शिमला


विधानसभा में गूंजेगा मुद्दा

शिमला ठियोग-हाटकोटी-रोहडू सड़क को लेकर चल रही राजनीति के बीच शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री एवं विपक्ष के नेता प्रेम कुमार धूमल सड़क की वर्तमान स्थिति को देखने मौके पर पहुंचे। उन्होंने सड़की खस्ता हालत पर चिंता जताई और ऐलान किया कि भाजपा इस मुद्दे को विधानसभा के शीतकालीन सत्र में उठाएगी। सदन के अंदर और बाहर इस मामले पर सरकार को घेरा जाएगा और दबाव बनाएंगे कि सड़क का काम तेजी से हो। स्थानीय लोगों ने धूमल को बताया कि ठियोग-हाटकोटी-रोहडू सड़क की हालत पिछले दो साल में इतनी दयनीय हो गई है कि लोगों को कई बीमारियों ने घेर लिया है और उनके बगीचे नष्ट होने की कगार पर पहुंच चुके हैं। स्थानीय लोगों ने कहा कि हमने कई बार सरकार, प्रशासन व सड़क का काम कर रही कंपनी के अधिकारियों को भी लिखित व मौखिक रूप से शिकायत की, लेकिन उन्होंने भी कोई कदम नहीं उठाया। ठियोग-हाटकोटी-रोहडू सड़क के साथ रहने वाले स्थानीय लोगों डा. जयराम, संजय सूद, ग्राम पंचायत बरवाल की प्रधान निशा चौहान और सैकड़ों की संख्या में स्थानीय लोगों ने छैला, गुम्मा, अणु में जगह-जगह गाड़ी रोक कर प्रो. प्रेम कुमार धूमल को सड़क की दयनीय हालत की जानकारी दी।

नरेंद्र बरागटा ने जगाई सरकार

प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने पूर्व बागबानी मंत्री नरेंद्र बरागटा और ठियोग-हाटकोटी-रोहडू सड़क से प्रभावित जनता की तारीफ  करते हुए कहा कि उन्होंने इतनी निष्ठुर हो चुकी वर्तमान प्रदेश कांग्रेस सरकार को जगाने के लिए रोहडू से शिमला तक सड़क संघर्ष पदयात्रा की, ताकि वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में जो कांग्रेस सरकार गहरी कुंभकर्णी नींद में सोई है, उसको जगाने का सराहनीय प्रयास किया है।

नहीं सोचा था, इतना होगा बुरा हाल

इस पर प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने यहां कहा कि ठियोग-हाटकोटी-रोहडू सड़क की दयनीय स्थिति के बारे में उन्हें पता था, लेकिन इस सड़क की हालत इतनी खराब होगी कि यहां के लोग इस सड़क के कारण इतनी कठिनाई से गुजर रहे हैं, इस बात का अनुमान नहीं था। उन्होंने कहा कि वर्तमान वीरभद्र सिंह सरकार इस सड़क की ओर बिलकुल भी ध्यान नहीं दे रही है।

अपने वादों से मुकरी कांग्रेस

श्री धूमल ने कहा कि हमने अभी तक के समय में इससे लाचार और निकम्मी सरकार नहीं देखी, जो कि जनता से किए वादों से मुकर कर सत्ता सुख भोग रही है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2007 से पहले भी कांग्रेस सरकार ने इस सड़क का काम बिना औपचारिकताएं पूरी किए शुरू कर दिया था। उन्होनें न ही वन विभाग और न ही प्रदूषण बोर्ड से एनओसी ली और न ही स्थानीय लोगों की जमीनों का मुआवजा दिया।

सालों से नहीं खोलीं घरों की खिड़कियां

यहां की स्थानीय जनता ने इस सड़क के कारण सड़क के दोनों तरफ  500 मीटर की दूरी तक वर्षों से अपने घरों की खिड़कियां तक नहीं खोली हैं। लोगों की फसलें, बगीचे और दुकानदारों की दुकानदारी खत्म हो गई है।

November 23rd, 2014

 
 

शिमला स्कूल में चोरी, टेबल गायब

रामपुर बुशहर — भगवान के मंदिरों के बाद अब शिक्षा के मंदिर चोरों के निशाने पर हैं। इस बार चोरों ने शिंगला पंचायत में स्थित प्राइमरी स्कूल को निशाना बनाया। यहां पर चोरों ने स्टोर का ताला तोड़कर भीतर रखा लोहे का सामान चोरी कर दिया, जिसमें एक लोहे का टेबल शामिल है। इसके अलावा लोहे का छोटा सामान भी गायब है। चोरों ने इस स्टोर के सारे सामान पर हाथ साफ करने की तैयारी की थी, लेकिन वे सफल […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

तारादेवी से देवदार के 7 पेड़ गायब

शिमला — तारादेवी में एक निजी भूमि पर पेड़ कटान के मामले में शनिवार को भी पुलिस व वन विभाग की जांच जारी रही। वन विभाग यहां काटे गए पेड़ों की लकड़ी तलाश कर रहा है। वन विभाग को यहां पर देवदार के सात पेड़ों की तलाश है, जो कि गायब हो चुके हैं। यहां केवल उनके ठूंठ मिले हैं। इसके लिए वन कर्मियों ने आसपास के जंगलों में भी सर्च ऑपरेशन किया, लेकिन लकड़ी नहीं मिल पाई। उधर पुलिस […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

