Divya Himachal Logo Jun 29th, 2017

हिमाचल फोरम


जीएसटी के विरोध मेें हिमाचली व्यापारी

देशव्यापी बंद के समर्थन में शामिल होने का ऐलान, कपड़ा कारोबारी सबसे आगे

शिमला— पहली जुलाई से लागू होने जा रहे जीएसटी के खिलाफ 30 जून को पूरा भारत बंद किया जा रहा है। हिमाचल प्रदेश में भी बंद का ऐलान किया गया है। यहां पर व्यापारी वर्ग को बंद रखने के लिए निर्देश आ गए हैं,जिस पर सभी जिलों में यह सूचना भेज दी गई है। जीएसटी का विरोध करने वाला सबसे प्रमुख कपड़ा व्यापारी है। कपड़े पर पहले टैक्स नहीं लगता था,जिस पर अब टैक्स लगा दिया गया है,जिससे ये लोग नाराज हैं। इसके साथ पहाड़ी राज्यों में व्यापारियों पर टर्न ओवर को लेकर तय किए गए मापदंडों  में भिन्नता है जिसका हिमाचल प्रदेश में भी विरोध किया जा रहा है। इसके अलावा जीएसटी के तहत टैक्स पेमेंट में डिफाल्टर रहने वाले को सजा का प्रावधान रखा गया है। इस पर व्यापारियों का सबसे बड़ा विरोध है। शिमला व्यापार मंडल के प्रधान इंद्रजीत सिंह का कहना है कि  इन सभी मामलों में जीएसटी में हम लोग सुधार चाहते हैं और अपनी बात को भी इसमें शामिल करवाना चाहते हैं। ऐसा होता है तो व्यापारी इसका समर्थन करेंगे अन्यथा हिमाचल में भी इसका कड़ा विरोध किया जाएगा।

इसलिए पहाड़ में है विरोध

हिमाचल प्रदेश की बात करें तो यहां पर व्यापारियों ने इस बंद में शामिल होने का ऐलान किया है। इनका विरोध है कि जो मापदंड व्यापारियों के लिए दूसरे राज्यों में रखे गए हैं, वैसे हिमाचल में नहीं है जबकि एक देश एक टैक्स की बात की जा रही है तो इसमें व्यापारियों पर अलग-अलग मापदंड क्यों। पंजाब में 20 लाख से ऊपर का व्यापार करने वालों को पंजीकरण जरूरी किया गया है जबकि हिमाचल प्रदेश में 10 लाख से ऊपर का कार्य करने वालों को पंजीकरण करवाना जरूरी बनाया गया है। इसके साथ लम-सम टर्न ओवर में हिमाचल में 50 लाख से ऊपर के कारोबारी को लाया गया है, जबकि पंजाब में 75 लाख से ऊपर वाले व्यापारी को रखा गया है।

व्यापारियों का यह है आरोप

प्रदेश के व्यापारियों का कहना है कि उन्हें अभी तक यह ही पता नहीं है कि वह इन्वायस कैसे भरेंगे और स्टॉक का रिकार्ड कैसे रखेंगे। साथ ही डिस्काउंटिड बिल को लेकर भी कुछ पेचिदगी है। ऐसे में उनका कहना है कि विभाग की ओर से उन्हें जीएसटी को लेकर जागरूक नहीं किया गया है। ये भी कारण हैं कि व्यापारी विरोध कर रहे हैं।

भारत मैट्रीमोनी पर अपना सही संगी चुनें – निःशुल्क रजिस्टर करें !

June 29th, 2017

 
 

पहले बताओ तो सही! जीएसटी है क्या

हिमाचली कारोबार में आजकल एक ही नाम की चर्चा है – जीएसटी। जीएसटी का सीधा सा मतलब है एक देश एक ही कर। इसके बारे में ज्यादा न तो कारोबारियों को पता है और न अधिकारी बताते हैं। स्थिति स्पष्ट नहीं है। व्यापारियों को जीएसटी […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

पहले बताओ तो सही! जीएसटी है क्या

हिमाचली कारोबार में आजकल एक ही नाम की चर्चा है – जीएसटी। जीएसटी का सीधा सा मतलब है एक देश एक ही कर। इसके बारे में ज्यादा न तो कारोबारियों को पता है और न अधिकारी बताते हैं। स्थिति स्पष्ट नहीं है। व्यापारियों को जीएसटी […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

जीएसटी…प्रोफिट कम, टेंशन ज्यादा

पहली जुलाई से देश भर में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने जा रही केंद्र सरकार बेशक इसके लिए तैयार हो, लेकिन व्यापारी वर्ग इसके लिए बिलकुल तैयार नजर नहीं आ रहा है। मजेदार बात यह है कि जीएसटी को लेकर फैली भ्रांतियों को […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

जीएसटी पर… टेंशन…सिर्फ टेंशन

पहली जुलाई से देश भर में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने जा रही केंद्र सरकार बेशक इसके लिए तैयार हो, लेकिन व्यापारी वर्ग इसके लिए बिलकुल तैयार नजर नहीं आ रहा है। मजेदार बात यह है कि जीएसटी को लेकर फैली भ्रांतियों को […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

जीएसटी…टेंशन, टेंशन और सिर्फ टेंशन

पहली जुलाई से देश भर में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने जा रही केंद्र सरकार बेशक इसके लिए तैयार हो, लेकिन व्यापारी वर्ग इसके लिए बिलकुल तैयार नजर नहीं आ रहा है। मजेदार बात यह है कि जीएसटी को लेकर फैली भ्रांतियों को […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

व्यापारी कंफ्यूज… जीएसटी है क्या बला

हिमाचली कारोबार में आजकल एक ही नाम की चर्चा है – जीएसटी। जीएसटी का सीधा सा मतलब है एक ही कर। इसके बारे में ज्यादा न तो कारोबारियों को पता है और न अधिकारी बताते हैं। स्थिति स्पष्ट नहीं है। व्यापारियों को जीएसटी नंबर भी […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

जीएसटीः जनाब! पता तो चले है क्या

हिमाचली कारोबार में आजकल एक ही नाम की चर्चा है – जीएसटी। जीएसटी का सीधा सा मतलब है एक ही कर। इसके बारे में ज्यादा न तो कारोबारियों को पता है और न अधिकारी बताते हैं। स्थिति स्पष्ट नहीं है। व्यापारियों को जीएसटी नंबर भी […] विस्तृत....

June 29th, 2017

 

पोल

क्रिकेट विवाद के लिए कौन जिम्मेदार है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates