प्रादेशिक समाचार


पुरस्कृत शिक्षकों को सेवा विस्तार

NEWSशिमला— हिमाचल सरकार ने शिक्षक दिवस पर में अध्यापकों को उपहार देते हुए राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त अध्यापकों को वेतनवृद्धि सहित दो वर्ष के सेवा विस्तार का निर्णय लिया है। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की अध्यक्षता में शुक्रवार को आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में इस संदर्भ में निर्णय लिया गया। हालांकि अब 60 हजार रुपए का नकद पुरस्कार नहीं दिया जाएगा। इसी प्रकार राज्य स्तरीय पुरस्कार विजेता अध्यापकों को अगले वित्त वर्ष से पूर्व में दिए जाने वाले 40 हजार रुपए के स्थान पर अब एक वर्ष का सेवा विस्तार दिया जाएगा। मंत्रिमंडल ने प्रदेश में जिला परिषद कैडर के 49 अनुबंध कनिष्ठ अभियंताओं को भी नियमित करने का निर्णय लिया है। बैठक में चंबा जिला की भरमौर तहसील की कुटैहर जल विद्युत परियोजना (240 मेगावाट) के लिए कुटेहर में पीएसओडी के आधार पर नौ पुलिस जवानों की पुलिस चौकी खोलने को मंजूरी प्रदान की। मंत्रिमंडल ने शिमला जिला के कुसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र के मशोबरा में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने का भी निर्णय लिया। बैठक में ऊना जिला की घनारी में तहसील खोलने को भी मंजूरी दी गई, जिसकी घोषणा मुख्यमंत्री ने जनवरी, 2015 को अपने ऊना जिला के प्रवास के दौरान की थी। बैठक में कांगड़ा जिले के ज्वाली को नगर पंचायत का दर्जा प्रदान करने की स्वीकृति दी गई। मंत्रिमंडल ने हिमाचल प्रदेश प्रशासनिक ट्रिब्यूनल के कर्मचारियों को सचिवालय की तर्ज पर वेतन दिए जाने को स्वीकृति प्रदान की। बैठक में ऊना जिला के राजकीय महाविद्यालय दौलतपुर चौक का अधिग्रहण करने का फैसला लिया। बैठक में निर्णय लिया गया कि 480-480 मेगावाट जंगी थोपन और जंगी पोवारी परियोजनाओं के लिए मै. अदानी पावर लिमिटेड को अपफ्रंट प्रीमियम वापस दिया जाएगा। मंत्रिमंडल ने अपने पास उपलब्ध विद्युत को रामपुर जल विद्युत स्टेशन में इक्विटी सहभागिता पर विक्रय करने का निर्णय लिया है। मंत्रिमंडल ने प्रदेश में बूट आधार और न्यूनतम थ्रैशहोल्ड राशि के ओवर और अधिकतम अपफ्रंट प्रीमियम के कोटिंग आधार पर तथा बोली दस्तावेजों के लिए नियम एवं शर्तों में उदारता बरतते हुए 1131.2 मेगावाट की क्षमता की 37 जल विद्युत परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए वैश्विक बोलियां आमंत्रित करने का निर्णय लिया है। अपफ्रंट प्रीमियम की राशि 20 लाख से घटाकर एक लाख करने का निर्णय लिया है। मंत्रिमंडल ने ऊना जिला की ग्राम पंचायत नंगल जरियाल और कांगड़ा जिले के गांव गडि़यारा में नए स्वास्थ्य उप-केंद्र खोलने की स्वीकृति प्रदान की। मंत्रिमंडल ने वाहनों के ‘फैंसी’ अथवा ‘वैनिटी’ पंजीकृत नंबरों से संबंधित हिमाचल प्रदेश मोटर वाहन अधिनियम 1999 के नियम 69-बी के संशोधन को स्वीकृति प्रदान की। 0001 से 0010 तक के वाहन नंबरों को केवल सरकारी वाहनों के लिए आरक्षित करने का निर्णय लिया। इसके अतिरिक्त, अन्य नंबरों को ‘पहले आओ पहले पाओ’ के आधार पर दिया जाएगा। मंत्रिमंडल ने हिमाचल प्रदेश वैट अधिनियम, 2005 तथा केंद्रीय बिक्री कर अधिनियम, 1956 के अंतर्गत टैक्स की ई-पेमेंट को अनिवार्य करने को स्वीकृति प्रदान की है। यह निर्णय प्रथम अक्तूबर, 2016 से प्रभावी होगा। सभी डीलर अधिनियम के अंतर्गत कर की अदायगी इलेक्ट्रॉनिकली करेंगे। हिमाचल प्रदेश वैट अधिनियम 2005 के अंतर्गत बैंक गारंटी के विरुद्ध पूर्व आकलन रिफंड के लिए प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की, ताकि रिफंड के वितरण में किसी प्रकार का विलंब न हो। बैठक में ज्वालाजी, पालमपुर और दून विधानसभा क्षेत्रों में नए विकास खंड सृजित करने का निर्णय लिया गया। इसके अतिरिक्त पंचायतों के पुनर्गठन और हस्तांतरण का निर्णय लिया गया। इसके अतिरिक्त पंचायतों के पुनर्गठन और हस्तांतरण का निर्णय लिया गया। चंबा जिला की सलूणी खंड की पांच पंचायतों में से तीन पंचायतें आयल, बांतर और ची को तीसा विकास खंड में तथा झंडूता विकास खंड की नौ पंचायतें फटोह, बकरोआ, औहर, अमरपुर, कोटला, पपलोह, ब्राह्मणा, छत्त, कपाहड़ा और करलोटी को विकास खंड घुमारवीं में शामिल करने का निर्णय लिया गया। बैठक में निर्णय लिया गया कि नगरोटा बगवां की तीन पंचायतों बाला जदरांगल, पद्दर और तंगरोटी को धर्मशाला विकास खंड, इंदौरा खंड की तीन पंचायतों बरांदा, कंडवाल व रित को नूरपुर विकास खंड जबकि नूरपुर विकास खंड की 13 पंचायतों बतराहं, गोलबा, चतर-जोगिया, चतर, हटपंग, पारना, खेहर, रेहन, मिल्लाह, लाहरूं, कनौर, टालरा, पजाहरा को फतेहपुर विकास खंड में, मंडी विकास खंड की तीन पंचायतों कोठी-गेहरी, दूसरा खाबू और सरधवार को बल्ह विकास खंड में शामिल करने का निर्णय लिया है। इसके साथ बल्ह विकास खंड की चार पंचायतों जनेद, मराथु, नतनेड़ और सैण को मंडी विकास खंड, मंडी जिला के धर्मपुर विकास खंड की चौक, झलेल, रोपड़ी, प्रसादा-हवाणी पंचायतों को गोपालपुर विकास खंड में, करसोग विकास खंड की छह पंचायतों-प्रेसी, बरोह-रोहांडा, गदोही, निहरी, मरहाड़ा बदेहां व जरल को सुंदरनगर विकास खंड, बसंतपुर की तीन पंचायतों-बलदेयां, नालदेहरा व डुम्मी को मशोबरा विकास खंड तथा नादौन की नारा पंचायत को हमीरपुर विकास खंड में शामिल करने का निर्णय लिया गया है।