कोई भी नहीं देगा फीस

शिमला  — एनएसयूआई यूनिट संजौली ने आम छात्रों के साथ मिलकर एचपीयू डिवेलपमेंट फंड के रूप में बढ़ी अतिरिक्त फीस का विरोध किया तथा काउंटर बंद कर सभी को फीस न देने का आह्वान किया। एनएसयूआई यूनिट ने आम छात्रों संग मिलकर पहले ही मुख्यमंत्री प्राचार्य व वीसी एचपीयू को ज्ञापन सौंपा है। एनएसयूआई कैंपस-दो आम छात्रों का कहना है कि हम पहले ही कालेज डिवेलपमेंट फंड, पीटीए फंड अनेक तरह के फंड छात्र अदा कर रहे हैं, लेकिन अब […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

राजधानी में ही क्यों बढ़ी महंगाई

शिमला — जिला प्रशासन द्वारा खाद्य वस्तुओं के दामों में की गई वृद्धि के खिलाफ शिमला युवा सामाजिक एवं सांस्कृतिक संगठन का विरोध जारी है। जिला प्रशासन ने संस्था और लोगों के रोष को भांपते हुए दामों में जो कमी की है वो नाममात्र की है। ऐसे में संगठन ने अपना आंदोलन जारी रखने का फैसला किया है। इसी कड़ी में संस्था द्वारा शनिवार को उपायुक्त कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन किया गया। संगठन के कार्यकर्ताओं ने डीसी शिमला के खिलाफ […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

संघर्ष में डीवाईएफआई की एंट्री

शिमला — भारत की जनवादी नौजवान सभा (डीवाईएफआई) ने समरहिल में धारा-144 की अवधि को बढ़ाए जाने को शर्मनाक बताया है। डीवाईएफआई शिमला शहर के सह सचिव अशोक ठाकुर और उपाध्यक्ष टेकचंद ने उपायुक्त शिमला के इस फैसले को जनता और छात्र विरोधी बताया है।  उन्होंने कहा कि एक तरफ जहां विश्वविद्यालय में प्रशासन द्वारा सरकार के इशारों पर फीसों में भारी वृद्धि की गई है । वहीं छात्रों की आवाज को दबाने के लिए दमनकारी नीतियों का सहारा लिया […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

एपी गोयल यूनिवर्सिटी में इंटर्नशिप पर सेमिनार

शिमला — बेहतर शिक्षा व छात्रों को वैश्विक परिदृश्य से अवगत करने के लिए एपी गोयल शिमला विश्वविद्यिलय (एपीजीएसयू) में शनिवार को इंटरनेशनल इंटर्नशिप कार्यक्रम पर संगोष्ठी आयोजित की गईर्। इसका मुख्य उद्देश्य इंजीनियरिंग व प्रबंधन के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय कार्य संस्कृति को समझने व छात्रों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्य करने के लिए तैयार करना था। संगोष्ठी का आयोजन ऑरबिट ट्रेवल्स के शैक्षिक प्रभाग मोक्ष द्वारा किया गया। मोक्ष बीएचएस, बीबीए व इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष के छात्रों के […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

टैक्सी मामले पर सुनवाई कल

शिमला — शिमला शहर के कुछ विशेष मार्गों पर टैक्सी सेवा के संचालन को लेकर सोमवार को हाई कोर्ट में सुनवाई होगी। हाई कोर्ट ने सरकार से अपना पक्ष रखने के लिए कहा है, साथ ही  कई अधिकारियों को तलब किया है। सोमवार को एक साथ प्रदेश सरकार के आठ अलग-अलग अधिकारी हाई कोर्ट में पेश होंगे। शनिवार को इस संबंध में एडवोकेट जनरल से चर्चा की गई। उन्हें बताया गया कि सरकार की तरफ से कौन-कौन पेश होगा। सरकार […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

महिमा-कर्मचंद बेस्ट स्टूडेंट्स

शिमला — शिमला ग्रामीण के अंतर्गत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, भौंट में शनिवार को वार्षिक समारोह का आयोजन किया गया। इस मौके पर, स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अशोक ठाकुर बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हुए। मुख्यातिथि ने इस अवसर पर शिक्षण, खेलकूद तथा सांस्कृतिक गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले स्कूली छात्र-छात्राओं को पुरस्कार भी वितरित किए। पुरस्कार प्राप्त करने वालों में छठी कक्षा की भावना, तृप्ति तथा करण, सातवीं कक्षा के अंकुश, शिखा और नेहा, आठवीं कक्षा के अभिशेख, राहुल, […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 

पद्यात्रा पर निकले धर्मगुरु

रामपुर बुशहर — तमाम सामाजिक मोह माया को छोड़कर 30 वर्षों तक गुफाओं और कंदरारों में रहने वाले बौद्ध धर्मगुरु गोविंद लामा पद यात्रा पर निकल पड़े हैं। अब यह यात्रा कहां तक होगी, इस बारे में फिलहाल कोई नहीं जानता, लेकिन इस यात्रा पर धर्मगुरुसे आशीर्वाद पाने के लिए सैकड़ों लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। शनिवार को धर्मगुरु रामपुर पहुंचे। जहां पर जगह-जगह पर लोगों ने उनका स्वागत किया और उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया। धर्मगुरु ने खुद तो […] विस्तृत....

November 23rd, 2014

 
Page 1 of 212

पोल

क्या सरदार वल्लभ भाई पटेल को याद करने में भी राजनीति हो रही है?

View Results

Loading ... Loading ...