Divya Himachal Logo Jun 29th, 2016

प्रादेशिक समाचार


लाजवाब प्रोजेक्ट से रोशन हो रहा एनआईटी हमीरपुर

NEWSहमीरपुर— हिमाचल में सौर व पवन ऊर्जा के प्रोजेक्ट से विद्युत संकट हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगा। एनआईटी हमीरपुर की एक छात्रा ने सूरज की किरणों और प्रदेश की हवाओं को कैद कर एक ऐसा मिश्रित प्रोजेक्ट तैयार कर सबको चौंका दिया है। पश्चिम बंगाल की सुनंदा सिन्हा ने प्रयोग के तौर पर यह पहला छह किलोवाट का प्रोजेक्ट एनआईटी हमीरपुर में स्थापित किया है। इसमें पांच किलोवाट विद्युत का उत्पादन विंड पावर से तथा एक किलोवाट सौर ऊर्जा से हो रहा है। अहम है कि दिन के समय यह प्रोजेक्ट सूर्य की किरणों से विद्युत उत्पादन कर रहा है। शाम चार बजे से लेकर रात दो बजे तक विंड पावर से बिजली पैदा हो रही है। एनआईटी में स्थापित किए गए इस प्रोजेक्ट से एनर्जी डिपार्टमेंट के पूरे भवन को दिन-रात विद्युत आपूर्ति हो रही है। इस शानदार सफलता के बाद सुनंदा सिन्हा के प्रोजेक्ट के अध्ययन के लिए सात जुलाई को देश-विदेश के विशेषज्ञ एनआईटी आ रहे हैं। इस दौरान सुनंदा सिन्हा अपने इस प्रोजेक्ट की पे्रजेंटेशन देंगी। इस प्रोजेक्ट में पीएचडी करने वाली सुनंदा सिन्हा की काबिलीयत के दम पर उसे अब एनआईटी में एनर्जी डिपार्टमेंट का फैकल्टी नियुक्त कर लिया है। सुनंदा सिन्हा का कहना है कि वह कोलकाता शहर की रहने वाली हैं और वर्ष 2011 में उन्हें एनआईटी हमीरपुर में  एन्वायरनमेंट एनर्जी एंड साइंस टेक्नोलॉजी में सीट मिली। तब से लेकर पिछले छह सालों तक उन्होंने इसी प्रोजेक्ट पर काम कर यह सफलता हासिल की है। सुनंदा सिन्हा ने स्टडी आफ पीवी  विंड हाईब्रिड सिस्टम इन पश्चिम हिमालयास के शीर्षक से यह प्रोजेक्ट तैयार किया है। छह वर्षों के कड़े अध्ययन के बाद इस प्रोजेक्ट ने हिमाचल के लिए सबसे बड़ी आस जगाई है। हालांकि विंड प्रेशर सबसे ज्यादा समुद्री इलाके में रहता है, लेकिन वहां सूरज की किरणें प्रभावशाली नहीं होती। हिमाचल में सूरज तथा हवाएं दोनों बेहतर हैं।

पूरे हिमाचल के लिए प्रोजेक्ट कारगर

सुनंदा सिन्हा ने अपनी प्रोजेक्ट रिपोर्ट में हिमाचल के सभी बारह जिलों का अध्ययन किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जनजातीय क्षेत्र भरमौर, किन्नौर तथा लाहुल-स्पीति में सोलर एंड हाईब्रिड सिस्टम के प्रोजेक्ट सबसे कामयाब हैं। इन क्षेत्रों में ऊर्जा तथा हवा के  मिश्रण से तैयार होने वाले प्रोजेक्ट कबायली क्षेत्र की आर्थिकी में कमाल कर देंगे। इसके अलावा कांगड़ा, ऊना, हमीरपुर, मंडी, कुल्लू तथा शिमला में भी इन प्रोजेक्टों के सफल परिणाम आएंगे।

बिजली पैदा करने को आदर्श परिस्थितियां

प्रोजेक्ट रिपोर्ट में कहा गया है कि हिमाचल प्रदेश में औसतन 2.5 मीटर प्रति सेकेंड की रफ्तार से हवाएं चलती हैं। विंड पावर प्रोजेक्ट के लिए 1.5 मीटर प्रति सेकेंड हवा की आवश्यकता होती है। राज्य के अधिकतर हिस्सों में रात के समय पांच से नौ मीटर प्रति सेकेंड की रफ्तार से चलने वाली हवाएं अधिकतम मात्रा में बिजली का उत्पादन करने में सक्षम हैं। इस तरह कहा जाए तो हिमाचल में इस प्रोजेक्ट के लिए आदर्श परिस्थितियां हैं।

June 29th, 2016

 
 