September 5th, 2015

 
 

धर्मशाला में खुलेगा अब सीएसडी डिपो

धर्मशाला में खुलेगा अब सीएसडी डिपोधर्मशाला — भारतीय सेना कांगड़ा जिला के मुख्यालय धर्मशाला में सीएसडी डिपो खेलने जा रही है और इसके लिए जमीन मांगी गई है। इतना ही नहीं, आर्मी ने कांगड़ा, मंडी व चंबा जिलों में भूमि संबंधी सभी मसलों को हल करने के लिए भी तीनों जिलों के प्रशासन से बातचीत का दौर शुरू किया है, जिससे लड़ाई या किसी अन्य घटना के समय आवश्यकता अनुसार पूर्व योजना के आधार पर तैयारी की जा सके। सेना पंजाब व जे एंड के […] विस्तृत....

September 5th, 2015

 

हिमाचली सेब कारोबार में बड़ी सेंध

हिमाचली सेब कारोबार में बड़ी सेंधशिमला— सेब सप्लाई के कारोबार में बड़ी सेंध का खुलासा हुआ है। प्रवेश बैरियरों पर प्रति पेटी की दर से होने वाली एंट्री व इससे मिलने वाले राजस्व में बड़े स्तर पर अनियमितताओं की सूचना है। इससे राजस्व को न केवल करोड़ों की चपत लग रही है, बल्कि हिमाचल के कुल उत्पादन के आंकड़ों में भी उल्टफेर हो रहा है। हिमाचल से सेब के जो ट्रक बाहरी मंडियों को जा रहे हैं, उनकी एंट्री प्रवेश बैरियरों पर होती है। ट्रक […] विस्तृत....

