शिमला


खेत में गिरी बस, 75 मुसाफिर जख्मी

ठियोग— मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे ठियोग के बलसन क्षेत्र के जनाहन से शिमला जा रही पथ परिवहन निगम की बस (एचपी 03बी-6125) मिहाणा बजरोलीपुल के साथ सड़क  ध्‍ांसने के कारण खेत में जा गिरी। हादसे में बस में सवार लगभग 75 यात्रियों को चोटें आई हैं, जिन्हें प्राथमिक उपचार के लिए ठियोग लाया गया है। ठियोग में 61 सवारियों को प्राथमिक उपचार दिया गया है, जबकि तीन यात्रियों को घायल अवस्था में आईजीएमसी रैफर किया गया है। इसके अलावा कुछ घायलों का इलाज सैंज पीएचसी में किया गया और वहां से उन्हें छुट्टी दे दी गई। बताया जा रहा है कि एचआरटीसी की टाली ठियोग बस के मेहा में खराब हो जाने के कारण दो बसों की सवारियां जनाहन बस में थीं, जिससे ओवरलोड बस के पिछले टायर वाली जगह पर सड़क धंस गई और बस गिर गई। दुर्घटना के बाद ठियोग से बचाव कार्य के लिए पुलिस थाना ठियोग तथा देहा चौकी के जवानों सहित द्वितीय वाहिनी पराला से होमगार्ड के भी कर्मचारी दुर्घटनास्थल पर पहुंचे और घायलों को उपचार के लिए ठियोग अस्पताल लाया। इस दौरान प्रशासन की ओर से एसडीएम ठियोग एमआर भारद्वाज, डीएसपी रतन सिंह नेगी, एसएचओ श्ांकर सिंह, परिवहन निगम शिमला तारादेवी डिपो के क्षेत्रीय प्रबंधक केआर औहटा, निगम के निरीक्षक मदन लाल सहित कई अन्य अधिकारियों की टीम मौके पर पहुंची और घायलों को प्राथमिक उपचार देने में सहयोग किया। एसडीएम ठियोग एमआर भारद्वाज ने बताया कि घायलों का प्राथमिक उपचार ठियोग सिविल अस्पताल में हुआ है और इनमें से तीन यात्रियों को आईजीएमसी शिमला के लिए रैफर किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रशासन की ओर से एक लाख की फौरी राहत घायलों में बांट दी गई है और इनमें से कुछ यात्रियों को चोटें कम आई थीं, जिन्हें उपचार के बाद घर भेज दिया गया है। दो बसों की सवारियां एक बस में थीं।

 आईपीएच मंत्री ने जताया दुख

बस दुर्घटना को लेकर आईपीएच एवं बागबानी मंत्री विद्या स्टोक्स के अलावा ठियोग के पूर्व विधायक राकेश वर्मा, चौपाल के विधायक बलबीर वर्मा ने गहरा दुख प्रकट किया है। आईपीएच मंत्री विद्या स्टोक्स ने कहा है कि एक बड़ा हादसा होने से टल गया। उन्होंने घायलों को हरसंभव सहायता देने के निर्देश स्थानीय प्रशासन को दिए हैं।

कुछ दिन पहले भी हुई थी दुर्घटना

सड़क मार्ग पर कुछ दिन पहले भी बस दुर्घटना हो चुकी है। ओवरवेट होने के कारण सैंज के साथ बलघार में बस गिरने से 14 लोगों की मौत हो गई थी, उस समय भी टाली बस में दो बसों की सवारियां थीं, क्योंकि जनाहन बस सैंज में खराब हो गई थी।

