himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

नहीं मिलेगा बेरोजगारी भत्ता

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने दोहराया, मामले को कैबिनेट में लाने की कोई मंशा नहीं

NEWSधर्मशाला— मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने एक बार फिर कहा है कि  बेरोजगारी भत्ता नहीं दिया जा सकता। इस मुद्दे को लेकर किसी तरह की कोई कमेटी नहीं बनाई गई है और न ही इसे कैबिनेट में लाने की मंशा है। कौशल विकास के तहत भत्ता दिया जा रहा है और आगे भी दिया जाता रहेगा। धर्मशाला पहुंचे मुख्यमंत्री ने भाजपा द्वार राज्य के विकास की अनदेखी के आरोपों पर कहा कि भाजपा को कभी भी प्रदेश में विकास नहीं दिखता। यह भाजपा नेताओं की आदत बन गई है कि वे अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए इस तरह की बयानबाजी करते हैं। प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने चार वर्षों में हर क्षेत्र का समान विकास करवाया है। अपने शीतकालीन कांगड़ा प्रवास को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार इस प्रवास के दौरान प्रदेश के निचले क्षेत्रों के लोगों के दुख-दर्द को साझा करेगी। निचले क्षेत्रों के लोगों के विकास को लेकर जो योजनाएं पूरी हो चुकी हैं, उन्हें समर्पित किया जाएगा, वहीं कई परियोजनाओं के शिलान्यास भी किए जाएंगे। सीएम ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस पूरी तरह तैयार है। धर्मशाला पहुंचने पर मुख्यमंत्री के स्वागत में शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा, सीपीएस जगजीवन पाल, केसीसीबी अध्यक्ष जगदीश सिपहिया, स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष बलवीर तेगटा, केवल सिंह पठानिया, सत्य प्रकाश ठाकुर, सुरेंद्र काकू तथा बोधराज, उपायुक्त सीपी वर्मा, एसपी संजीव गांधी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं समर्थक उपस्थित रहे। बता दें कि मुख्यमंत्री हर साल कांगड़ा जिला समेत निचले क्षेत्रों के प्रवास पर जनवरी में धर्मशाला पहुंचते हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री कांगड़ा समेत चंबा, ऊना तथा हमीरपुर जिलों में विभिन्न विकासात्मक योजनाओं की आधारशिला रखने के साथ तैयार योजनाओं  का लोकार्पण करते हैं तथा स्थानीय लोगों की विभिन्न समस्याओं से रू-ब-रू होते हैं।

18 से 21 तक बैठकें

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह बुधवार को दिल्ली से हेलिकाप्टर द्वारा 11 दिवसीय शीत प्रवास के लिए धर्मशाला पहुंचे। प्रवास के दौरान 17 जनवरी तक कांगड़ा तथा चंबा जिला के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में करोड़ों की आधारशिला रखेंगे तथा उद्घाटन करेंगे, जबकि 18 से 21 जनवरी के दौरान विभिन्न कल्याण बोर्डों की बैठकों की अध्यक्षता भी करेंगे।

You might also like
?>