विचार

– शेर सिंह मेरूपा, सुल्तानपुर जहरीली है इनसानियत मैली है जन्नत सा माहौल था जहां, हिंसा और नफरत की आग...

– डा. शशिकांत गर्ग, बल्लभगढ़, हरियाणा एक ओर प्रतिवर्ष लाखों रुपए कमाने वाले लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है...

कॉमनवैल्थ गेम्ज से राष्ट्रीय आशाओं का सैलाब भले ही हमारी काबिलीयत पर शक करता रहे, लेकिन इस बहाने देश ने...

राष्ट्रमंडल खेलों में महज पांच दिन बाकी हैं, जबकि बदइंतजामी के कारण देश की छवि का प्रभावित होना जारी है।...

– डा. भरत झुनझुनवाला, लेखक, आर्थिक विश्लेषक एवं टिप्पणीकार हैं अधिक संख्या में रोजगार उत्पन्न करने वाले उद्योगों को श्रम...

– देवी सिंह वर्मा, लेखक,  कलंगार, अलसिंडी तहसील करसोग, जिला मंडी से शिक्षक हैं हिमाचल प्रदेश में अनगिनत विद्युत परियोजनाओं,...

– दयाल चंद रघुवंशी, थड़ी, धार की बेड़ हिमाचल प्रदेश के शांत स्वभाव व भोले भाले कहे जाने वाले लोगों...

– प्रेमपाल महिंद्रू, नाहन इस बार बरसात ने पिछले सारे रिकार्ड तोड़ दिए। खूब जमकर बरसे बादल और अभी भी...

– कांशीराम कौशल, जंजैहली स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात हमारे देश के कर्णधारों ने दस वर्ष के लिए आरक्षण का प्रावधान...