 हादसे में ये हुए घायल

अनिता पुत्री पनियाराम गांव सैंज, चंदा रांटा  पुत्री मोहीराम गांव जनाहन, कांता देवी पत्नी पनियाराम गांव सैंज, सुरेंद्र सिंह पुत्र दौलतराम गांव जनाहन, आत्माराम  पुत्र सुनाराम गांव जनाहन, सोनम पुत्री राकेश रांटा गांव जनाहन, पूजा पुत्री सरेंद्र गांव जनाहन, आंचल, पुत्री सुरेंद्र गांव जनाहन, पल्लू चौहान पुत्री सुरेंद्र गांव जनाहन, किरण पत्नी विजय गांव जनाहन, सिंपल पुत्री प्रकाश गांव जनाहन, गीतांजलि पत्नी सतीश गांव धीरमा, सिमरन पुत्री सतीश गांव धीरमा, रक्षा देवी पत्नी मदनमोहन गांव जनाहन, मीरा देवी पत्नी राम सिंह गांव धारतर, पुन्नू सुमीत्री देवी पत्नी सीता राम गांव पुलवाहल, पंकज कुमार पुत्र सीताराम गांव पुलवाहल, रविंद्र कुमार पुत्र प्रभुदयाल गांव पालमपुर (बस का परिचालक), बाबूराम पुत्र जीत सिंह गांव सिरमौर, वीना देवी पत्नी सुभाष गांव धारतरपन्नू, पलक पुत्री वीरेंद्र गांव चनैहर, कशिश पुत्री वीरेंद्र गांव चनैहर, राकेश चौहान पुत्र अनंतराम गांव धारतरपुन्नू, उषा पत्नी राजेंद्र गांव टाली, श्रुति पुत्री राजेंद्र गांव टाली, शारदा पत्नी राकेश गांव टाली, वैशाली पुत्री राजेंद्र गांव टाली, सिमरन  पुत्री राजेंद्र गांव टाली, रीना पत्नी बालकराम गांव टाली, विमला पत्नी हरि सिंह गांव चनैहर, ईश्वरी देवी पुत्री जगदीश गांव जोट, दीक्षा पत्नी खूबराम चौंतड़ा जिला मंडी, खूबराम पुत्र बहादुर सिंह गांव चौंतड़ा मंडी, रुबल पुत्री खूब राम मंडी, तनुजा पुत्री रमेश गांव मिहाणा, मोही राम पुत्र  सुबाराम गांव मिहाणा, सत्या देवी पत्नी मोहीराम गांव मिहाणा, राहुल पुत्र राजीव गांव मिहाणा, हार्दिक पुत्र राजीव गांव मिहाणा, राजेंद्र पुत्र ग्यारू राम गांव कोटी, माधी देवी पत्नी माठूराम गांव चियोग, बेंगी देवी पत्नी राजेंद्र सिंह गांव कोटी जैस, सत्या देवी पत्नी मोहीराम गांव मिहाणा, बलदेव पुत्र कृष्णलाल गांव बिलासपुर, सुरेंद्र पुत्र मनीराम गांव चनैहर, प्रमोद पुत्र राम सिंह गांव धारतरपुन्नू,चुनी लाल  पुत्र कलीराम गांव जनाहन, अंकुश पुत्र नारायण सिंह गांव जनाहन शामिल हैं।

July 30th, 2014

 
 

नेरवा में करोड़ों की संपत्ति गर्क, हर ओर तबाही

नेरवा में करोड़ों की संपत्ति गर्क, हर ओर तबाहीनेरवा— रविवार को हुई भारी बारिश व बादल फटने से ग्राम पंचायत थरोच, मधाना व मुंडली में निजी संपत्ति के साथ-साथ सरकारी संपत्ति को भी करोड़ों रुपए का नुकसान हुआ है। जगह-जगह बिजली के खंभे टूटने व लाइनों के क्षतिग्रस्त होने से इन पंचायतों के दर्जनों गांव अंधेरे में डूबे हैं। पाइप लाइनों, भंडारण टैंकों और सोर्स टैंकों के क्षतिग्रस्त होने से कई गांवों में पेयजल संकट गहरा गया है। सड़क टूटने से किसानों-बागबानों को अपने उत्पाद मंडियों तक पहुंचाने […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

बागबानी विभाग की झोली में पौने 25 लाख

रामपुर बुशहर— सेब सीजन शुरू होने में फिलहाल कुछ समय और है, लेकिन बागबानी विभाग रामपुर को सेब से 24 लाख 85 हजार की आमदनी हो चुकी है। विभाग को यह कमाई रामपुर खंड में तीन सेब के बागीचों की निलामी से प्राप्त हुई है। गौरतलब है कि रामपुर में बागबानी विभाग के पास सेब के तीन बागीचे हैं, जिसकी देखरेख व उन बागीचों में लगे सेबों की नीलामी की पूरी जिम्मेदारी भी बागबानी विभाग रामपुर की है। विभाग से […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

सरकार को गुमराह कर रहा शिक्षा विभाग

रामपुर बुशहर— पीटीए प्राध्यापक एवं अध्यापक संघ जिला शिमला ने शिक्षा विभाग की कार्य प्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगाया है। संघ के जिला शिमला के अध्यक्ष बोविल ठाकुर, जिला प्रभारी जय लाल जलपाईक, मुख्य सलाहकार सतीश चौहान, वीरेंद्र नेगी और दलीप ठाकुर, वरिष्ठ उपाध्यक्ष कुलदीप कंवर, सनील रणाईक, उपाध्यक्ष केसर ठाकुर, सैन चौहान, सुभाष खिमटा, महासचिव चंद्रमोहन मंगलेट, सह सचिव रविंद्र हाशमी, सोम प्रकाश, कोषाध्यक्ष शीला खाची, प्रेस सचिव हेमराज खाची, सुदर्शन शर्मा और जिला शिमला के सभी ब्लॉक अध्यक्षों व […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

