भगवान शिव एवं नारायण का प्रेम

गतांक से आगे... धन्य है वे आंखें, जिन्होंने उस अद्भुत छटा का निरीक्षण किया । दैवयोग से नारदजी उधर आ निकले। वह इस अलौकिक दृश्य को देखकर मस्त हो गए और लगे बीणा के स्वर के साथ गाने। भगवान शिव उनके सुमधुर संगीत को सुनकर, खेल छोड़कर जल से बाहर…

जो पीछे नहीं लौटा

अपने युग के प्रख्यात जेन गुरु गुडो एक घुमंतू भिक्षुक का जीवन जिया करते थे। एक यात्रा के दौरान उन्हें एक गांव में रुकना पड़ा। हुआ यह कि तेज बारिश और कीचड़ से भरे रास्तों पर चलते-चलते उनकी पुआल से बनी पगरखी लीर-झीर हो गई। एक जगह ऐसी ही…

‌स्ट्रेस ऐसे डालता है बॉडी पर असर

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर जगह तनाव है, यह एक ऐसा शब्द है जिसे आप हर दिन अपने आसपास रहने वाले लोगों में से किसी न किसी से सुन ही लेते हैं। दुनिया की 80 प्रतिशत आबादी ने दैनिक आधार पर तनाव का अनुभव किया है। 15 से 25 साल की उम्र के कई…

चंद्रमा की सोलह कलाओं का पूजन करें

तत्पश्चात जल में ‘आनंद भैरवाय वौषट्’ मंत्र से भैरव का तथा ‘स्हर्क्ष्म्ल्व्लूं सुधा देव्यै वौष्ट्’ मंत्र से सुधा देवी के पूजन की क्रिया करें। तदनंतर मत्स्य, अस्त्र, कवच तथा धेनु मुद्राएं प्रदर्शित कर सन्निरोधिनी मुद्रा से सन्निरोधन कर मुसल,…

आत्मा के रूप में

स्वामी विवेकानंद गतांक से आगे... किसी व्यक्ति ने कभी भी किसी वस्तु से प्यार आत्मा को छोड़ अन्य किसी वस्तु के कारण नहीं किया है। यहां तक कि इतनी निदिंत स्वार्थी वृत्ति भी उसी प्यार की अभिव्यक्ति है। इस खेल से जरा हटकर खड़े रहो, उसमें भाग न…

दादी मां के नुस्‍खे

*           नींबू के नियमित उपयोग से दांतों की सफेदी बरकरार रहती है। *           हर दिन सुबह गुनगुने गर्म पानी में नींबू का रस और शहद मिलाकर पीने से शरीर का वजन नियंत्रित रहता है। *           गर्म पानी में नींबू डालकर धीरे-धीरे पीने…

आत्म पुराण

इस बात को समझकर मैं ब्रह्मचर्य आश्रम में ही सब प्रकार की आसक्तियों को त्याग चुका था, उस समय स्वर्ग की अप्सराओं के अपूर्व सौंदर्य और काम कला के समस्त उपायों से भी विचलित नहीं हुआ था। पर तत्पश्चात सूर्य भगवान के आदेश से मुझे गृहस्थ का बंधन…

अहंकार का अर्थ

ओशो सहजयोग का अर्थ है प्राकृतिक, स्वाभाविक. जो सबके लिए सहज हो। सुनने में लगता है कि बड़ा आसान है, लेकिन यह सबसे कठिन है। सहज का अर्थ है हम वास्तव में जो हैं, वही बाहर भी दिखें, लेकिन हर मनुष्य जो है, उससे विपरीत दिखने की चेष्टा करता है।…

अनसुलझे सवाल : भारतीय जनता की संरचना

हाल ही में किए गए नवीनतम आनुवंशिक अध्ययनों में भारतीय जनसंख्या से वृहद नमूनों को लेकर और विश्लेषण के परिष्कृत तरीकों द्वारा यह सिद्ध किया गया है कि द्रविड़ वास्तव में उन आदि लोगों के वंशज हैं जो अफ्रीका से 70-80 हजार वर्ष पूर्व दक्षिण भारत…

द्वापर की इस घटना में छिपे हैं कई रहस्य

ब्रह्मलोक पहुंच कर उन्होंने ब्रह्माजी का अभिवादन किया तथा उनसे अपनी व्यथा कही। ब्रह्मा जी मुस्कुराए और कहा कि हे पृथ्वीपति, आप भूलोक वापस जाएं। वहां पर श्रीकृष्ण के बड़े भ्राता बलराम ही आपकी पुत्री रेवती के भावी पति बनेंगे... पौराणिक…

अनमोल वचन

* मनुष्य के तीन सद्गुण हैं : आशा, विश्वास और दान * क्रोध मूर्खता से प्रारंभ होता है  और पश्चाताप पर खत्म होता है * नम्रता से देवता भी मनुष्य के वश में हो जाते हैं * धीरज के सामने भयंकर संकट भी धुएं के बादलों की तरह उड़ जाते हैं *…

मानसून में बच्चों के देखभाल

बरसात के मौसम में स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है, क्योंकि इस मौसम में बीमारियां अधिक होती हैं। बड़े लोग तो मौसम के इस बदलाव को समझ लेते हैं, लेकिन बच्चों को यह बात समझाना बहुत मुश्किल होता है.... मानसून का मौसम बहुत ही…

खतरनाक है आनलाइन गेम्स

ई गेम्स व एप्स ऐसे हैं, जिनका जादू समय-समय पर बच्चों के सिर पर चढ़कर बोलता रहता है। किसी भी चीज की लत तब होती है, जब उसका जरूरत से अधिक इस्तेमाल होने लगे और जब उसके बिना जिंदगी में कुछ अधूरा सा लगने लगे। सुबह उठने से लेकर रात में सोने तक…

बारिश में बरतें सावधानियां

बरसात के मौसम की जहां अपनी खूबियां हैं, वहीं इस मौसम में लापरवाही बरतने पर स्वास्थ्य संबंधी कुछ समस्याएं भी उत्पन्न हो जाती हैं। आइए जानते हैं, इन समस्याओं से कैसे बचा जाए और इनका इलाज क्या है। बरसात के मौसम में उमस और मौसम में अचानक…

किसने  दिया राधा रानी को श्राप

संसार में जब भी प्यार का नाम लिया जाता है भगवान श्रीकृष्ण और राधा का नाम सबसे पहले आता है, बल्कि प्रेम की इस पराकाष्ठा का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि राधा का नाम श्रीकृष्ण से पहले लिया जाता है। इसके अलावा श्रीकृष्ण की 16108…