himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

रूठे बादल तड़पती धरा

हिमाचल प्रदेश सूखे की कगार पर है। राज्य में बारिश 49 फीसदी कम हुई है। प्रदेश के खेत-खलिहान जहां सूखे की चपेट में हैं, जिससे आने वाले समय में लोगों के हलक सूखने की नौबत आ सकती है। जल्दी ही मौसम ने करवट नहीं ली और बर्फबारी के साथ झमाझम बारिश…

तपोवन में सरकार

धौलाधार की तलहटी में स्थित धर्मशाला के तपोवन विधानसभा में विधायकों के शपथ ग्रहण समारोह को देखने के लिए तीन विधायकों के परिजन भी सदन में पहुंचे थे। इन तीनों विधायकों ने पहली बार विधानसभा सदस्य के तौर पर शपथ ग्रहण की। इसमें यह भी रोचक था कि…

चुनौतियों का पहाड़

पहाड़ी राज्य की नई सरकार के लिए चुनौतियां भी किसी पहाड़ से कम नहीं। प्रदेश के विभिन्न विभागों में खाली पद व आर्थिक तंगी सरकार का कड़ा इम्तिहान लेगी। नई सरकार की चुनौतियों व मंत्रियों का विजन प्रस्तुत करता इस बार का दखल... हिमाचल में नई…

सियासी मंडी में सत्ता

छोटी काशी का सियासी कद कितना बड़ा है, इसका एहसास मंडी ने हिमाचल प्रदेश के गठन के बाद पहली विधानसभा में ही करवा दिया था, लेकिन मंडी जिला के सियासी कद को उसका असली मुकाम अब मिला है। लगभग सात दशक पहले स्वर्गीय पंडित गौरी प्रसाद से शुरू हुई…

नई सरकार : आसां नहीं डगर

जयराम ठाकुर हिमाचल प्रदेश के नए मुख्यमंत्री होंगे। वह उस भाजपा का प्रतिनिधित्व करेंगे, जिसे प्रदेश की जनता ने प्रचंड बहुमत दिया है। जाहिर है, उनसे अपेक्षाएं भी अधिक होंगी। बेशक, जयराम ठाकुर को अपनी कार्यकुशलता उन समस्याओं को हल कर दिखानी…

नई सरकार की चुनौतियां

अपना प्रदेश विकास की राह पर सबसे आगे हो, इसी को ध्यान में रखते हुए लोगों ने एक बार फिर मनपसंद सरकार का चुनाव किया है। लोगों को आस है कि नई सरकार वह सब  करेगी जो विकास के नए आयाम छूने को जरूरी होगा। इस विश्वास को कायम रखने के लिए प्रदेश…

पानी तेरी बिगड़ी कहानी

हिमाचल की कठिन भौगोलिक परिस्थतियों में हर घर तक साफ पानी पहुंचाना आईपीएच  डिपार्टमेंट के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। फिर भी विभाग अपने काम को अंजाम दे रहा है। हां इतना जरूर है कि प्रदेश में दूषित पानी के मामले भी अकसर सामने आते रहते हैं।…

सेहत को सताता सच

आईजीएससी और टीएमसी सरीखे अस्पतालों वाले हिमाचल में भले ही अब एम्स का सपना सच हो रहा हो, लेकिन खुद स्वास्थ्य सेवाएं वेंटिलेटर पर हैं। इस साल स्क्रब टायफस-स्वाइन फ्लू और डेंगू के कहर ने स्वास्थ्य सेवाओं को आईना दिखाया है। डाक्टर्ज के ही 700…

पंक्चर परिवहन

* 6960 कुल बसें * 3700 प्राइवेट * 3260 सरकारी * 3137 ऑर्डिनरी * 52 वोल्वो  * 63 डीलक्स नॉन एसी * 03 सुपर डीलक्स * 05 एसी डीलक्स * 50 इलेक्ट्रिक टैक्सी * 1100 रूट घाटे में सूत्रधार : टेकचंद वर्मा भुगतान को तरसते पेंशनर और 150 निजी रूट ठप।…

रूसा रहे या जाए

हिमाचल में शिक्षा का स्तर बेहतर करने के उद्देश्य से रूसा अपनाया गया,पर छात्रों ने इसका विरोध किया। इसी के मद्देनजर युवाओं का समर्थन हासिल करने के लिए भाजपा ने इस प्रणाली को बंद करने का वादा किया है, तो कांग्रेस दोबारा से समीक्षा को तैयार…

मेरा वोट मेरी सरकार

यह विकास की लहर है या बदलाव की बयार, चुनाव आयोग का कारनामा है या हिमाचल की जागरूकता। नतीजे 18 दिसंबर को हैं, मगर चुप रह कर 74 फीसदी मतदान करने वाले प्रदेश ने नेताओं की नींद उड़ा दी है।  मतदान के हर रंग को पेश कर रहे हैं...       सुनील शर्मा…

हाँ में फौजी हूँ

सरहदें किसी भी देश की परिभाषा होती हैं, बिना सरहदों का भला देश कैसा। सैनिक रातों को जागता है तभी पूरा देश चैन की नींद सो पाता है। इनकी अहमियत सरहदों मात्र पर ही नहीं,बल्कि ये सैनिक और उनके परिवार चुनावों में भी अहम भूमिका निभाते हैं। देश के…

हां . . . में शिक्षक हूं

चुनाव के मुहाने पर खड़े हिमाचल में शिक्षक एक बार फिर अहम भूमिका निभाने जा रहे हैं। प्रदेश में कर्मचारी वर्ग एक बड़ा वोट बैंक माना जाता है और हजारों गवर्नमेंट टीचर उसका महत्त्वपूर्र्ण घटक हैं। शिक्षकों के चुनाव से क्या हैं सरोकार, बता रही…

हां… मैं कर्मचारी हूं

सरकार बनाने या गिराने में अहम भूमिका निभाने वाले हिमाचल प्रदेश के करीब पांच लाख मुलाजिम राज्य के विकास का रथ हांक रहे हैं। यही वह वर्ग है, जिसके दम पर सियासी दल सत्ता की नींव रखते हैं। कर्मचारियों के योगदान को बता रहे हैं... शकील कुरैशी…

हां … मै महाजन हूं

राजाओं के फाइनांसर पहाड़ी राज्य के नाम से विख्यात हिमाचल प्रदेश के विकास में महाजन समुदाय का अहम योगदान है। इस समुदाय की भागीदारी से हिमाचल तरक्की के लंबे डग भर रहा है। महाजन समुदाय की उपलब्धियां बता रहे हैं  अमन अग्निहोत्री... रियासत काल…
?>