रामपुर की इंदिरा मार्केट खतरे में

 रामपुर बुशहर॒— रामपुर में बारिश का कहर लगातार जारी है, अब यहां पर स्थित इंदिरा मार्केट भू-स्खलन के कारण खतरे की जद में चली गई है। मंगलवार तड़के इंदिरा मार्केट के निचले हिस्से में भू-स्खलन हो गया, जिससे इस मार्केट में दो दर्जन के करीब दुकानदारों की रोजी रोटी पर भी संकट खड़ा हो गया है। जैसे ही भू-स्खलन की सूचना नगर परिषद को मिली। प्रबंधन ने तुरंत अधिकारियों को भेजकर मौके का जायजा किया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक इंदिरा […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

50 लाख बहा गई बारिश

रामपुर बुशहर— निरमंड खंड की डीम पंचायत में सोमवार को बादल फटने से पेयजल योजनाएं भी खासी प्रभावित हुई हैं। डीम व बागीपुल सड़क के क्षतिग्रस्त होने से जहां मंगलवार को भी वाहनों की आवाजाही बंद रही, वहीं कई पंचायतों में पेयजल आपूर्ति पूरी तरह से ठप रही। आईपीएच विभाग के अनुसार इस प्राकृतिक आपदा ने उन्हें 50 लाख का नुकसान हुआ है। बादल फटने के कारण कूर्पण कूहल और निरमंड अवेरी पेयजल योजनाओं व अन्य छोटी पेयजल योजनाओं को […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

एक बस में ठूंस दी दो की सवारियां

ठियोग— 14 नवंबर, 2013 को ठियोग में आयोजित एक कार्यक्रम में परिवहन मंत्री जीएस बाली ने ठियोग में बसों की कमी को देखते हुए अतिरिक्त बसों को देने की घोषणा की थी, जिससे कि ठियोग में चल रही पुरानी खटारा बसों से लोगों को निजात मिलनी थी। ठियोग खेपन कार्यालय के तहत चलने वाली 11 बसों में से अधिकतर ऐसी हैं जो कभी भी धोखा दे जाती हैं और कई बार इन बसों के कारण कई बड़ी दुर्घटनाएं भी घट […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

छोटा पड़ा आईजीएमसी का एमर्जेंसी वार्ड

शिमला — आईजीएमसी अस्पताल में ठियोग बस हादसे के घायलों का उपचार कर रहे डाक्टरों को जैसे ही बसंतपुर के निकट कडारघाट बस हादसे की सूचना मिली तो आईजीएमसी के आपातकालीन वार्ड में अफरा-तफरी मच गई, घायलों के लिए ट्रालियां खाली की गईं और ठियोग बस हादसे के घायलों को आपातकालीन वार्ड से ग्रीन हाउस में शिफ्ट किया गया। जिसको लेकर घायलों के परिजनों में भारी रोष था, उनका आरोप था कि आईजीएमसी अस्पताल प्रदेश का सबसे बड़ा यहां है, […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

राजधानी में बारिश बरपा रही कहर

शिमला — शिमला में मूसलाधार बारिश कहर बरपा रही है। शहर में भारी बारिश के कारण बूढ़े दरख्तों व भू-स्खलन ने लोगों की नींद उड़ा दी है। लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से शहर के लोग सहमे हुए हैं। लोगों में अनहोनी घटना का भय बढ़ता जा रहा है। शहर में भारी बारिश से मंगलवार को एक दर्जन पेड़ गिरने सहित डंगे व भू-स्खलन से छह मकानों पर गिरने का खतरा मंडरा रहा है। इसके अलावा भी शहर में भारी […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 

राजधानी की पांच मस्जिदों में अता की नमाज

शिमला— राजधानी  में मंगलवार को ईद-उल-फि तर का त्योहार बड़ी धूमधाम से मनाया गया। शहर की जामा मस्जिद, ईदगाह लक्कड़ बाजार, कुतुब मस्जिद बालूगंज, छोटा शिमला मस्जिद, संजौली मस्जिद में हजारों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने ईद की नमाज अता की। लोग सुबह ही ईद की नमाज अता करने के लिए ईदगाहों मे इकट्ठे हुए। इस मौके पर लोगों ने खास तौर पर देश और प्रदेश की खुशहाली, अमन, शांति की दुआएं भी मांगीं। लोगों ने नमाज […] विस्तृत....

July 30th, 2014

 
Page 1 of 212

पोल

क्या कृषि विशेषज्ञ हिमाचल में किसानों की मदद कर रहे हैं?

View Results

Loading ... Loading ...