September 5th, 2015

 

पीएम ने बच्चों को बताया सफलता का मंत्र

पीएम ने बच्चों को बताया सफलता का मंत्रशिमला— हिमाचल के 15 लाख से अधिक स्कूली छात्रों के बीच शिक्षक दिवस से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे। किसी ने टीवी पर उन्हें सीधे प्रसारण के जरिए देखा तो किसी ने रेडियो पर उनसे सीख ली। हिमाचल में शिक्षा विभाग ने सभी स्कूलों में विशेष इंतजाम करने के लिए निर्देश दे रखे थे, जिसकी अनुपालना को सुनिश्चित बनाने के लिए पूरे प्रयास किए गए। बताया जाता है कि शहरी क्षेत्रों में शत-प्रतिशत स्कूलों में प्रधानमंत्री के लाइव […] विस्तृत....

September 5th, 2015

 

कार्डियोलॉजी पर मेडिसिन का कब्जा

कार्डियोलॉजी पर मेडिसिन का कब्जाटीएमसी — टीएमसी के सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल में इलाज करवाने का सपना प्रशासन ने चकनाचूर कर दिया है। डाक्टरों के अधिकार छीन कर कार्य क्षेत्र को कम किया जा रहा है। सुपरस्पेशियलिटी अस्पताल विस्तृत....

September 5th, 2015

 

श्रद्धा बेमिसाल, मणिमहेश चलो इस साल

श्रद्धा बेमिसाल, मणिमहेश चलो इस सालचंबा —  समुद्र तल से करीब 13500 फुट की ऊंचाई पर स्थित मणिमहेश की कठिन यात्रा का आगाज आधिकारिक तौर पर जन्माष्टमी के छोटे न्हौण के साथ पांच सितंबर से होने जा रहा है। यात्रा का समापन 21 सितंबर को राधाष्टमी के बडे़ न्हौण के साथ होगा। हड़सर से मणिमहेश 13 किलोमीटर का जोखिम भरा पैदल सफर करने के बाद पवित्र डल झील में डुबकी लगाना किसी रोमांच से कम नहीं है। यात्रा के लिए प्रशासन ने तैयारियों को मूर्तरूप […] विस्तृत....

September 5th, 2015

 

मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 लाख दान

मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 लाख दानशिमला- मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह को शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश पूर्व सैनिक निगम हमीरपुर के अध्यक्ष रिटायर्ड मेजर जरनल बिक्रम सिंह कंवर ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 25 लाख रुपए का ड्राफ्ट भेंट किया। मुख्यमंत्री ने इस पुनीत कार्य के लिए उनका आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह धनराशि गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए मद्दगार साबित होगी… विस्तृत....

September 5th, 2015

 

खतरे में हिमाचली वन संपदा

खतरे में हिमाचली वन संपदाशिमला — हिमाचल की शान वन संपदा खतरे में है। प्रदेश में वन माफिया सक्रिय हो रहा है। वन माफिया बेखौफ पेड़ों पर कुल्हाड़ी चला रहा है। यही नहीं, वन माफिया पेड़ों को काटकर उसकी तस्करी भी कर रहे हैं। राज्य में विस्तृत....

September 5th, 2015

 

अध्यापकों ने अपने बूते बना दिखाया सपनों का स्कूल

अध्यापकों ने अपने बूते बना दिखाया सपनों का स्कूलरिकांगपिओ— स्मार्ट क्लास रूम..डायनिंग टेबल पर मिड-डे मील..और व्हाट्सएप पर होमवर्क। सोचिए! अगर ऐसा हिमाचल के सरकारी स्कूल में हो तो फिर क्या बात होगी। नहीं न…यकीन मानिए, ऐसी शुरुआत हो चुकी है और स्कूल का नाम है राजकीय प्राथमिक पाठशाला थापा सारिग। किन्नौर जिला मुख्यालय रिकांगपिओ से 40 किलोमीटर दूर समुद्रतल से करीब चार हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित शिक्षा का यह मंदिर हिमाचल के तमाम सरकारी स्कूलों के लिए मिसाल बन गया है। शिक्षक दिवस के पावन […] विस्तृत....

September 5th, 2015

 

अंदर का शिष्य जिंदा रखें गुरुजन

अंदर का शिष्य जिंदा रखें गुरुजनशिमला – प्रदेश विश्वविद्यालय के विधि संकाय में शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर शिक्षक दिवस मनाया गया। इस दौरान कुलपति प्रो. एडीएन बाजपेयी ने हिमाचल प्रदेश के शिक्षक वर्ग को शिक्षक दिवस (गुरु उत्सव) विस्तृत....

September 5th, 2015

 
Page 1 of 512345

पोल

क्या हिमाचली विधायकों पर ‘काम नहीं तो वेतन नहीं’ नियम लागू होना चाहिए?

View Results

Loading ... Loading ...