हिमाचल समाचार

स्टाफ रिपोर्टर-धर्मशाला कांगड़ा कला संग्रहालय धर्मशाला में तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कला प्रदर्शनी आयोजित की जा रही है। इसमें जर्मनी, थाईलैंड, पौलेंड, हंगरी संग मारिशस सहित अन्य कई देशों के कलाकारों की कलाकृतियों को धर्मशाला में सजाया गया है। तीन दिवसीय प्रदर्शनी में धर्मशाला संग्रहालय में अंतरराष्ट्रीय कलाकारी देखने का आम लोगों, पर्यटकों व कला प्रेमियों

कांगड़ा। कांगड़ा टांडा रोड पर एक दर्दनाक सड़क हादसा पेश आया है। यहां बुधवार देर रात एक तेज रफ्तार ट्रक ने स्कूटी को टक्कर मार दी। हादसे में स्कूटी सवार प्रशिक्षु डॉक्टर की मौत हो गई जबकि एक प्रशिक्षु युवती गंभीर...

शिमला बीएससी और बीकॉम प्रथम वर्ष के परीक्षा परिणाम में 80 फीसदी छात्रों के फेल होने के मामले में एचपीयू प्रशासन ने...

शिमला। हिमाचल प्रदेश में छह दिनों तक मौसम साफ रहने के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के अनुसार राज्य में पहली से छह दिसंबर तक सभी भागों में मौसम शुष्क रहने की संभावना है। वहीं प्रदेश के मैदानी जिलों बिलासपुर, कांगड़ा, हमीरपुर और मंडी के कुछ भागों में सुबह-शाम धुंध पडऩे से ठंडक बढ़

अपै्रल में बिलासपुर गरामोड़ा तक पूरी तरह से कंप्लीट हो जाएगा फोरलेन दिव्य हिमाचल ब्यूरो — बिलासपुर पहली जनवरी, 2023 से कीरतपुर-नेरचौक फोरलेन छोटी गाडिय़ों के लिए आवागमन के लिए थ्रू हो जाएगा। अभी थापना टनल का काम चल रहा है, जिसे फरवरी तक कंपलीट करने के लिए जोरों पर काम किया जा रहा है।

स्टाफ रिपोर्टर—शिमला हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए हुए मतदान की मतगणना आठ दिसंबर को होनी है। प्रदेश हर एक व्यक्ति की नजरें विधानसभा चुनावों के रिजल्ट पर टिकी हुई हैं। आठ दिसंबर को सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हो जाएगी। मतगणना की हर अपडेट्स आप चुनाव आयोग को वोटर हेल्पलाइन ऐप पर

आठ दिसंबर सुबह 7:59 मिनट तक पहुंच जाने चाहिए स्टाफ रिपोर्टर — शिमला चुनाव आयोग देरी से पहुंचने वाले पोस्टल बैलेट की गिनती नहीं करेगा। आयोग के पास आठ दिसंबर सुबह 7:59 मिनट तक से पोस्टल बैलेट पहुंच जाने चाहिए। इसके बाद प्राप्त होने वाले पोस्टल बैलेट की गिनती नहीं होगी। प्रदेश में विधानसभा चुनावों

स्टाफ रिपोर्टर—शिमला चुनाव ड्यूटी में तैनात सभी नियमित एवं अनुबंध कर्मचारियों को डबल वेतन मिलेगा, जबकि आउटसोर्स व डेलीवेज कर्मियों को लमसम आधार पर भुगतान किया जाएगा। बुधवार को चुनाव आयोग के हिमाचल प्रदेश कार्यालय की ओर से सभी जिलों के डीसी को आदेश जारी कर दिए हैं। आयोग की ओर से जारी आदेशों में

टीम-पालमपुर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने हिमाचल के दवा उद्योग की गिरती साख पर चिंता जताते हुए कहा कि केंद्र और हिमाचल सरकार दवा उद्योग में हिमाचल को अग्रणी बनाने की कोशिश कर रही है, परंतु भ्रष्टाचारी तंत्र पूरी दुनिया में भारत के दवा उद्योग को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है।