आस्था

‘अश्वत्थामा बलिर्व्यासो हनुमांश्च विभीषणः। कृपः परशुरामश्च सप्तैते चिरंजीविनः॥’ अर्थात् अश्वत्थामा, बलि, व्यास, हनुमान, विभीषण, कृपाचार्य और भगवान परशुराम ये सभी...

कुछ ऐसे तरीके हैं जिनके लिए आपको किसी बड़े उपाय की जरूरत नहीं करनी पड़ती । आप उन्हें करते रहिए...

भविष्य बताने वाले स्वप्न कभी तो स्थाई प्रभाव वाले होते हैं और कभी अल्पकालिक । यानी कि उनका जो भी...

सुषुप्तिरत्र तृष्णा स्यादीर्ष्या पिशुनता तथा॥ लज्ज् भयं घृणा मोहः कषायोऽथ विषादिता । लौन्यं प्रनाशः कपटं वितर्कोऽप्यनुपिता॥ आश्शा प्रकाशश्चिन्ता च समीहा...

श्लोक में अगला पद है अलोलुप्त्वम् अर्थात काम-क्रोध आदि विषयों से उदासीन होना। बिना साधना के कोई भी विषयों से...

महाबाहो! एक दिन मैं पाप हारिणी सरयू के तट पर गया और वहां स्नान, पितरों का तर्पण तथा विधिपूर्वक दान...

पुत्र ने सहजभाव से उत्तर दिया-तात! वह विषय अति पावन एवं गुह्यतम है। आज के दिन धर्मानुष्ठान कर, कल मैं...

इस पर हाथी ने उनसे कहा कि मेरा रोग दवाइयों से दूर नहीं होगा। आप कृपा करके भगवत गीता के...

विश्वामित्र के पुत्र अष्टक ऋषि ने सुरम्य, अमित गति वाली सात नदियों का चियण किया है। हे इंद्र, रमणीय, मनोहर,...