एचआरटीसी ने कबाड़ बनने के लिए छोड़ी पौने दो करोड़ की बसें

एचआरटीसी ने कबाड़ बनने के लिए छोड़ी पौने दो करोड़ की बसेंमंडी —  पिछले वर्ष धर्मपुर बस अड्डे पर सात अगस्त की रात को आई बाढ़ के जख्म अब तक नहीं भर नहीं सके हैं। बाढ़ में बस अड्डे और लोगों की संपत्ति को करोड़ों का नुकसान पहुंचने के बाद आपदा प्रबंधन के नाम पर सिर्फ […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

आउटसोर्सिंग पर दौड़ेंगी एचआरटीसी टैक्सियां

आउटसोर्सिंग पर दौड़ेंगी एचआरटीसी टैक्सियांशिमला —  हिमाचल प्रदेश पथ परिवहन निगम राज्य के विभिन्न शहरों में अब आउटसोर्सिंग पर टैक्सियां चलाने की तैयारी कर रहा है। वरिष्ठ नागरिकों व पर्यटकों की सहूलियत के लिए चलने वाली इन टैक्सियों को निजी क्षेत्र के लिए एक वर्ष के कांट्रैक्ट पर दिया […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

पठानकोट-मंडी फोरलेन पर काम शुरू

पठानकोट-मंडी फोरलेन पर काम शुरूधर्मशाला —  राष्ट्रीय राजमार्ग पठानकोट-मंडी को फोरलेन बनाने की प्रक्रिया पर काम शुरू हो गया है। केंद्र व प्रदेश की टीमों के समन्वय के बाद इस महत्त्वाकांक्षी परियोजना के लिए पहले चरण में 43 किलोमीटर सड़क पर भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हो रही है। […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

नगरोटा का डाक्टर लूटा

नगरोटा का डाक्टर लूटानगरोटा बगवां – मोबाइल फोन के माध्यम से टेलीशॉपिंग का झांसा देकर आम लोगों को ठगने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा।  टेलीशॉप दिल्ली का हवाला देकर जालसाजों ने इस बार नगरोटा बगवां के एक नामी डाक्टर तथा कांग्रेसी  नेता को अपना शिकार […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

नहीं रहे पूर्व सांसद मेजर जनरल विक्रम सिंह

नहीं रहे पूर्व सांसद मेजर जनरल विक्रम सिंहऊना —  हिमाचल प्रदेश पूर्व सैनिक निगम के सीएमडी व पूर्व सांसद मेजर जनरल विक्रम सिंह (रि.) का मंगलवार सुबह सोलन में निधन हो गया। वह 87 वर्ष के थे। दो महीने से अस्वस्थ चल रहे विक्रम सिंह का फोर्टिस अस्पताल मोहाली में उपचार चल […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

19 प्रिंसीपल चार्जशीट

19 प्रिंसीपल चार्जशीटशिमला — 10वीं और 12वीं की कक्षाओं में खराब रिजल्ट के लिए जिम्मेदार शिक्षकों और प्रिंसीपलों के खिलाफ शिक्षा विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। पहले चरण में 0 से 20 फीसदी रिजल्ट वाले 19 प्रिंसीपलों को चार्जशीट किया विस्तृत....

June 29th, 2016

 

आबकारी नीति पर हाई कोर्ट की मुहर

आबकारी नीति पर हाई कोर्ट की मुहरशिमला— हिमाचल सरकार द्वारा बनाई गई नई आबकारी नीति पर हाई कोर्ट ने मुहर लगा दी है। न्यायाधीश तरलोक सिंह चौहान और न्यायाधीश संदीप शर्मा की खंडपीठ ने आबकारी नीति और नियमों को चुनौती देने वाली याचिकाओं को खारिज करते हुए व्यवस्था दी कि एल-1 […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

हाई कोर्ट पहुंचा एसडीएम आफिस मामला

हाई कोर्ट पहुंचा जंजैहली एसडीएम आफिस मामला थुनाग —  सराज विधानसभा क्षेत्र के जंजैहली में खोले गए एसडीएम कार्यालय का मामला अब हाई कोर्ट पहुंच गया है। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने करीब एक साल पहले की एसडीएम कार्यालय जंजैहली की घोषणा की थी, जिसे लेकर […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 

मंजूरी को भेजा धौलाधार एक्सप्रेस-वे प्रोपोजल

धर्मशाला —  धौलाधार की हसीन वादियों के बीच पहाड़ी क्षेत्र कुल्लू से चंबा को जोड़ने वाले नए प्रस्तावित धौलाधार एक्सप्रेस-वे के निर्माण का प्रोपोजल लोक निर्माण विभाग ने तैयार कर लिया है। धौलाधार की पहाडि़यों के साथ होकर गुजरने वाले इस मार्ग के निर्माण पर […] विस्तृत....

June 29th, 2016

 
Page 1 of 612345...Last »

पोल

क्या हिमाचल में भी संसदीय सचिवों के पद खत्म होने चाहिए?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates