो वे इनकी प्रतीकात्मक रूप…

जीवों का कल्याण

स्वामी विवेकानंद गतांक से आगे... उनके सामने एक नई मुसीबत आन खड़ी हुई। परीक्षा खत्म होते ही उनके पिता उनसे विवाह की जिद करने लगे। उन्होंने किसी संपन्न परिवार की कन्या से उनका विवाह तय कर दिया। लड़की थोड़ी सांवली थी,इसलिए उन्होंने दहेज में…

लड़कियों को सिखाई जाती थी तलवारबाजी

सौंदर्य के क्षेत्र में शहनाज हुसैन एक बड़ी शख्सियत हैं। सौंदर्य के भीतर उनके जीवन संघर्ष की एक लंबी गाथा है। हर किसी के लिए प्रेरणा का काम करने वाला उनका जीवन-वृत्त वास्तव में खुद को संवारने की यात्रा सरीखा भी है। शहनाज हुसैन की बेटी नीलोफर…

गीता रहस्य

स्वामी रामस्वरूप श्लोक 9/10 में भी श्रीकृष्ण महाराज ऋग्वेद मंत्रों के आधार पर सृष्टि की उत्पत्ति निराकार एवं अजन्मा ईश्वर तथा प्रकृति, दोनों के कारण ही कह रहे हैं। परंतु यह सब भेद तब तक छुपे ही रहेंगे जब तक संसार विद्वान आचार्य से…

योग की संपूर्ण प्रक्रिया

सद्गुरु जग्गी वासुदेव ध्यानलिंग यह क्या है? अगर आज आप जीवन पर गौर करें, तो आधुनिक विज्ञान यह बिलकुल साफ तौर पर कह रहा है कि सारा अस्तित्व बस एक ऊर्जा है, जो खुद को कई अनगिनत रूपों में व्यक्त कर रही है। बात केवल इतनी है कि इसकी…

मूल्यवान सूत्र

जेन कहानियां जेन के जापान अनुयायी तेत्सुगन ने बौद्ध मत के कुछ ऐसे सूत्रों का प्रकाशन जापानी भाषा में करने का बीड़ा उठाया, जो तब तक केवल चीनी भाषा में उपलब्ध थे। यह एक विशाल पैमाने का काम था। लकड़ी के छापों से सात-सात हजार प्रतियों…

विष्णु पुराण

चौरों विलीहे पतित मर्यादादूशकस्तथा। देवद्विजपितृद्वेष्टा रत्नदूषयिता चयः। स याति कृमिभक्षे वै कृमिशे च दृरिष्टकृत। पितृदेवातिथीस्त्यक्त्वा पर्यश्रांति नराधमः। लालाभक्षे स यात्युग्रैशरकर्ता च वेधके। करोति कर्णिनो यश्च यश्च खखांदि…

अनमोल वचन

* जीवन में सबसे बड़ी खुशी उस काम को करने में है, जिसे लोग कहते हैं कि आप नहीं कर सकते * अपने लक्ष्य को ऊंचा रखो और तब…

डायरिया से बचने के टिप्स

गर्मी के मौसम में साफ.-सफाई का ध्यान न रखते हुए अकसर लोग डायरिया के शिकार हो जाते हैं। जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, वह रोग के शिकार जल्दी होते हैं। यह समस्या रोटा वायरस के शरीर में प्रवेश करने से होती है, जिस वजह से दस्त, उल्टी…

बुढ़ापे में अच्छी नींद है जरूरी

उम्र के साथ-साथ हमारी याददाश्त भी कम होने लगती है। ऐसे में रात को अच्छी नींद आने से दिन भर हमारा मूड ठीक रहता है और इसकी मदद से बुढ़ापे में याददाश्त को तेज रखा जा सकता है। एक नई शोध में इस बात का खुलासा किया गया है। इंटरनेशनल…

दादी मां के नुस्‍खे

* तिल के तेल या घी में लहसुन की 5-7 कलियां तोड़ कर तल लें। अब इसमें सेंधा नमक डालकर मरीज को खिलाएं। इससे बुखार उतर जाता है। * गर्मी में लू लगने से बुखार हुआ हो, तो कच्चा आम पानी में पका लें और इसके रस को पानी में घोलकर पिएं। * पुदीने और…

फायदेमंद है ककड़ी

ककड़ी यानी गर्मियों के मौसम में आने वाला बेहतरीन फल। इसका सेवन कच्ची अवस्था में ही किया जाता है। कच्ची ककड़ी में आयोडीन की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है, जिससे यह कई रोगों से बचाव करती है। गर्मी के मौसम में ज्यादातर लोग ककड़ी खाना खूब पसंद…

ऐसे बचें  टैनिंग की समस्या से

खीरे के दो टुकड़े ले लीजिए। आधे खीरे को कद्दूकस कर लें। अब इसमें दो चम्मच दूध या मिल्क पाउडर मिला लें। इसके साथ इसमें नींबू की कुछ बूंदें मिला लें। इसे त्वचा के टैनिंग से प्रभावित हिस्से पर लगाएं और सूखने के बाद इसे साधारण पानी से धो लें।…

व्रत एवं त्योहार

19 मई रविवार, ज्येष्ठ, कृष्णपक्ष, प्रथमा 20 मई सोमवार, ज्येष्ठ, कृष्णपक्ष, द्वितीया, नारद जयंती 21 मई मंगलवार, ज्येष्ठ, कृष्णपक्ष, तृतीया 22 मई बुधवार, ज्येष्ठ, कृष्णपक्ष, चतुर्थी, गणेश चतुर्थी व्रत 23 मई बृहस्पतिवार,…